मेरा परिचय

ग्राम नटेरन, जिला विदिशा, अंचल मध्य प्रदेश
भारतवर्ष का रहने वाला, मेरा नाम ‘सुरेश’
मेरे दादाजी ‘श्री जगन्नाथ जी’ , पिताजी ‘श्री गणेश’
मेरी दादी ‘हरवो देवी’ और ‘गोमती’ माता
श्री परमेश्वर गुरु है मेरे, सबका मुझ पर साया
भोपाल और विदिशा में, शिक्षण मैंने पाया
पत्रोपाधि इले.इंजी. स्तानक, हिंदी साहित्य पढ़ा, स्वयं को गढ़ा
शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज में, शासकीय सेवा को व्यवसाय बनाया
‘ज्योति’ बनी जीवन संगिनी, कदम-कदम पर साथ निभाया,
घर-परिवार शासकीय सेवा दायित्व बढ़ा निभाया
उनकी सतत प्रेरणा से, लेखन को अपनाया,
राजधानी भोपाल अपना निवास बनाया
पत्र पत्रिकाओं में लेखन को वक़्त मैं दे पाया,
इन्हीं साहित्यिक संस्थाओं ने, मेरा मान बढ़ाया
मात पिता गुरु आशीषों से, मैंने सब कुछ पाया

सुरेश कुमार चतुर्वेदी
राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, भोपाल (मध्य प्रदेश)

Copy link to share

मिली एक नारी सु कुमारी, फिरभी इधर उधर तकता है।

मिली एक नारी सु कुमारी, फिर भी इधर उधर क्यों फिरता है घर की मुर्गी दाल बराबर, नैन मटक्का करता है घर में पढ़ा रहे घोंघे सा, बाहर ... Read more

अनकही प्रेम कहानी

सांझ ढल रही थी, सूरज अस्ताचल की ओर जाते हुए ऐसा लग रहा था मानो झील में स्नान करने उतर रहा हो। आसमान में लालिमां छाने लगी थी पक्षी कल... Read more

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम

ईस्ट इंडिया कंपनी ब्रिटेन से, भारत आई थी सम्राट जहांगीर के शाही फरमान से व्यापार की अनुमति पाई थी व्यापार के बहाने उसने अपनी ध... Read more

भारत छोड़ो आंदोलन 9 अगस्त 1942

9 अगस्त है क्रांति दिवस, अगस्त क्रांति कहलाता है अंग्रेजों भारत छोड़ो, नारे की याद दिलाता है आज के दिन पूरे भारत में, शुरू हुआ ... Read more

आप ही तो हैं प्रभु, धरती के भगवान

सुख सुविधा बांग्ला मिले, और गाड़ी दो चार पद की महिमा है बड़ी, घुस जाओ एक बार अगल बगल चमचे बसें, करें सदा गुणगान आप ही तो हैं प... Read more

प्रकृति प्रेम लुटाती है, गीत प्रेम के गाती है

जब आता है बसंत धरा पर, प्रकृति प्रेम लुटाती है। जब आती है बर्षा रानी,कल कल गीत धरा गाती है। जब आती है ग्रीष्म ऋतु, अंतर्मन हो तप ... Read more

ननकी काकी (कहानी

दोपहर बाद मुखियाइन के घर रोजाना महफिल जमती है, आज भी जमीं थी। पंडिताइन बोलीं आज ननकी काकी नहीं आईं, नाम तो ननकी बाई था पर प्रेम से स... Read more

नहीं अग्नि जल और पवन हूं

नहीं अग्नि जल और पवन हूं नहीं धरा न नीलगगन हूं न विचलित, एकाग्र ही मन हूं नहीं बुद्धि अहंकार स्मृति न शरीर, नाक कान आंख जिभ्... Read more

वाणी

दावानल को शीतल कर दे,आग लगा दे पानी में। सोच समझकर बोलो बानी,वो दम होता है वाणी में। मुंह से निकले बोल, और तीर कमान से। बापिस नही... Read more

हैसियत (लघु कथा)

सब्जी चुनते हुए अशोक ने सब्जी वाले की ओर मुखातिब होते हुए कहा यार ऐसा लगता है आपको कहीं देखा है। मंगल ने गौर से देखते हुए हां मुझे भ... Read more

श्री अयोध्या जी में राम मंदिर शिलान्यास

(भाद्रपद कृष्ण २ बुधवार सं२०७७ दि.५/८/२०२०) रामलला मंदिर शिलान्यास, आज बड़ा तारीखी दिन है घर घर दीप जलाओ, 500 बरस में आया शुभ द... Read more

5 अगस्त 2019 धारा 370 हटाने का तारीखी दिन

5 अगस्त बन गया वो तारीखी दिन मिट गई 370 की तीखी चुभन 70 सालों से वे मेरा खाते रहे गीत अलगाव के फिर भी गाते रहे 370 का जामा प... Read more

कजलियों की भेंट

प्रेम भाव की हरी कजलियां,सादर अर्पित करता हूं। जीवन हो खुशहाल तुम्हरा,मान समर्पित करता हूं। हे चैतन्य आनंद स्वरूप, प्रेमामृत निशदि... Read more

राम मंदिर विध्वंस से शिलान्यास तक एक एतिहासिक सच

पूर्बकाल मेंआक्रांताओं ने, धर्मसंस्कृति पर प्रहार किए लूटे धर्मस्थल मठ-मंदिर, और हजारों तोड़ दिए। छोटे-छोटे राज्य असंगठित, आक़ांत... Read more

सदा सुखी रहें भैया मेरे, यही कामना करती हूं

रक्षाबंधन के अवसर पर, ढेर दुआएं करती हूं अपने हृदय के भाव भैया, तुम्हें समर्पित करती हूं रहो सदा खुशहाल, ईश्वर से विनय हमारी क... Read more

बहन की अभिलाषा

रक्षा के पावन बंधन की, भैया आन निभाना रक्षा करना मां बहनों की, भारत मां की लाज बचाना हंसते-हंसते शान में उनकी, अपना सर्बस्य लुटा... Read more

सखा बनो श्री कृष्ण सरीखे, मित्र बनो रघुराई से

(विश्व फ्रेंडशिप डे की हार्दिक बधाई) सखा बनो श्री कृष्ण सरीखे, मित्र बनो रघुराई से धरती से आतंक मिटा दो, राम और कृष्ण कन्हाई से... Read more

मतलब की इस दुनिया में, मित्र बहुत कम होते हैं

(विश्व फ्रेंडशिप डे की हार्दिक बधाई) मैत्री भाव निस्वार्थ प्रेम है, नहिं मतलब के यार शराब गांजा बीड़ी सिगरेट, अन्य ड्रग्स से प्... Read more

ओर मियां क्या चल रिया है? (एक व्यंग बाण)

बड़े मियां सलाम वालेकुम, वालेकुम अस्सलाम मियां। आजकल क्या चल रिया है बड़े मियां? बाहर ही नईं निकल रिये हो? अरे हां मियां, क्या डंडे ... Read more

प्रिय बादल तुम आ जाओ, तन-मन की प्यास बुझा जाओ

प्रिय बादल तुम आ जाओ, ये धरती बहुत ही प्यासी है तुम बिन जन जन के मन में, गहरी छाई उदासी है सूनी अखियां बाट जोहतीं, बदरा तुम कब आ... Read more

अमर शहीद उधम सिंह बलिदान दिवस

(दिनांक३१ जुलाई २०२०) आजादी का आंदोलन दबाने, अंग्रेजों ने रोलेट एक्ट बनाया था बंद हुए धरना प्रदर्शन, प्रेस को सेंसर कर दबाया था... Read more

लॉकडाउन में मुझे तुम्हारी याद सताती है

लाकडाउन में मुझे तुम्हारी, याद सताती है कितना मिस करता हूं तुमको, जीभ बहुत ललचाती है कब से नहीं जलेबी खाई, न पप्पू का पोहा खाए... Read more

मुंशी प्रेमचंद जयंती दिनांक 31 जुलाई 2020

हिंदी साहित्य में अमर रहेगा, मुंशी प्रेमचंद का नाम उनकी कथा कहानी में था, शोषण मुक्ति का पैगाम गांव गरीब और शोषण की, उनकी कथा कह... Read more

अमां खां औकात में रहना ,समझा रिया हूं

मियां राफेल आ गिया है, सामने वाले के कलेजे पर सांप लोट रिया है अपन ने तो पेलेई समझा दिया है, अमा खां क्यों पंगा ले रिया है इमर... Read more

श्री नेता चालीसा (एक व्यंग्य बाण)

प्रजातंत्र का ध्यान कर, राजनीति चित लाय । नेताजी के गुण कहूं, कुर्सी शीश नवाय ।। जय जय जय नेता महाराजा । प्रजातंत्र के तुम हो राज... Read more

दुनिया में कोई बुरा नहीं

दुनिया में कोई बुरा नहीं, पहचान है अपनी अपनी जैंसा देखो जैंसा समझो, दृष्टि है अपनी अपनी रब की सब कठपुतलियां हैं,सब अपना रोल निभाते... Read more

धर्म जाति और रंगभेद के धरती पर न भेद बढ़ाओ

धर्म जाति और रंगभेद के, धरती पर न भेद बढ़ाओ सारी दुनिया में प्रेम शांति, और गीत अमन के गाओ सत्य शांति दया क्षमा, सब धर्मों का सा... Read more

Contentसांचा प्रेमी

रस में रस है प्रेम रस, पान करे सो जान । जो नर प्रेम ना कर सके, जड़बत रहे जहांन ।। प्रेम है ईश्वर अल्लाह, गीता और कुरान । जो जन... Read more

आतंकी शैतान से, परेशान इस्लाम

आतंकी शैतान से परेशान इस्लाम कट्टरवादी सोच ने, किया बड़ा नुकसान अंग्रेजों ने बांट दिया, भारत-पाकिस्तान चरमपंथ पर चल रहे, लेकर ध... Read more

मैं लहर तुम समंदर हो

मैं लहर तुम समंदर हो तुमसे उठती हूं, तुम में ही समा जाती हूं, मैं तेरा गीत गुनगुनाती हूं नाचती गाती हूं, मैं तेरी उमंगे हूं स... Read more

शुक्रिया तेरा जिंदगी देने वाले

मुझे नर की योनि अता करने वाले शुक्रिया तेरा जिंदगी देने वाले मुझे प्रेम अमृत पिला देने वाले भारत में मुझको जनम देने वाले शुक... Read more

संत गोस्वामी तुलसीदास जयंती

(श्रावण शुक्ल सप्तमी दिनांक 27। 7। 2020) श्रावण शुक्ला सप्तमीं, जन्मे तुलसीदास। श्री चरणों में नमन है, ज्योति परम प्रकाश।। तु... Read more

डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम

युगों युगों तक ना भूल सकेंगे भारतवासी नाम बूढ़े बच्चे और युवा के प्यारे चाचा कलाम कृतज्ञ राष्ट्र करता है तुमको बारंबार प्रणाम ... Read more

स्वप्न सब पूरे करेंगे, चाहे हों राहें कठिन

(डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम को श्रद्धांजलि) कोटि कोटि जन मानस में, कोई एक ऐंसे आते हैं कर्म और व्यक्तित्व से जो, दुनिया को महकाते... Read more

विषाणु युद्ध की टेस्टिंग

विषाणु युद्ध की टेस्टिंग केरोना है शुरुआत कुटिल चीन अब कर रहा पाकिस्तान से बात केरोना निकला हुआ चीन की लैब वुहान एंथ्रेक्स ... Read more

कारगिल फतह का 21वां वर्ष

(विश्व का सबसे ऊंचाई पर लड़ा गया युद्ध) एक अच्छे पड़ोसी की तरह माननीय अटल जी लाहौर में शांति समझौता कर रहे थे वहीं धोखेबाज पा... Read more

नमन वीर भारत के प्रहरी, नमन हे वीर जवान

नमन वीर भारत के प्रहरी, नमन है वीर जवान तेरे कारण ही जिंदा है, मेरा हिंदुस्तान भारत माता की रक्षा में, कर दिए निछावर प्राण कारग... Read more

नाग पंचमी

(नाग जाति के प्रति कृतज्ञता) श्रावण शुक्ल पंचमी, नाग पंचमी कहलाती है नाग जाति की पूजा, उनके योगदान को दी जाती है नाग हमारे द... Read more

जीवन मुक्त जियो जीवन, करना चलने की तैयारी है

आना जाना नियम सृष्टि का, यह क्रम निरंतर जारी है पता नहीं कब आ जाए, दुनिया से जाने की बारी है सुख-दुख लगे हुए जीवन में, क्रम इनका... Read more

हर ख्वाहिश यहां अधूरी है

लगी हुई है होड़ जगत में अंधी दौड़ मजबूरी है जायदाद वैभव पद पैसा जीवन को नहीं जरूरी है जीवन को आनंद से जीने सुख संतोष जरूरी... Read more

बेमौसम फिर गरजे बादल

बेमौसम फिर गरजे बादल, बेमौसम बरसात हुई वे मौसम फिर जमी बर्फ, और यह रातें सर्द हुईं ना जाने क्यों उमस बड़ी, बेमौसम गर्म हवाएं हुई... Read more

एक जरूरी काम

एक जरूरी काम मैं आज ही कर लेता हूं कौन जाने कल कहां होंगे एक जरूरी बात तुमसे आज ही कर लेता हूं चार दिन की जिंदगी है एक ... Read more

प्यार का स्वप्निल सफर

प्यार ही के गांव में प्रेम का बसा शहर वफाओं की मंजिलों पर प्रीत की सारी डगर पलकों की छांव में प्यार का स्वप्निल सफर प्या... Read more

अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद

धन्य हुई भाभरा की धरती, धन्य मेरा मध्य प्रदेश हुआ धन्य हुईं भारत माता, जिसने ऐसा सपूत दिया २३/०७/१९०६भाबरा में जन्मा,भारतमां का ... Read more

तिरंगा करता मानवता की अगुवाई है

(आज ही के दिन दिनांक 22 जुलाई 19 सौ 47 को तिरंगे झंडे को राष्ट्रीय ध्वज की मान्यता मिली थी) भारत के राष्ट्रीय ध्वज में, मानवता की... Read more

दिखने में खालिस सफेद हैं, काम सभी काले काले

दिखने में खालिस सफेद हैं, काम सभी काले काले कल तक तो वे पटियों पर थे, आज बने पैसे वाले राजनीति की गंगा में, उन्होंने जमकर स्नान ... Read more

विश्वासघात

आदमी के विश्वासघात ने, कितना डरा दिया बड़े-बड़े माननीयों को, बंधक बना लिया जो कभी थे अपने, उन्होंने उठा लिए कुछ आदमी उनके, इन्... Read more

धरा वासियों होश में आओ जैव विविधता नहीं मिटाओ

धरती आसमान और तारे सूरज चंदा और सितारे नदियां पर्वत और समंदर जल जंगल और जीव यह सारे कुदरत ने हैं सभी बनाए नहीं अकारण जगत म... Read more

वादी ए भोपाल हूं

बादी ए भोपाल हूं, मैं बादी ए भोपाल हूं भोर हूं स्वप्निल सुनहरी, और सजीली शाम हूं बादी ए भोपाल हूं, मैं वादी ए भोपाल हूं शैल शि... Read more

लिखूं कोई नया छंद

लिखूं कोई नया छंद, या कोई तराना गाये जो मिलकर, सारा जमाना लिखूं कोई नया छंद, या कोई तराना प्रेम प्रीत भरकर, रंगोली सजाओ कई र... Read more