सब रस लेखनी***
जब मन चाहा कुछ लिख देते है,
रह जाती है कमियाँ नजरअंदाज करना
प्यारे दोस्तों।
ऍम कॉम , व्यापार, निवास गंगा के चरणों मे हरिद्वार।।

Copy link to share

*बेदाग बादशाह

जब देखता हूँ खिलते कमल को भोर में, अंधेर घोर में, आँखों में उतर जाती है पवित्रता की किरणें, कीचड़ में खिले कमल की ... Read more

माँ का हीरो****

पढ़ ले बेटा पढ़ ले कुछ कर ले काम आयेगा नहीं तो रह जायेगा जीरो मास्टर जी के गूंजते ये शब्द.... सच में रुला देते थे भारी कद... Read more

एक रावण मरता सौ तैयार है...

आज के रावण को भी नहीं मिलता वो राम है जो दे रावण से मुक्ति, आज के रावण का काम तमाम रावण के ही हाथ है, एक रावण मरता ... Read more

जय देवी***

देवी के मंदिर सर झुका कर फल-फूल धुप बत्ती वस्त्र श्रृंगार चढ़ा कर भक्ति बखान दण्डवत् नमन तेरा, पत्थर की मूर्ति पर अपार श्र... Read more

शहीदों की इच्छा***

चल दिये अपनी जान वतन पर फिदा करके, सोच रही है तड़पती आत्मा वार भारी पक्का होगा, आतंक के खिलाफ निर्णायक जंग होगा, जीत... Read more

अब खैर नही पाक तेरी.....

अब खैर नहीं पाक तेरी तेरे मिटने की बारी है, बहुत हो चुका तेरा आतंक का दंगा हिंदुस्तान से लेकर पंगा मति तेरी मारी... Read more

निर्दोष बेजुबां का लाल खून....

निर्दोष बेजुबां पर चली होगी जब कटार तड़पा होगा बदन उसका दिल भी रोया होगा, धरती हो गयी लाल उस खून से जो उस बेगुनाह से निकल... Read more

क्यों हो खफा हम....

खफा है बहुत से मुझ से, पर हम खफा नही किसी से, क्यों हो खफा हम किसी से, किसी से हमने लिया कुछ नही, दे दिया जो था... Read more

कर दी मैली.....

बदल गये गंगा तट वासी पर न बदली गंगा माँ सच में माँ तो माँ ही है सदियो से वही निर्मल पवित्र धारा*** पालनहार इस धरा पुत्र... Read more

अब तो राशन कार्ड बनाना....

कैसे है ये जनता के सेवक जो जनता पर राज करते है पहले करते जनता की चाकरी बाद चक्कर कटवाते है, जीत का जश्न बना कर जाने कहाँ छिप जा... Read more

सच में लगा इंसान सा......

एकांत में चुपचाप सा शांत सा मगन में मगन इंसान सा, तल्लीन किसी लय में ऊँगली से बजती चुटकी को संगीत बना, कुछ ग... Read more

गणपति आ गये आशीष देने....

बर्ष बीत गया गणपति आ गये आशीष देने.... वायदों को याद दिलाने गंगा के स्वच्छ्ता की नदियो की जहाँ मिलकर हो जाती है सदभाव से एक... Read more

वायदा है....

मत भटक दर बदर तुझे है क्या खबर संवरेगा तेरा भी मुकद्दर खुदा का वायदा है ईमान के दिन भी पलटेंगे।। ^^^^^दिनेश शर्मा^^^^^ Read more

तू बरस इतना बरस कि........

बदली भी बदल गयी काली घटा देख बादल में, कही फट चली बोझ से.... तबाही का मंजर देकर, कही बरस पड़ी अन्न दाता की झोली में ... Read more

जीने की कला

जीने की भी कला है जी रहे है सब कुछ होश में कुछ बेहोशी में, पर सब जी ही रहे है रंग में भी बेरंग में भी, बदरंग के बचने की... Read more

कुछ है जो...

कुछ है जो घूरते है आँखों में छिपी काली आँखों से, आँखों में शर्म नहीं बहाते है पानी आँसू नही कुछ है जो घूरते है आँखों म... Read more

मौन...एक खोज

चल दिये उस राह पर जहाँ हर कोई जाता न था, न कोई चहकता था न कोई महकता था, नितांत मौन थी राह जो केवल मौनता के साथ अंदर उतर रही थी... Read more

तुझ पर कुरबां.....

शहीदों की शहादत देख आँखों से आँसू छलक पड़े, पर गिरे न जमीं पर वो आसमां पर लिपट गये, शहीदों की सहादत देख आँखों से आँसू छल... Read more

कभी इस पार ,कभी....

कभी इस पार कभी उस पार, खिच लेता है एक दूजे को बहन-भाई का प्यार रक्षा बंधन का त्यौहार चलता रहे,निभता रहे अमर प्रेम की... Read more

ऊँचे चबूतरे पर...

ऊँचे चबूतरे पर जलता दीया निचे रोशनी बिखेरना चाहता था उन हवा के झोंके से बुझ गया जो ऊँची ही चलती थी ऊंचाई के अहसास के साथ हवा ... Read more

पुनः सोने की चिड़िया बनने को...

मेरा प्यारा देश चल पड़ा तरक्की की राह पर पुनः सोने की चिड़िया बनने को खुशहाली होगी जहाँ हर घर-आँगन में जहाँ बसता है ईश्वर कण... Read more

जी लेती है जी भरकर के...मुस्कुराती सी

सुबह की मस्त सुहानी हवा से झूमते पत्तो फूलो की डाली सूरज की पहली किरण इठलाती सी ओस की बुँदे को स्पर्श कर जो नाच रही चमक रही मो... Read more

काबिल है हम दोनों के....

बेपनाह मोहब्बत कीजिए या नफ़रत काबिल है हम दोनों के ऐ मेरे दोस्त, नजरिया आपका अपना है विश्वास न तोड़ना ऐ मेरे दोस... Read more

एक शांत मौन.....

आओ इस कोरे कागज पर कुछ लिख देते है ना मिटने वाला शब्द जो दिल की गहराई में उतर जाये शब्द तो शब्द है शब्द के अर्थ ... Read more

दौड़ा चला जा रहा है....

बस इंसान दौड़ा चला जा रहा है, उदासी की गठरी सर पर उठाय बस जिये जा रहा है, पल पल मरे जा रहा है एक उम्मीद की खोज में बस इंसान दौड़... Read more

कुछ होते है मतलब से.....

कुछ होते है मतलब से होते है, शायद मतलबी दुनियां से होते है रिश्ते नाते प्यार भरी बाते लंबे-चोड़े वायदों की भरी पराते मतलब से आ... Read more

नियत दिखला देता तो मैं....

आइना बोला इंसान से हे इंसान तू मुझ में अपना चेहरा देख कर कितना खुश होता है, बाल संवारता है,बे धड़क निगाह ... Read more

बेदर्दो को क्या पता.....

दर्दे दिल में एक बात तो खास होती है, सच्चाई से रूबरू बे हिसाब होती है, बे दर्दो को क्या पता सच का स्वाद ... Read more

तू आ जा...सावन जाने को पड़ा है

सावन में सब हरा भरा है रिम झिम फुहारों में मस्त नशा चढ़ा है मेहंदी की खुशबू से महक उठा तन मन, तेरे इंतजार में, त... Read more

मैं लाचार द्रोपदी नही.....पुकारूँगी

मैं विघ्न बिंघनेश्वरी हूँ मैं कोई लाचार कुचली डरपोकनी नहीं हूँ मुझे अंधे राज की द्रोपदी न समझना कि पुकारूगी लाचार सी इ... Read more

दौड़े चले जा...

जिंदगी की पटरी पर दौड़े चले जा रहे है, कुछ छूट रहा है कुछ छोड़े चले जा रहे है एक दूसरे को पीछे छोड़ने की होड़ में दौड़े चले ज... Read more

मुस्कुराएंगे तो...

सोचा था तुम्हारे आने से खुशियाँ आएगी मुस्कुराएंगे खुशियां आयी भी मुस्कुराये भी, समय बिता नन्हा सा दिल आया ढेरो खुशियां लाया,... Read more

बदला नही बदल दो**

बदला लेने की ख़ुशी दिल में एक बार तो उठी अगले ही पल दिल के कोने से छिपा नन्हा सा छोटा दिल हिम्मत करके बोला बदला लेने से त... Read more

कौन अपने- कौन गैर

दिल में याद बना लेते है गैर भी... अपने भी... कुछ चुभते है कुछ यादगार बन जाते है अपने भी-गैर भी पहचान न पाये अपनों को भी ... Read more

मुस्कुराते है चंद चेहरे....

दुःख के तपिश में फिर भी मुस्कुराते है चंद चेहरे अपने दम पर, बादशाह से कम नहीं इनकी हस्ती, हर पल है इनकी मस्ती जीना इसी का नाम ... Read more

नासमझ है...

उसने मुझे एक कागज थमाया,मुस्कुराते हुए कहा इसमें लिखा है बहुत कुछ दिल की आँखों से पड़ सकते हो तो पढ़ लेना शब्दों का मर्म ... Read more

निगाह

जलता है मन जलती हुई निगाह देखकर डरती है कली काले मन का काला नाग जाने कब डस ले ये सुनसान राह की काली निगाह से भी खतरना... Read more

बदलते चेहरे बदलते रिश्ते...

दिया था.... मांग कर जाने क्या गुनाह हो गया अपनों में बुरे हो गये अपनों के बदलते चेहरे देखकर झूठे है वो रिश्ते जो निभते है ... Read more

माँ तेरी याद के है बहुत मौके

जब गूंजते ये शब्द कानो में किसी माँ के, बेटा अभी खाया ही क्या है ले एक और खा ले चपाती तब माँ तेरी याद है बहुत आती याद ह... Read more

चमत्कार

चमत्कार को नमस्कार है आज धन ही चमत्कार है इंसान के पास अगर धन है वह इंसान ही चमत्कार है ऐ धन तुझे नमस्कार है, तुझको पाने की ललक... Read more

शहंशाह

जो बीत गया पल सुख का भी था दुःख का भी मन में था बोझ बीते पल का जो आनंद की लहरो को उठने नहीं देता था, जाने क्यों व्यर्थ बोझ ढो ... Read more

खुशबू का झोंका

थका सा कुछ निराश सा सो गया नींद के इंतजार में सुबह के इंतजार में बिगर नहाये चले गये पानी के इंतजार में दुकान पर जा बैठे,ग्राहक ... Read more

मुस्कुराना

तेरा ये रूठ कर मुस्कुराना आँखों ही आँखों में कुछ कहना मुझ नासमझ के समझ से पार है बस हम तो इतना समझे मामला या तो आर है या पार है... Read more

तेरा इंतजार

जो देखा था तेरे इंतजार में टूटता पत्ता उस पेड़ से जो सुख गया था बरसात के इंतजार में माली बेखबर सो गया तपती धुप में प्यासा तेरे ... Read more