Savitri Rana

Noida

Joined November 2018

मै सावित्री प्रकाश ,
दिल्ली सरकारी विद्यालय में हिन्दी प्रवक्ता पद पर कार्यरत हूँ, फेस बुक पेज काव्य कुँज मेरी कविताओं और विचारों का संग्रह है। आजकल मै अपने ” उपन्यास “पिंजरे की मै ना ” को लिखने में व्यस्त हूँ। लेखन के माध्यम से मैं ..
इंसा का इंसा से स्नेह चाहती हूँ ,
मायूस हो ना कोई जाहाँ में
मैं ऐसा स्नेह धन बाँटती हूँ।
सावित्री राणा नाम से मेरी कुछ रचनाएँ “ज्ञान सवेरा ” में प्रकाशित हुई हैं।

Copy link to share

ज़मीर

सुनने में अच्छे लगते जुमले, जिस पर पडती वही रोता है , ईश्वर के बनाए सब इंसा, फिर क्यों ऐसा होता है! एक के लिए सब साज सामान , द... Read more

माँँ

दो अक्षरों का शब्द लघु "माँ " फलक नभ सा लिए विस्तार , जननी ,पालिका ,मार्गदर्शिका,प्रथम पाठ की माँ शिक्षिका . नवाँकुर की जीवनदात्री... Read more