Yash Tanha Shayar Hu

New Delhi

Joined March 2017

‘‘तनहा शायर हूँ’’ | यश पाल सेजवाल ( जन्म 10 मार्च 1 9 80 ), अपने खुद के रखे नाम ‘‘तनहा शायर हूँ’’ से लोकप्रिय है, ये एक भारतीय कवि, गीतकार, ब्लॉगर और लघु कथा लेखक हैं। नई दिल्ली भारत में जन्मे उन्होंने facebook पेज ‘‘तनहा शायर हूँ’’ और “लघु कथा तनहा शायर हूँ ” के साथ अपने करियर की शुरुआत की ।
आप इस पर भी अनुसरण कर सकते हैं, पढ़ सकते हैं, लिख सकते हैं, और टिप्पणियां कर सकते हैं
Twitter | twitter.com/tanhashayarhu | Blogger | tanhashayarhu.blogspot.com | Website | www.tanhashayarhu.in | Instagram | tanhashayarhu | Youtube.com | Tanha Shayar hu

Books:
इन्होने देशभर के हिंदी पब्लिकेशन हाउस के साथ मिलकर लिखा है। इनकी एकल काव्य साग्रह “तनहा शायर हूँ कुछ कही कुछ कही” जो की चेन्नई से प्रकाशित हुई है जिसमें इन्होने अपने आप को एक सशक्त और सवेंदनशील लेखक के रूप में उभारा है

इनके द्वारा लिखी गई साझा काव्य संग्रह है मुंबई से “काव्य सौंदर्य” और “काव्य लहर” राजस्थान से “उजास” और “अविरल धारा “, नई दिल्ली से “आखर” और नई दिल्ली से ही “सहोदरी हिंदी ४”

Awards:
और आपको ये जानकार अति प्रन्नता होगी की इनके इस हिंदी साहित्ये की सेवा के लिए “काव्य सौंदर्य” और “सहोदरी हिंदी ४” के लिए इनको सम्मनित भी किया जा चूका है।

Copy link to share

अब मैं क्या करूँ ?

अब मैं क्या करूँ अब मैं क्या करूँ मैं सच बोलता हूँ तुम मक्कार हो तो तुम्हे मक्कार बोलता हूँ मेरी खामी बस इतनी सी तुम सवा... Read more

एक चिड़िया की ज़रूरत क्या है ?

एक चिड़िया की ज़रूरत क्या है ? एक चिड़िया की ज़रूरत क्या है ? छत पर कुछ दाने बाज़रे के, कुछ चावल के हो, चमकती गर्मियों की धु... Read more

देख लिया।

देख लिया। आग मैं जल कर देख लिया पल पल मर कर देख लिया। सब के सब यहाँ पाखंडी है हर राह पर चल कर देख लिया... Read more

आदम बदी पर

आदम बदी पर आदम बदी पर आ गया है, अपनों को भी खा गया है , सोच नहीं पता अब आदमियत आदमखोर बनना भा गया है। लूट चला अपने ही घर... Read more

खामखा ( हास्य व्यंग )

खामखा ( हास्य व्यंग ) जब तुम भीड़ में खड़ी थी तुम्हारी अदा मुझको भा गई पर मैं क्या कर सकता था तू सूंदर इतनी थी की पसंद मेर... Read more

वो शब्द है "माँ"

हर सम्मान से बड़ा होता है उसका मान हर मदिर मस्जिद से बड़ी है उसकी शान, जो जान से भी ज्यादा चाहे तुमको जो अरमान से ज्यादा पाए तु... Read more

बॉस के घर ( व्यंग )

बॉस के घर ( व्यंग ) बॉस के घर से आया नौकर लगा रहा था जब वो ठोकर गिर गिर कर जब और गिरा वो एक दहीभल्ला बना हुआ था नौकर हाँ... Read more

तुम बच्चे हो

तुम बच्चे हो तुम कल भी मेरे सामने बच्चे थे तुम आज भी मेरे सामने बच्चे हो नादानियों के तुम पुतले हो तुम कल भी कठपुतलियां ... Read more

ज्वालामुखी

ज्वालामुखी दर्द की सीमा को लांघ कर कौन है जो गम से घबराता है उसी को कहते है ज्वालामुखी जो खामोश होकर भी डर फैलता है। एक आंच... Read more

वो क्या बनाएंगे मुझको

वो क्या बनाएंगे मुझको जो अपनी तकदीर बना ना सके। वो क्या समझ पाएंगे दर्द मेरा जो रोटी का टुकड़ा गवा ना सके। वो क्या बनाएंगे... Read more

बहुत दूर से चलकर आए है

बहुत दूर से चलकर आए है उम्मीदों के खिलाड़ी।।। अब आरज़ू से लड़ रहे है, लेकर ख्वाइशों की कटारी। इसी बिच दम तोड़ डाला है एक सपने ... Read more

बचपन खेल रहा है

मेरे घर की दीवारे रंगीन है... अभी बचपन खेल रहा है, तरंगों से ये रंगों से खेलने की शौकीन है... लोग कहते है रोक लो, थोड़ा टोक लो..... Read more

खुद पर अफ़सोस

रह रहकर खुद पर अफ़सोस हुआ, चाहा ज़िंदगी से बढ़कर मैंने जिसे, जब आँखें जागी तो मैं बेहोश हुआ, अब कोई फितूर, असर क्यों करता नहीं, क... Read more

हलचलों का दौर

हलचलों का दौर चलने लगा, दिल में दबा शोर मचलने लगा, नाम था जिनका ज़ुबा पर मेरी, दर्द बनकर मेरी आँखों से निकलने लगा, बहुत कुछ सो... Read more

सोच सोच में ज़िंदगी

सोच सोच में ज़िंदगी तनहा राख़ हो गई, मैंने तो बस दो चार लिखी आप बीती, पलटकर देखा तो मेरी किताब हो गई, कुछ मासूम चेहरे कुछ गुनगुना... Read more

कुछ लोगों ने सोच लिया है

कुछ लोगों ने सोच लिया है, कितनी ही कविता कवी बन जाये, हम नंगे है नंगे ही रहेंगे, हमारा तो सजेगा बाजार यूँही, शक़ल से चंगें है च... Read more

न जन्म से न धर्म से

न जन्म से न धर्म से, इंसान बनता है अपने कर्म से, जब कभी होता है हनन कंही अधिकारों का यहां, पुकार तो पुकारती रहती है अपनी आवाज़ शर्म... Read more

सुन ले

जितने भी चालाक लोग है सुन ले, अब मैं तुम्हें सजा देना चाहता हूँ, अब यहां पर बेवजह कुछ भी नही, हर सजा की वजह देना चाहता हूँ, तु... Read more

गमदीदा हूँ

गमदीदा हूँ पर एहसास कुछ खास सा है, ऐसा लगा वो दूर नहीं, वो मेरे पास सा है, नृग की मन्नतों में एहसास जन्नतों का है, ऐसा लगा उनकी... Read more

जिनके सितारे आज बुलंदी पर है,

जिनके सितारे आज बुलंदी पर है, उनसे कह दो हम आज भी ज़मी पर है, हर एस्ट्रॉलोजर मेरे हाथ में है, तुम कैसे चलोगे वो अगली बात में है,... Read more

कच्ची डोर

कच्ची डोर से बना है ये बंधन, कंही इसे तोड़ न देना। एक किसी को बहन कहकर जो लगाओ गले, फिर उसे छोड़ न देना। इतिहास पढ़ो मोल जाने शब्... Read more

रोज एक सच लिखना

हर रोज एक सच लिखना, अब तनहा शायर का ख्वाब है, तुम्हारा आफताब दूर है तो क्या, मेरे तो पहलु में भी आग है, गर लेख बुराई रोक न... Read more

दिल में छुपा दर्द

है दिल में छुपा दर्द कंही पर, न बताना किसी को, की वो कोना कौन सा है, मन बहलाता हूँ, जिससे दुनियां से छुपकर, न बताना किसी को, वो ख... Read more

नाकाम कोशिश

जज्बों की कमी नहीं इंसान में, आज जज्बात कम पड़ गए है, चाहतें तो है आकाश को छूना, बस ख्यालात कम पड़ गए है, नाकाम कोशिश करते है र... Read more

ऐ बेरहम जिंदगी

ऐ बेरहम जिंदगी थोड़ा इंतजार कर, कुछ अधूरे काम बाकी है, तू मुझसे थोड़ा प्यार कर, मैंने देखा है, अभी नफरत काम है उनके सीने में, कुछ ... Read more

खामोशी भरी आँखें है

खामोशी भरी आँखें है, ख़ामोशी भरें उठे है कदम, शब्द ढूँढ़ते लबो को मेरे, लबों पर उनकी ख़ामोशी का सितम, एक लडख़ड़ाता शब्द आया कह... Read more

देखा जब भी पलकें उढ़ाकर

देखा जब भी पलकें उढ़ाकर, लगा तुम साथ हो.... पर्दा हटाकर, दरवाजे खोले, पुराने पेड़ को देखा, पंछी नही अब दाल पर कोई, सुबह की खुली... Read more

नज़र की बात करोगे

नज़र की बात करोगे सितमगर तो, एक राह जुड़ जाएगी, आवाज़ नही होगी दो नज़रो के बिच, ये नज़र जुड़ जाएगी, कहने को बहुत शिकवे शिकायत हों... Read more

रांहें हो हो रांहें..

रांहें हो हो रांहें.... ले जाएँगी जंहा, जायेंगे हम वंहा, दिल की पगडंडियां, जुड़ेगी अब जंहा, दिल का आशियाँ, हम बनायेंगे वंहा, ... Read more

ना करो ऐतबार

ना करो ऐतबार सनम इस दिल का, दिल की सरहद पर लिखा बग़ावत है, ईमानदार लोगो के इस जंहा में, बेईमान लोगो का, कौन जाने घर कहा है, ... Read more

उम्र का तगाजा है,

उम्र का तगाजा है, साँसों की फितरत है, दोनों ही निकल जाती है, मरहूम करके यंहा, कोई शान समझता है, कोई ईमान समझता है, खोखल... Read more

ज़िंदगी जीने की कोशिश में,

ज़िंदगी जीने की कोशिश में, ज़िंदगी जीना ही भूल गये, सितारे एक ही माँगा था, तारे चमकने ही भूल गये, मैंने तुमसे क्या मांगा, ... Read more

तुमको ख्याल बना लिया

तुमको ख्याल बना लिया, जब चाहा सामने बिठाया, तुमसे बात की, उलझा सवाल सुलझा लिया, नही कोई बंदिश, सर रखा खुदको सुला लिया, तुमको ... Read more

तुझसे मिला जो दर्द

तुझसे मिला जो दर्द तुझसे मिला जो दर्द, वो मेरी जान ही लेगा, इमान बेच रहा हु, वो मेरी आन भी लेगा, मुझको तेरी दिल्लगी, अपने खून स... Read more

रात पे नज़र है

कुछ की तो रात पे नज़र है, कुछ शहर की आवाम से बेख़बर है, कुछ नज़र मिलाते है चंदा से, सितारों की रौशनी में, खोकर बेसब्र है, कोई ... Read more

पहली सुबह हो तुम

सुना है, आकाश की पहली सुबह हो तुम, आँखों का चमकता सितारा हो, हम तुम्हे बस कहते है ज़िंदगी, दुनिया कहती है, जीने का इशारा हो तुम,... Read more

अ दिल तोड़ने वाले

अ दिल तोड़ने वाले तुझे हम याद करते है, तेरे मुस्कुराते चेहरे से हम फ़रियाद करते है, थोड़ा सा रहम खाते, मेरी मासूम मोहब्बत पर, जो चल... Read more

अब कौन मुझ पर ऐतबार करेगी

अब कौन मुझ पर ऐतबार करेगी, इस तन्हाई भरे दिल से कौन क्यों प्यार करेगी, चल पड़ा हु, इस बिखरे दिल को लेकर, अब सुई से सीकर कोन इसको... Read more

बारिश की बरसती बूंदो से

शाम से एक लहर है मन्न में , बारिश की बरसती बूंदो से, फिर हस भी देगी, बरस पड़ेगी, सोने ना देगी, चमक पड़ेगी, कह डाला जो, उठो ना न... Read more

तेरी नज़रो से शिकस्त खाना

वो तेरी नज़रो से शिकस्त खाना, मुझको गवारा हो गया, हम तो तेरे प्यार में, पहले से ही डूब रहे थे, तेरी नज़रो का इशारा, तनहा का किनारा ... Read more

मुझे ना साहूकार समझ

मुझे ना साहूकार समझ मुझे दिल की बीमारी है, ला इलाज़ है मेरे दिल का दर्द, नज़रो में तेरी ही खुमारी है, कैसे जीऊ आँखों में तेरा प्यार... Read more

सोचा रात भर मैंने

सोचा रात भर मैंने, मैं क्यों तक़लीफ़ सहता हु, मर्ज़ मेरा तुमको पता है, मैं फिर क्यों दर्द सहता हु, आईने के सामने खड़े होकर, मैं त... Read more

अब हर बात बताते नहीं तुमको

अब हर बात बताते नहीं तुमको, दिल में दफ़न कर देते है, कितने ही गहरे हो जस्बात, जगाते नहीं उनको, अब हर बात बताते नहीं तुमको, ... Read more

मिट्टी के घरोंदो में

मिट्टी के घरोंदो में कभी अहसास पलते है, वो सर्र से बह जाते है, बिखर कर रह जाते है, जब भी बादल पानी से भरकर, बरसात करते है, मिट... Read more

धोखा दिया है खुदी को मैंने

धोखा दिया है खुदी को मैंने, खुदी से गुज़ारिश क्या मैं करूंगा, तड़प है आँखों में हंसी के सहारे, बता दो सनम, कब तक मैं यु हस्ता रहूँ... Read more

देखता हु मैं तुमको छुप छुपकर

देखता हु मैं तुमको छुप छुपकर महसूस करो, नज़रे झुका कर रखो या मुझको अब दूर करो, तुमको है आना, मुझको यूँ सताना, फिर मुस्कुराना, ... Read more

अ मेरी दिवानगी कभी तो छोड़ पीछा मेरा..

अ मेरी दिवानगी कभी तो छोड़ पीछा मेरा, वो तो पागल है, जो तेरी याद में रहता है. तेरा नाम भी ले उसके नाम से अलग कोई, वो तो पागल... Read more

आपके नाम गुलाब भेजा है

सनम आपके नाम गुलाब भेजा है, तनहा शायर ने सलाम भेजा है, कबूल करोगे तो दिल से लगा लेंगे, इंकार करोगे तो दिल में जला देंगे, राख़ की त... Read more

आई बैसाखी

आई बैसाखी, सोने सी धरती फिर, लाई बैसाखी, आई बैसाखी, सूर्य की चमक फिर, लाई बैसाखी, आई बैसाखी, विशाखा नक्षत्र अम्बर में, लाई बैसा... Read more

मुलाकात नहीं हुई

बहुत दिन हुए तुमसे, मुलाकात नहीं हुई, बेकार की तो बातें हुई, पर कोई बरसात नहीं हुई. बहुत सताया है तुमने हमको, पर रात नहीं हुई, ... Read more