नाम – तेजवीर सिंह
उपनाम – ‘तेज’
पिता – श्री सुखपाल सिंह
माता – श्रीमती शारदा देवी
शिक्षा – एम.ए.(द्वय) बी.एड.
रूचि – पठन-पाठन एवम् लेखन
निवास – ‘जाट हाउस’ कुसुम सरोवर पो. राधाकुण्ड जिला-मथुरा(उ.प्र.)
सम्प्राप्ति – ब्रजभाषा साहित्य लेखन,पत्र-पत्रिकाओं में रचनाओं का प्रकाशन तथा जीविकोपार्जन हेतु अध्यापन कार्य।

Copy link to share

हे राम! तुम्हीं जनमानस में, उर अन्तस के नारायण हो...

🌴🌹🌻🌺🌼🌺🌼🌹🌻🌴 निर्मल मन भाव साधना का, पूजा प्रतिफल पारायण हो। हे राम! तुम्हीं जनमानस में, उर अन्तस के नारायण हो। कोमल हृदयों की ... Read more

यह संकल्प हमारा हो.....

🇮🇳 यह संकल्प हमारा हो...🇮🇳 🇮🇳🌷🇮🇳🌷🇮🇳🌷🇮🇳🌷🇮🇳 मातृभूमि की रज मस्तक पर, इंकलाब का नारा हो। विश्व गुरू हो भारत प्यारा, यह... Read more

प्यारा भारत देश हमारा.....

🌹🌻 गीत 🌻🌹 🌴🌹🌻🌺🌼🌹🌻🌺🌼🌴 प्यारा भारत देश हमारा, है वीरों की खान। हिंदी हिंदू हिंद धरा की, आज बने पहचान। नमन पावन संस्कृति को ... Read more

स्वागत गान

बार बार आभार आपका, खोल हृदय के द्वार। स्वागत अतिथिदेव करें हम, वन्दन बारम्बार।। मिला आपका दर्श हमें भी, खुल गये भाग हमारे। हम ब... Read more

अलविदा २०१८

🌹🌻 "अलविदा २०१८" 🌻🌹 🌴🌹🌻🌺🌼🌻🌹🌺🌼🌴 देख रहे हैं धरती अम्बर, फिर से गुजरा एक दिसम्बर। चूल्हा बुझा पतीली खाली, तन मन जी... Read more

#विरोधाभाषी परिभाषाएं

?? विरोधाभाषी परिभाषाएं ?? ?????????? *वो दाता हम दीन हो गए, ज्यों भारत को चीन हो गए।* *रसगुल्लों के बीच सड़ी-सी, हम कड़वी नमकीन ... Read more

? राधे जू पधारौ.....भजन

?? ''राधे जू पधारौ..... भजन'' ?? तर्ज- सावन का महीना ?????????? राधे जू पधारौ जमुन तट ओर 'दर्श आपके पाए तौ नाचे मन का मोर।' ... Read more

? मातृभूमि वंदन...

मेरे प्यारे वतन....??? ?????????? मेरे प्यारे वतन तुझको शत-शत नमन। ओ महकते चमन तुझको शत-शत नमन। मेरे प्यारे वतन..... तेरे प... Read more

? माँ ?

? माँ ? ?? गीत ?? ?तर्ज- तुझे सूरज कहूँ या चन्दा..... जग में सब शीशमहल सा माँ होती सच्चा मोती। सुख-दुःख सहकर जो पाले वह तो क... Read more

प्रेम गरल का प्याला.....

?? गीत ?? ?????????? जान-बूझकर पी बैठे हम प्रेम-गरल का प्याला जी। *पत्थर से टकराके दिल को पत्थर ही कर डाला जी।* मन्दिर मस्जिद ... Read more

पथिक तुम चलते रहना रे!

?पथिक तुम चलते रहना रे! ?????????? पथिक तुम चलते रहना रे! रस्ता रोकें विकट हवाएँ। चारों ओर घोर तम छाए। मौसम कितना भी भरमाए। ... Read more

? बेटी का चिंतन ?

???बेटी का चिंतन ??? ?????????? जीवन की पुस्तक में ढूंढे रिश्तों की परिभाषा। *बेटी* बनना चाहे सबके जीवन की अभिलाषा। पाती है चं... Read more

?? हास्य ? गीत ??

?? हास्य ? गीत ?? इस *दिले नादान* ने मुझपे कहर बरपा दिया। वो मिली-बिछड़ी औ गम का टोकरा थमा दिया। फिर मिली वो बाद अरसा और हमें भ... Read more

??गीत?? ? तर्ज - तुम्हारी नजरों में हमने देखा..... ??????????…

??गीत?? ? तर्ज - तुम्हारी नजरों में हमने देखा..... ?????????? मोहक छवि के दरश को मोहन, प्यासी अंखियाँ तरस रही हैं। विरह की ब... Read more

मैं मिलन गीत लिख-लिख के गाता रहा...

?विधा - गीत ? विषय - मिलन ? ?लय - स्वतन्त्र? ?????????? अक्स दिल में बसा और लुभाता रहा। एक तूफान सा आता - जाता रहा। मेरे ख्वा... Read more

गीत-मोहक छवि के दरश को मोहन...

?विधा - गीत ? ? तर्ज - तुम्हारी नजरों में हमने देखा..... ?????????? मोहक छवि के दरश को मोहन, प्यासी अंखियाँ तरस रही हैं। विर... Read more

हास्य व्यंग्य

?? हास्य व्यंग्य ?? विधा-गीत लय-स्वतन्त्र ?विषय - ये है यूपी पुलिस.....? ?????????? बचो रोमियो वरना भर देगी भुस। ते... Read more

? ब्रज की होरी ?

?? ब्रज की होरी ?? ?????????? अरे कान्हा नै कर दई होरी, मैं पकर रंग में बोरी।...2 एक दिना धौरे-दौहपर,मेरे घर में घुस आयौ। रं... Read more