Santosh Nema

Joined January 2017

पोस्टमास्टर

Copy link to share

दोहा

ईश्वर सबके साथ है,पकडे सच का हाथ वो त्यागता उन्हें जो,खड़े झूठ के साथ Read more

मुक्तक

दिल के गम जब आसुओं में निकलते हैं ये अश्क़ भी तब मोतियों में बदलते हैं इन आसुओं को कभी जाया न कीजिए ये हमारे अरमानों के साथ साथ पल... Read more

दिल

दिलों में जब किसी का मकां होता है उसे बाहर का तब कहाँ पता होता है Read more

मुहब्बत

जागती आँखों में ख्वाब सजाते हैं मुहब्बत करने वाले गज़ब ढाते हैं Read more

बेटियां

मेरी गुड़िया मेरी बिटिया मेरी अनमोल रतन तू ही तो शुकुं मेरा है तुझसे दुखों का समन तू ही दो कुलों की रखती है लाज निभाती भी तुझसे... Read more