प्रवक्ता हिंदी

Books:
काव्य-संग्रह–“आइना”,”अहसास और ज़िंदगी”
“काव्य-अमृत”,”भारत के श्रेष्ठ युवा कवि और कवयित्रियाँ”साँझा काव्य संकलन(जे.एम.डी.प्रकाशन)

Awards:
“काव्य-अमृत”,”श्रेष्ठ शब्द शिल्पी”,”काव्य श्री”एवं “साहित्यापीडिया-काव्य” सम्मान

Copy link to share

बदला लेना होगा

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में शहीद मेरे देश के वीर जवानों को कोटि-कोटि नमन! वीर जवानों के मान में चंद पंक्तियाँ... "ऐसा सिला दीजिए" ... Read more

नशा नाश की जड़ है

नशा नाश की जड़ है,खाए जीवन मूल। दूर रहो सुख पाओ,करना कभी न भूल।। मान शान यह घर का,ख़ुशियाँ लेता लूट। रोज-रोज का झगड़ा,डाले सबमें फ... Read more

बस गए मेरी निग़ाहों में

तुम जो मिले हो राहों में,बस गए मेरी निगाहों में। आओ सनम हम खो जाएँ,प्यार की महकी फ़िज़ाओं में।। रुत ये सुहानी सावन की,आज मस्ती से ... Read more

प्रीतम प्याला प्रेम का

हँसके करना काम तुम,रोने का ना लेना नाम तुम। रोशन होगी ज़िन्दगी,हरपल होके रहना आम तुम।। अंतर की हो बात जब,सुनके होता है नुकसान ही।... Read more

माता तेरी लाडली

माता तेरी लाडली,वो कर देगी काम। सूर्य-चन्द्र-सा एकदिन,चमके जिससे नाम।। पढ़-लिख अफ़सर रूप में,आऊँगी जब पास। वो दिन जीवन का हसीं,हो... Read more

मैं दिल बैठा हार

देखा तुझको भूल से,मैं दिल बैठा हार। तू ही जीवन गीत है,तू ही मेरा प्यार।। दिल की गलियाँ खोल के,बैठा मेरी जान। दौड़ी आओ छोड़ के,य... Read more

जीतो खुद को आज तुम

गीत-"जीतो खुद को आज तुम" 💝💝💝💝💝💝💝💝💝 जीतो खुद को आज तुम,लोगे कल जग जीत। पहले खिलता फूल है,ख़ुशबू के फिर गीत।। गिरते उठते राह में,... Read more

विशेष.. शायरी

विशेष..."शायरी" ************** हौंसला है कुछ विशेष करने का इरादा है। सबके दिलों में दिल से उतरने का इरादा है।। हे रब! कभी भूल से... Read more

फूलों जैसे दिल हों

गीत-फूलों जैसे दिल हों मीटर--222-222-221-222 फूलों जैसे दिल हों ख़ुशबू भरी बातें। फिर तो होंगी ख़ुशियों की रोज बरसातें।। मिलते ज... Read more

कुंडलिया-कैसे जीवन हो ख़ुशहाल

सदा कार्य की दाद दो,जलन करो ना भूल। फूलों बदले फूल हैं,शूलों बदले शूल।। शूलों बदले शूल, रखो याद ये हमेशा। जीवन हो ख़ुशहाल, रहे न... Read more

दोहे-मानसिकता

#दोहे# मान खुदी को श्रेष्ठ सब,फूलें झूठी शान। चूहा हल्दी गाँठ ज्यों,पंसारी-सा मान।। कमियाँ गिनते और की,खुद में सत्तर छेद। छाज ... Read more

माँ का दर्द

"माँ का दर्द" --------------- फूट-फूट कर रोई थी माँ,न जागी थी न सोई थी माँ। घोर तिमिर में खोई थी माँ,जिस दिन तन्हा होई थी माँ।। ... Read more

ग़ज़ल

मीटर-2222-1222-2221-2212 दिल में तसवीर तेरी है आँखों से मना क्यों करूँ। कोई हसरत जगी है आहों में फ़ना क्यों करूँ।। बढ़ते जाते क़दम... Read more

सुसफल जयंती गाँधी एवं प्रेम सदा आनंद

सुसफल जयंती गाँधी(कुंडलिया छंद) ---------------------------------------------- गाँधी जी की याद में,चला स्वच्छ अभियान। आस-पास सब स... Read more

रहे ना मन फिर प्यासा(कुंडलिया छंद)

प्यासा मन यश का हुआ,नोटंकी की टेक। फ़ोटो का बस शौक़ है,काम बने ना एक।। काम बने ना एक,चलन हुआ अरे कैसा। नारे भाषण ख़ूब,करे नहीं कहे... Read more

रहे ना मन फिर प्यासा(कुंडलिया छंद)

प्यासा मन यश का हुआ,नोटंकी की टेक। फ़ोटो का बस शौक़ है,काम बने ना एक।। काम बने ना एक,चलन हुआ अरे कैसा। नारे भाषण ख़ूब,करे नहीं कहे... Read more

तुझे चाहूँगा इतना मैं

मीटर-1222-2222,2222-2122-2 तेरी आँखों के आँसू ये,अपनी पलकों में सजा लूँगा। तुझे चाहूँगा इतना मैं,इस दिल की धड़कन बना लूँगा।। कभी... Read more

सच-झूठ

सच कड़वा होता है,जल्दी से हज़्म नहीं होता। मौन रहना भी मगर,जख़्म पर मरहम नहीं होता।। झूठ की उम्र छोटी,कभी भूलकर भी मत बोलो। जान जिस ... Read more

परदेशी-परदेशी तुम जाना नहीं

हास्य-कविता ----------------- एक साहिब ने एक नौकर लगाया। उसने अपना नाम परदेशी बताया। उसने ड्यूटी फ़र्ज यूँ निभाया। चार दिन की छ... Read more

धोखा देना छोड़िए

"धोखा देना छोड़िए" ------------------------कुंडलिया छंद धोखा देना छोड़िए,होती खुद की हार। हांडी चढ़ती काट की,सिर्फ़ एक ही बार।। सिर्... Read more

"सब भाषाओं से मधुर-भाषा हिन्दी"

"सब भाषाओं से मधुर-भाषा हिन्दी" -------------------------------------------- मधुर कर्ण-प्रिय शब्द हैं,गागर रस का मान। प्रथम विश्व... Read more

"मरना-जीना सत्य है"

मरना जीना सत्य है ------------------------ मरना जीना सत्य है,होता है जग झूठ। अपनी करनी भूल के,जाना कभी न रूठ।। जाना कभी न रूठ,जग... Read more

"मेरी प्यारी राधे मैं तेरा श्याम"

"मेरी प्यारी राधे मैं तेरा श्याम" ------------------------------------ यादों के आइने में निहारा करता हूँ। मैं तुझको प्यार से पुका... Read more

राधेय-राधेय

"राधेय-राधेय" ----------------- काल कवलित करने कंस को,लिया विष्णु ने अवतार धरा पर। कृष्णा संक्षा से शोभित द्वापर,देवकी-वासुदेव पु... Read more

मन मलाली मत कर

मन मलाली मत कर ------------------------- अपनी रुह से दलाली मत कर, बातें ख़्याली मत कर। सच का आईना सामने है, झूठ पर ताली मत कर।। ... Read more

"छोटी-छोटी बातें दिल से नहीं लगाते"

मीटर-222-222-222-121-22 छोटी-छोटी बातें हम दिल से नहीं लगाते। हरपल को हैं हम जीते सबको यही सिखाते।। ये जीवन तो मालिक का उपहार ए... Read more

"प्यार का सपना"

मीटर-221-222-221-222 नज़रें मिलाके तुम कहदो मुझे अपना। पूरा हुआ समझूँ मैं प्यार का सपना।। दीदार तेरा हो कलियाँ खिलें दिल की। आए... Read more

"मोहब्बत का इशारा है"

मीटर-221-222-222-221-222 आठों पहर दिल ने बस तुमको ही तो पुकारा है। लगता मुझे ऐसा है मोहब्बत का इशारा है।। जागे जहां सपनों का हम... Read more

#नवोदय उदय ये नव है हमारा#

#गीत# --------- नवोदय उदय ये नव है हमारा। दिखाया इसी ने मंज़िल-किनारा।। माला-मनकों से रहते थे सारे। भेदों को तोड़े चाहत के मारे... Read more

"जब होठों पर आता जयहिंद"

मन हो जाता यारो काशी मथुरा कभी गंगा है। जब होठों पर आता जयहिंद हाथों में तिरंगा है।। ये गौरव गाथा भारत की कहता लहरा-लहरा के। वी... Read more

"आज़ादी देशप्रेम के दोहे"

तिरंगा शान देश की,सुनो लगा तुम कान। ऊँचा फहरे रोब से,यही देश का मान।। खुद से बढ़कर देश हो,जाए चाहे जान। खुद ही जलके सूर्य भी,रोश... Read more

सावन की तरह ही बरसे प्यार तेरा

मीटर-222-122-222-122, 222-122-222-122 --------------------------- सावन की तरह ही बरसे प्यार तेरा, तू ही रात मेरी... Read more

ख़ूबसूरत रहता समय

#ख़ूबसूरत रहता समय -----------------------------👌 समय चक्र है घूमता,ले अपनी रफ़तार। चलिए इसके साथ जी,मिटता जीवन भार।। मिटता जीवन भ... Read more

चाँद भी फीका लगता

मीटर-212-222-222-212-12 बात मीठी तेरी हँसना खिलता गुलाब है। चाँद भी फीका लगता निखरा यूँ शबाब है।। है घटा सावन की बल खाता ये बदन... Read more

#रोमांस का मौसम#

#रोमांस का मौसम# --------------------------- रोमांस का मौसम ये बरसात का मौसम। तेरी-मेरी प्यारी-सी मुलाक़ात का मौसम।। टिप-टिप गि... Read more

भारत-भारत जय-जय भारत कहो।

#ग़ज़ल# मीटर-222-222-221-2 मेरा भारत सबसे प्यारा लगे। इसके आगे जग भी हारा लगे।। नभ के तारे हैं सारे देश ये। सबमें चंदा-सा ये न्... Read more

साथ तेरा मिले जीत लूँ हर ख़ुशी

# गज़ल# मीटर-212 212 212 212 साथ तेरा मिले जीत लूँ हर ख़ुशी। है तुझी से हँसी ज़िंदगी तर ख़ुशी।। राह में फूल हों साथ तू जो चले। रा... Read more

गाँव जँचता हमें

# ग़ज़ल# वज़्न 212-212-212-212 आज फिर याद आई मुझे गाँव की। प्यार के मेल की खेल के ठाँव की।। यार मिलते गले चार पीपल तले। मौज मस्त... Read more

प्रकृति के दोहे

शुभ संध्या मित्रों! --------दोहे------👌 बैठ प्रीत की छाँव में,उतरे सारी हार। तन-मन निखरे नूर से,देख रंग गुलज़ार।। बैठ प्रकृति क... Read more

नशीहत भरे दोहे

-----दोहे-----👌 आँसू मोती आँख का,टूटे कभी न मीत। होता सुर बिन बोर है,अच्छा मीठा गीत।। साहिल पर तू बैठ के,चाहे मोती यार। बिना प... Read more

प्रशंसा भरे दोहे

प्रशंसा के दोहे ------------------ नेक प्रशंसा सीख तू,सबको भाती ख़ूब। पल में सारे काम हों,जाए दुख भी डूब।। हँसता देखें आप को,भा... Read more

दोस्ती के दोहे

दोस्ती के दोहे ----------------- जानें दिल की पीर को,बढ़े प्यार का हाथ। बन परछाई यार फिर,चलें हमेशा साथ।। दोस्ती होती मोह से,छू... Read more

दोहे-शिक्षाप्रद

दोहे-शिक्षाप्रद ----------------- संगत अच्छी राखिए,गुणी बनो भरपूर। माली बेचे फूल है,ख़ुशबू हाथ हुज़ूर।। बीती बातें भूल के,नई करो... Read more

दोहे-शानदार

धर्म वही जो मान दे,ग़रीब-अमीर भूल। पुण्य हेतु हों फूल जी,पाप हेतु हों शूल।। ----1. दृष्टि रखे जो एक है,देता सबको न्याय। राजा वह त... Read more

दोहे-शानदार

धर्म वही जो मान दे,ग़रीब-अमीर भूल। पुण्य हेतु हों फूल जी,पाप हेतु हों शूल।। ----1. दृष्टि रखे जो एक है,देता सबको न्याय। राजा वह त... Read more

गलतफहमियाँ छोड़

गलतफहमियाँ छोड़ ------------------------- सोचे है हर फूल ये,मुझसे महके बाग। बड़े ग़लत हैं भाव जी,अहं लगी ये आग।। अहं लगी ये आग,आए ग... Read more

राजनीति का दाँव

राजनीति का दाँव ////————//// गिरगिट बनता बात से,जिसमें रखके पाँव। ऐसा धंधा एक है,राजनीति का दाँव।। राजनीति का दाँव,सच की नहीं जी... Read more

व्यक्ति से बड़ा देश है

व्यक्ति से बड़ा देश है ////----------------//// जानो सारे बात यह,बड़ा व्यक्ति से देश। अहं भाव को छोड़ दो,यही सर्व आदेश।। यही सर्... Read more

मतलबी हर रिश्ता

"मतलबी हर रिश्ता" ////-------------//// अपना होकर गैर है, कैसा वो इंसान। जलता सदैव जीत से, हार खुदी की मान।। हार खुदी की म... Read more

चाँद मामा हैं प्यारे

चाँद मामा हैं प्यारे ////-------------//// प्यारे मामा चाँद तुम,आओ घर तुम आज। आँगन में तुम बैठ के,करो खुदी पर नाज़।। करो खुदी पर ... Read more