नाम – तेजवीर सिंह
उपनाम – ‘तेज’
पिता – श्री सुखपाल सिंह
माता – श्रीमती शारदा देवी
शिक्षा – एम.ए.(द्वय) बी.एड.
रूचि – पठन-पाठन एवम् लेखन
निवास – ‘जाट हाउस’ कुसुम सरोवर पो. राधाकुण्ड जिला-मथुरा(उ.प्र.)
सम्प्राप्ति – ब्रजभाषा साहित्य लेखन,पत्र-पत्रिकाओं में रचनाओं का प्रकाशन तथा जीविकोपार्जन हेतु अध्यापन कार्य।

Copy link to share

श्रीराधा स्तवन स्त्रोत्रम्

🙏 श्रीराधा स्तवन स्त्रोतम् 🙏 🌴🌹🌻🌺🌼🌹🌻🌺🌼🌴 हे परम् पुनीता श्रीराधे! नित नव नवनीता श्रीराधे!! हे पर परमेश्वरि श्रीराधे! ... Read more

ब्रजमहिमा

🌹🌻 पुनीत छंद 🌻🌹 🔧विधान - १५ मात्रा प्रति चरण, चार चरण, दो-दो समतुकांत, चरणान्त २२१ 🌴🌹🌻🌺🌼🌹🌻🌺🌼🌴 बंसी बजा रहे गोपाल। बैरन बनी स... Read more

पञ्च छंदमाला

??? आप सभी को दीपावली की सादर शुभकामनाएं एवम् बधाइयाँ ??? ?? पञ्च छंद माला ?? ?????????? ✏दोहा छंद दीप प्रज्ज्वलित कीजिए, ... Read more

सुहाग पर्व करवाचौथ

??"सुहाग-पर्व करवाचौथ"?? ?????????? 'प्रियतम' पावन प्रीत हमारी निर्मल गंगाजल सी। रहूँ 'प्रेयसी' सदा तुम्हारी आचमनी अंजल सी। ... Read more

सवैया छंद

?? मत्तगयन्द सवैया ?? ✏विधान- ७भ+गु गु ?????????? देखि रहे नैना धर धीरज, तान बजावत जू स्वर-साधा। बैन मधूमय कानन गूंजत, काटि रह... Read more

#गुरुग्राम रेयान हत्याकांड

गुरुग्राम के 7 वर्षीय अबोध की हत्या के विरोध में उपजे 'तेज-जहरीले मनोभाव।' ?????????? गुरूग्राम को किया कलंकित, शिक्षा की इक शाल... Read more

?सद्गुरु वंदन???

? "चराचर जगत के गुरु तत्व को समर्पित" ? ?? श्रीसद्गुरु वंदन ?? ?✏मत्तगयंद सवैया छंद?? ?????????? नाश करौ उर के तम कौ अब, जीवन ... Read more

#श्रीगुरुदेव वंदन???

? "श्रीगुरुदेव वंदन" ? ✏ रूपमाला/मदन छंद ✏विधान 14-10 ?????????? आपका ही आसरा है, दुख भरा संसार। ज्ञान का करके उजाला, मेट दो ... Read more

हमको चलना होगा...

?? हमको चलना होगा। ?? अभिलाषाओं के नव-पथ पर, अब हमको चलना होगा। आलोकित करने जग-जीवन, दीपक सम जलना होगा। विकट हवाएँ मग रोकेंगी, ... Read more

पाखण्ड जनित ''नारी वेदना''...

?? ''नारी की व्यथा'' ?? ?????????? संवेगों का विष पीती है, आवेशों में नित्य बहे। जीती है मर-मर के नारी, नित नैनों में नीर रहे... Read more

#पृथ्वी का भूगोल...

? पृथ्वी का भूगोल ? ???☁???☁?? समझ इसे तरबूज बड़ा-सा, पकड़ बीच से काटो। करो कल्पना और धरा को, दो भागों में बांटो। कटा हुआ तरबूज ... Read more

? जय कन्हैया लाल की...?

?? जय कन्हैया लाल की ?? ?????????? जसुदा नें पूत सपूत जनों, अज भूमि चराचर हरषाई। सुर नर मुनि सिग आनन्दित है, न... Read more

?अजन्मे कौ अवतरण....?

?? आप सभी को *अजन्मे के अवतरण* की कोटि-कोटि बधाइयाँ ?? ??✏ रास छंद ?? ?????????? भादों आधी, रात अँधेरी, घिरन लगी। कालचक्र की,... Read more

? मित्र कैसा हो?...?

?? सच्चा मित्र ?? ✏विधान-16-12(सार छंद) ?????????? मित्र बनाओ फूलों जैसे, उर की बगिया महके। मित्र बनाओ पंछी जैसे, जीवन नित-प्र... Read more

? गुरु वंदन ?

? गुरुपर्व की अनंत मङ्गल कामनाएं ? ?? पवन छंद ?? ?शिल्प~ [भगण तगण नगण सगण]? (211 221 111 112) 12 वर्ण प्रति चरण,यति{5,7... Read more

? श्री गुरु चालीसा ?

? चराचर जगत के गुरुतत्व को समर्पित ? ? श्री गुरु चालीसा ? दोहा- गणपति प्रथम मनाय कें, धर शारद कौ ध्यान। वन्दहुँ पद पंकज सरस, ... Read more

? प्रातः वंदन ?.....

?? प्रातः वन्दन ?? ???????? कोमल-सा शीतल अभिनन्दन हे नव-भोर तुम्हारा वन्दन। मिटें सकल उर के तम-क्रंदन, कृपा करो हे देवकी नन... Read more

?विचार आप कीजिये....?

?? पञ्चचामर छंद ?? शिल्प - ज र ज र ज + गु ? विचार आप कीजिये, विकास होय देश का। सुधार आप कीजिये, सुधार होय देश का। कृपा करो दय... Read more

श्रीराधे की ड्यौढ़ी.....

?? जय जय श्रीराधे ?? ?????????? कछु नेह आपकौ अद्भुत है, कछु किरपा है महारानी की। कछु सद्जन कौ सत्संग मिल्यौ, कछ... Read more

? अन्नदाता किसान..... ?

? क्षणिकाएँ ? जाड़ा गर्मी वर्षा सहके श्रम-स्वेद में नितप्रति बहके अन्न उगाकर करता दान पर-उपकारी हुआ "किसान"। ????????? तप... Read more

?हास्य-साली है फ़िल्मी चित्रहार....

???????? साली है फ़िल्मी चित्रहार, बहुरंगी-सी पिचकारी है। मदभरी चाल जब चलती है, अच्छे-अच्छों को भारी है। पत्नी तो ढोल बेसुरा स... Read more

? मातृ वंदना ?

? मातृ वंदना ? ???मधुशाला छंद??? ?????????? *माँ* ममता-मय मंत्र मोहिनी,मधुरिम मंगल मनका है। सुख-समृद्धि *शक्ति* सरूपा,सुंदर सु... Read more

⌚⌚ वक्त ⌚⌚

?? वक्त ?? ?????????? "वक्त को वक्त मिला जब भी" तब वक्त ने वक्त पे ली अंगड़ाई। वक्त पे वक्त निकाला नहीं तो वक्त से वक्त की देन... Read more

? बुद्ध पूर्णिमा की अनंत शुभकामनाएं ?

महात्मा बुद्ध धर्म नीति न्याय प्रीति के अनौखे सार को। लुंबिनी पावन हुई पाकर परम् अवतार को। जन्म माया ने दिया माँ गौतमी ने प्य... Read more

?महाराणा प्रताप जयंती?

? वीर शिरोमणि *महाराणा प्रताप जन्म दिवस* की अनंत शुभकामनाएं। ? ?? शुद्ध गीता छंद ?? ?शिल्प विधान ? प्रति चरण में 27 मात्राएँ, 1... Read more

शब्द-विद्रोह-सुकमा नक्सली हमला.....

?सुकमा (छत्तीसगढ़) में नक्सलवादियों द्वारा किये गए हमले में हुई सैन्य-क्षति का विरोध करने हेतु उपजा शब्द-विद्रोह!!!) हिन्द धरा के ... Read more

?? गौ वंदन ??

वन्दे गौ मातरम्!!! ???????? "शंकर और विष्णु बसत जाके सींगन में, उदर विशाल कार्तिकेय कौ निवास है। मस्तक में ब्रह्मा ललाट बसे रू... Read more

सेना का गौरव.....

?घाटी की विषम परिस्थिति तथा सैनिकों के अपमान का विरोध करती रचना।? ???????????????????? भारत देश महान हमारा हर कोई यहाँ स्वतन्त... Read more

क़तरा-क़तरा लहू.....

??? सैनिकों के सम्मान को समर्पित रचना ??? ???????????????????? क़तरा-क़तरा लहू टपकता *भारत माँ* की आँखों से। कलम आज अंगार उगलती... Read more

ग़ज़ल

?????????? दुश्मनी भी न हम से निभाई गई। ये नज़र जब नज़र से मिलाई गई। चाक हैं दिल-जिगर नैन में नीर है। दिल्लगी ना किसी से बताई ... Read more

शहीद दिवस

? अमर शहीदों को शत्-शत् नमन् ? ???????????????????? भगतसिंह सुखदेव राजगुरु,क्रांतिवीर निराले थे । आजादी के महा-समर में,कूद पड़े ... Read more

प्रीत का रंग भरो सजनी.....

?????????? गए बीत दिवस जाने कितने,जाने कितनी बीतीं रजनी। मेरे इस नीरस जीवन में,निज प्रीत का रंग भरो सजनी। अंतर की नीरस वादी को,... Read more

जल ही कल है

'जल' जीवन है 'जीवन-जल',कह दिया कहने वालों ने। जीवन को महफूज रखा है,अब तक पोखर-तालों ने। जल का दोहन बहुत किया है,समर पम्प के जालो... Read more

मातृभूमि वन्दन

? विश्व कविता दिवस पर *मातृभूमि वन्दन*? ?????????? जम्बूद्वीप के भरतखण्ड में, "आर्यावर्त महान" है। आज धरा पर जिसकी अपनी, एक अ... Read more

मातृभूमि वन्दन

? विश्व कविता दिवस पर *मातृभूमि वन्दन*? ?????????? जम्बूद्वीप के भरतखण्ड में, "आर्यावर्त महान" है। आज धरा पर जिसकी अपनी, एक अ... Read more

बांच लो पाती नयन की.....

बिन तुम्हारे जो गुजारी, रैन 'बेचारी' विरहन की। शब्द वर्णन को नहीं हैं, बांच लो पाती नयन की।। स्वांस का आवागमन भी, जब दुरूह लग... Read more

बेटियाँ

बेटा यदि घर-बार है,तो संसार बेटियाँ। मानव जनम में ईश का अवतार बेटियाँ। माता-पिता के प्यार का है सार बेटियाँ। वसुधा पे सीधा मोक्ष ... Read more