Chandra Shekhar

Varanasi

Joined April 2017

Chandra Shekhar Banka Bihar
@Thechaand

Copy link to share

मेरे मीत

*मेरे मीत* मेरे हमनवा मुझसे रूठे हुए हैं, पता नही क्यूँ वो मुझसे टूटे हुए हैं। जब भी ख्यालात आते हैं उनके, लगता है सितारा-ए-... Read more

तुम और मैं

तुम थे कहीं या तुम थे यहीं, भूला नही मैं,जब तुम थे वहीं, तुम तराशे गए,मैं बिखरता गया, पर मैं था जहाँ, आज भी हूँ वहीं । तुम त... Read more

💓 पांच बोतल 💓

पांच बोतल 😂😂😂😂😂 "Belated Teachers Day" राजस्थान के रेगिस्तान में पांच बोतलें बैठकर आपस में गपशप कर रहे थे उनमें से एक अखबार पढ़ रह... Read more

मासूम जिन्दगी

🌹🌹॥ मासूम जिन्दगी ॥🌹🌹 सोचता हूँ कब से जिन्दगी को खुली किताब बनाऊं, जो अर्द्धलिखित मुड़े पन्ने है उसे सामने तो लाऊं । जब थरथ... Read more

डायरी v/s जीवन

************डायरी V/S जीवन********** आप जीवन के दिनचर्या का डायरी के साथ एक प्रयोग कर सकते हैं। आप एक डायरी लिजिए और अपने दैनिक का... Read more

माँ

जीवन के उलझे डोरों को जब तुम ना समेट पाओ, तब डोर के एक छोर को मां को थमा देना। दुख के उठते बवंडर को जब तुम ना समेट पाओ, तब लवों क... Read more

यूँ ही .......

यूं ही........ यह एक ख्वाब हैं , जो वर्षों से दबी हैं, खोलने की कोशिश करूं तो आंसू आ जाते हैं। समय नही हैं कि यकीन दिलाउं तुम्हें... Read more

ये शहर

🥀🥀🥀🥀 🌱 ये शहर 🌱⚘⚘⚘⚘ ये शहर हैं कि यहाँ सवेरा नही होता, सूरज तो ढलती है पर अंधेरा नही होता। हवा हैं,पानी हैं पर वो ता... Read more

मन की पीड़ा

.......... मन कि पीड़ा......... कितनी दूरियां बड़ चुकी है.... एक छोटे से सफर में.. अभी तो मंजिलों कि लालिमा ही दिखा है....... Read more

प्यार की अधूरी सुगबुगाहट

..."प्यार की अधूरी सुगबुगाहट"... ? तुम आए थे कि एक बड़ी उम्मीद जगी थी. उड़ेलना शुरू कर दिया था मैने, अब तक जमे तरूण प्यार की गाढ... Read more