मैं विनय कुशवाहा ‘विश्वासी’ देवरिया (उत्तर प्रदेश) का निवासी हूँ। मैं अभी कवि जैसा बनने की कोशिश कर रहा हूँ।

चेहरे पर न रखता हूँ  कभी मैं उदासी।
देवरिया उत्तर प्रदेश का हूँ मैं निवासी।
नाम तो है  मेरा विनय कुशवाहा मगर,
प्यार से लोग कहते हैं विनय विश्वासी।

तीन साझा काव्य-संकलनों ( युगमंच,नवांकुर, मंजुल) में छोटा सा योगदान रहा है।

Copy link to share

जीवन मंत्र

आगे बढ़ने की सदा , करते रहो प्रयास। हासिल होगा लक्ष्य भी,मत छोड़ो तुम आस।।१२८।। छोटा तो होता नहीं, कोई भी हो काम। चित्त... Read more

सुख के साथी

सुख में सब तो रहते हैं। अपना मुझको कहते हैं। दुख में पर पास न आयें। घर में अपने छुप जायें। अब मैं सब जान गया हूँ। सबको प... Read more

करें सम्मान हिंदी का

हमारे देश में अब तक,हुआ अपमान हिंदी का। नहीं करता यहाँ कोई, कभी गुणगान हिंदी का। लड़ाई है बहुत लंबी, बने यह राष्ट्र की भाषा- दि... Read more

हमारी हिंदी

हिंदी की जो करें साधना, माँ हिंदी के वे रक्षक हैं। नये जमाने का दिखने को, कुछ जन हिंदी के भक्षक हैं। हिंद देश का... Read more

हिंदी हैं हम

हमारी आन है हिंदी, हमारी शान है हिंदी। हमारी रूह है हिंदी, हमारी जान है हिंदी। मरें भी हम तो हिंदी से,जिएँ ... Read more

राम नाम

राम नाम का बोल, अमृत रस घोले। जीवन के सब बंद, द्वार को खोले। होता जग कल्याण,सभी दुख मिटते। नहीं बला ये आज, सामने टिकते।... Read more

आ गले मुझको लगाओ

2122 2122 2122 2122 जाँ न जाओ लौट आओ, यूँ न तनहा छोड़ जाओ। क्यों खफ़ा हो इस तरह तुम,बात क्या मुझको बताओ। मानता हूँ भू... Read more

आज के दोहे

पर धन की इच्छा कभी,नहीं करो जी आप। पर धन की इच्छा सदा, होता है जी पाप।।१२२।। जो कुछ धन है आपका, वही रहेगा साथ। पर धन तो टि... Read more

नैनों के इशारे

221 2122 221 2122 ये नैनों के इशारे, मुझको न मार डाले। दे बख़्श जान मेरा, कातिल नज़र हटा ले। दिल हार मैं गया हूँ,बस एक ही... Read more

याद आदमी की

अब कौन ये सुने जी, फरियाद आदमी की। विश्वास पर टिकी है, बुनियाद आदमी की। यह देह तो चली जो,उस लोक की तरफ को- पर पास रहती हरदम,... Read more

सियाराम

हम द्वार खड़े कबसे, हे नाथ चले आओ। ले मातु सिया को भी, अब साथ चले आओ। करते हैं भजन निशि दिन,विनती ये सुनो सबकी- कोद... Read more

जय माँ सरस्वती

शरण में हम तुम्हारे हैं, दया का दान माँ दे दो। करें सेवा तुम्हारी ही, यही वरदान माँ दे दो। भटकते हैं जहाँ में हम,मिटा दो... Read more

जब दिल से दिल का मिलन हुआ

जब मिलने को घण्टों बैठा, तब समझा इंतजार क्या है? जब दिल से दिल का मिलन हुआ,तब ये जाना कि प्यार क्या है? रहकर संग त... Read more

माँ की ममता

माँ तो ममता की मूरत है, उसके जैसा है कौन यहाँ? माँ के आँचल के सुख जैसा, सुख मिलता है कब किसे कहाँ? माँ का दुलार पा... Read more

उर में बस गए राम मेरे

उर में बस गए राम मेरे, अब दर्शन हर पल करता हूँ। प्रभु दर्शन की अमूल्य निधि से, मैं अपनी झोली भरता हूँ। रखवारे जब से राम हु... Read more

ध्वजा प्रेम का ये बढ़ाते चलो

किसी को कभी भी रुलाना नहीं। कभी यार रूठे मनाना वहीं। हुई जो खता तो बताते चलो। ध्वजा प्रेम का ये बढ़ाते चलो। Read more

तुम्हें अब लाज कैसी है

छिपाया था जिसे अब तक,मुहब्बत आज कैसी है। कभी थे सख्त इतने तुम, मधुर आवाज कैसी है। लिया जो मान अपना ही, निकलकर सामने आओ- कहो अ... Read more

मिली है हार अपनों से

जिसे समझा कि अपना है,हुआ वो तो पराया है। लिया था संग जिसको मैं,वही वर्षों फिराया है। सरलता से भरा जीवन,सदा अविजित रहा हूँ मैं- ... Read more

चलो आज से बात होगी नहीं

चलो आज से बात होगी नहीं। कभी भी मुलाकात होगी नहीं। तुम्हारे बिना भी कटे जिंदगी। करूँगा नहीं मैं कभी बंदगी। तुझे मैं कभी... Read more

अब उठ भी जाओ प्यारे

सूरज से चली लालिमा। बीती है रात्रि कालिमा। पेड़ों पर पंछी बोले। ये पवन मगन हो डोले। सबको बुलाएँ दिशाएँ, सभी ओर शोर ... Read more

मेरे राम

सकल देश भर में,हरेक घर घर में, राम नाम का ही बस,उद्घोष सुनाई दे। बच्चे हों चाहे जवान,खड़े सभी ले कमान, सब में ही हमको तो,राम ही ... Read more

दिवस ये खास आया है

चलो खुशियाँ मनाएँ हम,दिवस ये खास आया है। मिली स्वाधीनता इस दिन,नया अहसास आया है। गगन में झूमकर अपना, लहरता है तिरंगा ये- इ... Read more

तिरंगा

तिरंगा आन है मेरी, तिरंगा शान है मेरी। तिरंगा रूह है मेरी, तिरंगा जान है मेरी। मरूँ भी तो तिरंगे पर,जियूँ भी तो तिरंग... Read more

देश हमारा आजाद हुआ

कितनों की खप गयी जवानी, कितने ही वीर शहीद हुए। निज प्राणों की आहुति दे दी, ऐसे भी लोग मुजीद हुए। इतना सब झेला तब... Read more

याद तुम्हारी आती है

शाम सहर अब तो मुझको, याद तुम्हारी आती है। खोया रहता यादों में, हर पल ही तड़पाती है। छन छन छन हरदम करती, पायल ... Read more

मिले यार तुमसे जमाने हुए हैं

मिले यार तुमसे जमाने हुए हैं। बहुत दूर जबसे ठिकाने हुए हैं। जरा पास आओ दरस तुम दिखा दो, कि तस्वीर सारे पुरा... Read more

एक गोपी की पुकार

#हाकलि_छंद श्याम भवन मेरे आओ। मन मेरा भी हर्षाओ। कभी न मैं रूप बिसारूँ। हरदम ही राह निहारूँ। आँखों में नींद नहीं... Read more

अपना मिलन

#मनमोहन_छंद तुमसे ही लड़, गया नयन। खुशी से खिला,मन उपवन। चलो सुना दो, मधुर वचन। हो जाऊँ मैं , मस्त मगन। मुझको अपना, ... Read more

राम मंदिर निर्माण

नगर का घाट दीपों के, उजाले से नहाया है। सजी हैं फूल से गलियाँ,खुशी का प्रात आया है। हुआ ऐलान जब से है, शुरू निर्माण म... Read more

प्रभु राम

आज का दोहा ,दिनांक - ०४/०८/२०२० आओ सब मिलकर चलें,आज राम के धाम। मुख पर सबके ही रहे, राम - राम का नाम।।९९।। राम भजन करते रहे... Read more

राखी

बहना की सुंदर राखी से,शोभित हुआ कलाई। मन मेरा प्रफुल्लित हुआ जब,माथे तिलक लगाई। जीवन भर उसके रक्षा का, उसे दिया है वादा... Read more

अजब सी चाहत

बताओ बात क्या है जो,अभी मुझसे छिपाते हो। मुझे यूँ तंग करके तुम, हमेशा मुस्कुराते हो। तुम्हारे प्यार करने का, अजब ही ये ... Read more

प्यार जताओ

#भुजंग प्रयात छंद कहाँ जा रहे हो मुझे भी बताओ। मुझे संग ले लो अकेले न जाओ। सदा साथ दोगे, दगा तो न दोगे- तुम्हें प्यार है ... Read more

ईश्वर सत्य है

#सार_छंद राम राम भज ले रे प्राणी, जीवन तर जाएगा। प्रभु के श्री चरणों में आकर,दोष सुधर जाएगा। उर आँगन में साँझ ... Read more

करोगे क्या हजारों का

ज़रा समझा करो मतलब, सनम मेरे इशारों का। निकल जाए नहीं फिर से,कहीं मौसम बहारों का। इधर भी हैं उधर भी हैं , तुम्हारे चाहने ... Read more

प्यार से डर है

नहीं प्रतिकार से डर है,नहीं इनकार से डर है। नहीं तकरार से डर है,नहीं ललकार से डर है। कहूँ भी क्या भला मैं अब,मुझे क्या है पर... Read more

ख़ुदा की रहमत

दुआ ये आपकी हरदम, हमारे काम आई है। मिली है आप ही से तो,ख़ुशी जो आज छाई है। हुए थे दूर कितने हम, नहीं था संग कोई भी- ख़ुदा क... Read more

कली खिलती नहीं यारों

दवाई इश्क़ की जग में, कहीं मिलती नहीं यारों। बने जो ज़ख्म गर दिल पर,कहीं सिलती नहीं यारों। मुहब्बत की डगर में तो, मिले दुश... Read more

इंसान और प्रकृति

इंसान को किस बात का गुमान है। हर बात में रखता झूठी शान है। नित्य बदल रहा प्रकृति के नियमों को, क्यों खुद से ही बन चु... Read more

सावन के झूले

सुपर्वों में भले ही अब, खुशी से हम सभी फूले। नहीं है याद सावन की, ये कजरी गीत भी भूले। बहे पुरवा पवन मद्धम,पड़े रिमझिम फुहारें भ... Read more

रातें कटती नहीं

चेहरे से नज़र तेरे हटती नहीं। चाहतें तुमसे मिलने की घटती नहीं। छोड़कर अब मुझे तुम न जाओ कभी- रातें तेरे बिना य... Read more

दीदार कर लो तुम

बधाई दे रहा हूँ मैं, इसे स्वीकार कर लो तुम। नहीं हूँ तोहफा लाया, मुझे दो-चार कर लो तुम। ठिकाना जिंदगी का क्या, करो दो प्या... Read more

जय शिव शंकर

जय हो शिव शंकर, आये हैं हम तेरे दर। नाम है महाकाल, काल भी माने डर। दुःख - संकट सब, प्रभु लो अब हर। माफ करो हे प्... Read more

बेरोजगारों का दर्द

न समझे दर्द कोई भी कभी बेरोजगारों का। मिले उनको नहीं यारों, कहीं मौसम बहारों का। व्यथा क्या है सबब क्या है न कोई पूछने आता... Read more

हैसियत

किसी की हैसियत को देख गर तुम प्यार करते हो। मुझे लगता कि जैसे अब, ये तुम व्यापार करते हो। बिना मंजिल की राहों में, भटकते हो किधर ब... Read more

चुनाव होना चाहिए

जनता को रोटी नहीं,मिलता न रोजी कहीं, कागजी नौकरी का बहाव होना चाहिए। सब कुछ मिट जाए, देश चाहे लुट जाए, कुर्सी का उनके ... Read more

छटा भू की निराली है

फुहारे पड़ रहे रिमझिम, घटा ये छायी काली है। लिपटकर जल की बूंदों से,झुकी पेड़ों की डाली है। उमस से है मिली राहत, कृषक भी गा रहे... Read more

खुशी फिर लौट आएगी

सुनहरे ख़्वाब से केवल, नहीं बन बात पाएगी। करो जो मेहनत मन से, तो किस्मत जाग जाएगी। कभी मायूस मत होना, बदलते जिंदगी ... Read more

एक ख़्वाहिश

लबों को चूम लूँ तेरे,गले तुमको लगा लूँ मैं। अलख ये प्रेम की जानम,जरा दिल में जगा लूँ मैं। दरस अपना मुझे दे दो, नहीं अब दू... Read more

यूँ बाहर मत घूमिए

लॉक डाउन हटा है,संकट नहीं घटा है, बिना मतलब के ही, हाट मत घूमिए। खुद को रखें जी साफ,घर पर नहाइए, नदी किनारे जाकर, घाट मत घू... Read more