याचक वर्तमान में जवाहर नवोदय विद्यालय मेघालय प्रांत में प्रवक्ता आंग्ल भाषा के पद पर कार्यरत है!
भारतीय संस्कृति और सभ्यता के उन्नयन हेतु याचक अपनी विधा के माध्यम से साहित्य पीडिया जैसे सूर्य को दिया दिखाने का प्रयत्न करता प्रतीत होता है!

Copy link to share

मानुषी

मन आज हो उठा विह्वल है हर जगह आज यह हलचल है भारत की बेटी "छिल्लर" है विश्व पटल पर सौंदर्य सुंदरी अव्वल है मानो एक सफल भावना है ... Read more

मन की बात

मनुज तू प्रगति पथ पर तो चला ! दबा मन की व्यथा , सोच तू शांति में है क्या भला? अर्थ सिद्धि की साधना में लीन तू ,संवेदना की ... Read more