Rajnish Goyal

पंजाब

Joined November 2018

मैं भजन गायका हूँ। अभी कुछ महीने पहले ही मैंने
लिखना शुरू किया है। मैं कविता और भजन लिखती हूँ।
इसके इलावा मैने इंडियन कलासिकल ( वोकल) में गरैजुएशन की है। मैं हिंदी पंजाबी अंग्रेजी भाषा जानती हूँ। सुबह व्यायाम करना और कराना, हँसना और हँसाना
मेरी आदत है

Copy link to share

नन्हें बच्चे प्यारे बच्चे

कितने प्यारे कितने सच्चे कितने हैं अनमोल, इनकी प्यारी मुस्कान से खिल जाते कपोल। नन्हीं नन्हीं किलकारी से गूँजता घर का आँगन, इनक... Read more

क्या नहीं भारत के अंदर

कहते हैं हम विदेश को सुंदर, क्या नहीं भारत के अंदर। वहाँ पे लोग हैं फ़र्ज निभाते, नागरिक होने का कर्ज़ चुकाते। अगर वो कुत्ता बिल... Read more

राजनीति

कैसी है ये राजनीति हम तो समझ ना पाए, जो मुद्दे विपक्ष में उठाएँ, कुर्सी मिलते ही भूल जाएँ। चुनावों से पहले ये नेता ,घूमते हैं हर... Read more

कुंडली का रोग

क्या है कुंडली पाखंडी बाबाओंं की तरफ़ से दिया हुया बढ़ावा, और उनके जाल में फँसते हुए लोग, संवारो भविष्य बच्चों का छोड़ो कुंडली का रो... Read more

मेरी माँ अनोखी माँ

होगी सब की माँ अच्छी, पर मेरी माँँ सा कोई नहीं। सोती थी वो गीले में, सूखे में सुलाया था मुझको। जब मैं भोजन करती तो, पंखा झुल... Read more