Suraj Singh Chouhan

Raigarh

Joined November 2018

Writing is my fashion and growth of our social to a continuous writing in word through

Copy link to share

मां

हर दफा मैं सोचता हूं , जब खफा मैं होता हूं , मां तुम्हारी याद में, आज भी मैं रोता हूं , Read more

तेरी नज़र

तेरी नज़रो ने मुझे तबाह कर दिया , एक नहीं हजार दफा कर दिया, तेरी बिखरी जुल्फों ने , मेरे प्यार का इजहार कर दिया, Read more