शिक्षा – एम. ए. अंग्रेजी साहित्य

Copy link to share

मैं घर का बड़ा लड़का हूँ...

मैं घर का बड़ा लड़का हूं, जानता सब हूं पर कुछ कहता नहीं, बहुत सी जिम्मेदारियां है मुझ पर, चूंकि उमर हो चुकी है पापा की, घर का खर... Read more

सम्हल के रहना बाबू...

सम्हल के रहना बाबू... सम्हल के रहना बाबू यहां यह है अपना देश, पहचान किसी को नही पाओगे, क्या है किसका भेष, कौन है नेता कौन क... Read more