Copy link to share

जय श्री राम

छुपे सूरज क्षितिज में तो यकीनन शाम कहते हैं जहां जन्मे प्रभू उसको अयोध्या धाम कहते हैं हमारी आस्था देवों में दिल से है सदा लेकि... Read more

अगर हो इश्क़ सच्चा

फरेबी चाल से बेशक शराफत हार जाती है जिस्म को जीतकर झूठी मोहब्बत हार जाती है मिटाने को भले तैयार लाखों लोग हों लेकिन अग... Read more

शायरी

किसी का रूठ जाना भी , क़यामत के बराबर है महज भूकंप आना ही जरूरी तो नहीं होता। जुदाई ही बहुत काफी है मेरी मौत के खातिर निवाला... Read more

किसी की याद में

किसी की याद में जगता है रातों में नहीं सोता सदा दिल में ही रोता है वो आंखों से नहीं रोता सिमट जाता है अपने आप में खामोश होकर यूं ... Read more

शायरी

हुए खुद बेवफ़ा और दोष तुम मुझपे लगाते हो सनम कहना मेरा मानो जिगर की जांच करवा लो अगर ना हो सके ऐसा तो इक दूजा तरीक़ा है मे... Read more

भटकता ही रहा दर दर

भटकता ही रहा दर- दर ,कहीं मैं भीख ना पाया मोहब्बत के सिवा मैं और कुछ भी सीख ना पाया मिली बदनामियां , आंसू व गम तेरे लिए लेकिन ... Read more

ना झूठे करो बवाल प्रिए

ना झूठे करो बवाल प्रिए, अब नहीं करूंगा कॉल प्रिए तूने ही था मिसकॉल किया अब बात भले तू टाल प्रिए ना झूठे करो.................. Read more

स्वाभिमान

ये तलवे चाटने वाले हकीकत कह नहीं सकते मगर सच्चे मनुज नाली में गिरकर बह नहीं सकते भले दौलत मयस्सर हो न हो उनको कभी लेकिन किसी... Read more

अधूरा प्रेम

मोहब्बत की कली दिल से कभी गर टूट जाती है खुशी की चांदनी फिर खुद ब खुद ही रूठ जाती है हृदय में पीर होता है , नयन में नीर ह... Read more

मेरे दिल की धरा पर

मेरे दिल की धरा पर बीज विष का बो गई हो तुम कहां हो आजकल अब किस जहां में खो गई हो तुम बयां कर दो ज़िगर की बात मौला की कसम तुमक... Read more

शिव वंदना

🌻देवादि देव हे महादेव , वृषांक मृत्युंजय महाकाल 🌻गंगाधर हर हर शिव शंकर शशि से शोभामय रहे भाल 🌻डमरू के डम डम से अपने भव से... Read more

जुदाई

तेरे जाने की कीमत यों अदा करनी पड़ी मुझको तेरी यादें सताती हैं सनम जी हर घड़ी मुझको हृदय की वेदना को आप समझोगी नहीं शायद मौत हैरा... Read more

मेरी मुक्तक माला

किताबों के सभी पन्ने में तेरा नाम लिखता हूं मेरे महबूब तुझको अब सुबह से शाम लिखता हूं सभी प्रश्नों के उत्तर में तेरा ह... Read more

हिन्दुस्तान बुलाता है

वीरों का संकल्प, हमें उनका बलिदान बुलाता है झूल गए जो फंदे पर उनका अभिमान बुलाता है उठो साथियों शस्त्र उठा लो ,अब ज्याद... Read more