Copy link to share

माँ

जब कभी मुश्किलें मुझ पे आ जाती है। ज़िन्दगी राह मुझको दिखा जाती है।। याद है आज भी माँ की लोरी मुझे। गुनगुनाऊँ अगर तो सुला जाती ह... Read more

मयखाने में

बातें वातें खूब चलेंगी यादों के अफ़साने में। बिछड़े यार पुराने जब बैठेंगें ठोर ठिकाने में।। ढूँढो यार बहाना कोई पीने और पिलाने का। ... Read more

ख्वाब सीने में छुपाकर नहीं देखे जाते

साथ उड़ने दो कहीं दूर तलक ख्वाबों को। ख्वाब सीने में छुपाकर नहीं देखे जाते।। स्याह हो रात अगर मन में भी अन्धेरा हो। चेहरे घर को ... Read more