Copy link to share

बच्चों के लिए एक लघु कविता

बच्चों के लिए एक लघु कविता . ऐसे आ जाती है, ये प्यारी चिड़या, जल के भी अंदर, दूर लक्ष्य तक, अपने भोजन को, पाने को, ये, और बिना ड... Read more

लुप्त वनों और प्रकृति के लिए एक कविता

लुप्त वनों और प्रकृति के लिए एक कविता काश कि ऎसी रेल गाड़ी होती पेड़- पौधों के बीच, वो चलती मैं खिड़की वाली, सीट पे होता जब वो सी... Read more

एक दादा द्वारा अपने पोते को लिए लिखा एक काव्यात्मक पत्र। हिंदी और अंग्रेजी में.

एक दादा द्वारा अपने पोते को लिए लिखा एक काव्यात्मक पत्र। अंग्रेजी और हिंदी में. . प्रिय नन्हें वेद, अब तुम कुछ बड़े हो गए हो और... Read more

वसंत के आगमन पर

वसंत के आगमन पर - On the arrival of Spring - in Hindi & English सहमी सी वसंत ऋतु थी, सोच रही, कहाँ किसे लुभाऊँ, अपनी मादकत... Read more

राधा का गीत

राधा का गीत - निधिवन पर - . "सखी आज तुम्हें, निधिवन की बात मैं बताऊँ शाम पहर जब, आएं मेरे श्याम - वहाँ सखी बन जात सभी, नि... Read more

किसानों के लिए एक कविता

किसानों के लिए एक कविता . कैसी विडम्बना है यह भारत एक विश्व शक्ति बन रहा है और हमारे किसान विवश है अपने जीवन को समाप्त कर... Read more

मेरा शहर कानपुर – कुछ यादों की पंखुड़ियाँ। 01

मेरा शहर कानपुर – कुछ यादों की पंखुड़ियाँ। 01 बहुत मिस करता हूँ ओ मेरे शहर कानपुर बहुत सुकून पाता हूँ तेरे करीब आकर वो गलियां,... Read more

एक प्रार्थना देश के किसानों के लिए

एक प्रार्थना देश के किसानों के लिए . हे ईश्वर इस सुन्दर शस्य श्यामलां भूमि को क्या हो गया वो जल जो यहां कल तक हर गांव - गली... Read more

अंतिम अनुष्ठान

अंतिम अनुष्ठान - In Hindi & English also . . जब जीवन उससे दूर चला गया उसका शरीर एक निवास बन गया स्थायी शांति का नीरवता और... Read more

बेटियाँ - एक कविता / गीत

बेटियाँ - एक कविता / गीत ॰ मैना जैसी - होती है बेटी बोली से ही - मन हर लेती है घर आँगन - फुदक फुदक कर हर किसी को - भान... Read more

एक स्त्री मन की संवेदना- लघु काव्य

एक स्त्री मन की संवेदना- लघु काव्य “इतनी भी नहीं तन्हा मैं कि तुम्हें भी याद न कर पाऊँ दूर क्षितिज पर ढूंढ रहीं तुम्हारी... Read more

एक सुन्दर नव पुष्प को संबोधित - कविता

कितनी बार, मैंने तुम्हारी ओर देखा, कितनी बार- मैंने तुम्हें स्पर्श की कोशिश की हर बार, जब भी मैंने ऐसा किया, मैं रोमांचित ह... Read more

हिन्दी बाल गीत - 01

हिन्दी बाल गीत -०१ . नन्हें - मुन्ने बच्चे हम, पर कितने हैं सच्चे हम, छोटी सी दुनिया हमारी, मम्मी -पापा-दीदी- हम. . कभ... Read more