Copy link to share

दुनिया रंगमंच है *(विश्व रंगमंच दिवस 27 मार्च )

अपना अभिनय दिखा । कभी हंसा देते कभी देते रूला । पर्दे पर वे सब कुछ जता देते । जीवन की सच्चाईयो से हमे । रूबरू करवा जाते है । का... Read more

तू ही इक जीने का सहारा है

घटा चाँदनी रातो मे, क्या नजारा है । तू ही तो इक मेरे जीने का सहारा है । तू बरस जा मेरे ऊपर अंग-भंग कर जा । मै डूब जाऊं तुझमे ऐसा ... Read more

दलितो की हुंकार

काटो सवर्ण जाति के शिराओ को । देखो उसमे क्या खून नही । दलितो की भांति सताओ उनको । देखो क्या उनमे जुनून नही । रखो भूखे उनको । दे... Read more

वाणी को वीणा की मधुर तान बना दो

एक किसान ने अपने पड़ोसी की निंदा की । अपनी गलती का एहसास होने पर वह पादरी के पास क्षमा मांगने गया । पादरी ने उससे कहा कि वह पंखो से भ... Read more

जीवन एक गूंज है

एक छोटा बच्चा अपनी मां से नाराज होकर चिल्लाने लगा, "मै तुमसे नफरत करता हूं । उसके बाद वह फटकारे जाने के डर से घर से भाग गया । वह पहा... Read more

पौष्टिक फल नाशपाती

● नाशपाती का पेङ पर्णपाती होता है, जो गुलाब के परिवार का सदस्य है । इसकी पैदावार पहले यूरोप और एशिया मे हुई थी ।इसकी खेती चीन मे 11... Read more

हारते -हारते जीते अब्राहम लिंकन

एक आदमी की जिंदगी की कहानी बङी मशहूर है । यह आदमी 21 साल की उम्र मे व्यापार मे नाकामयाब हो गया; 22 साल की उम्र मे वह एक चुनाव हार ग... Read more

नकारात्मक सोच वाले लोग

एक चील का अण्डा किसी तरह एक मुर्गी के घोंसले मे चला गया और बाकि अण्डो के साथ मिल गया । समय आने पर अण्डा फूटा । चील का बच्चा अण्डे से... Read more

पाकिस्तानी विरोधी नारे

पाकिस्तान को समझाना । भैंस के आगे बीन बजाना । सीधे अंगुली से घी नही निकलता । मुश्किल है लातो के भूत को बातो से समझाना । बहुत ब... Read more

बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर शान्ति के अग्रदूत

संविधान बनाकर असली आजादी दिलाया । बाबा ने, बाबा ने । हमे जीना सीखाया । बाबा ने, बाबा ने । गूंगे को जबान दिया । बाबा ने बाबा ने ... Read more

परिस्थितियो के सामने सबको झुकना पड़े

चाहे पत्थर तोड़ना पड़े, चाहे खून जलाना पड़े । परिस्थितियो के तो सामने सबको झुकना पड़े । देवता भी न तो बच सके जब हम ग्रन्थ उठा के पढे ।... Read more

आसमान की तरफ भी देखो इक हसीना है

ये घूँट -घूँटकर जीना भी कोई जीना है । एक बार आसमान की तरफ भी देखो । वहां भी इक हसीना है । सौंदर्य उसका देखकर । आती न नींद सेजपर ... Read more

रूपये से प्यार

प्यार इतना न करो की । जीना दुश्वार हो जाय । आंच इतना न दो की । अनाज जलकर खाक हो जाय । प्यार नही ये मेरे साथ तुमने किया है खेल प... Read more

पता न चला

आंखो से ही बात हो गई पता न चला । न जाने उनसे कब मुलाकात हो गई । कुछ पता न चला । मै तो देखता रहा उनके चेहरे को । कब घटा छा गई पता... Read more

तुम युवा हो

नयी उमंग है, नया खून है, नयी है ये जवानी । आपके मे तो सबकुछ करने की रहती है सनसनी । चाहे तो जग को हंसा दो, चाहे तो जग को रूला दो ।... Read more

प्यार की राह

तुम जा रही कहा । इस प्यार के राह पे । कही न मिल जाए कोई । बेवफा सनम अनचाह मे । रखा करो कदम मजबूती से । इश्क, प्यार, मोहब्बत की ... Read more

मोहब्बत का देवदूत

आप का ही प्यार मेरी जिंदगी मे । आपका ही बस खुमार है । ये आसमां की चांदनी भी तेरे आगे बेकार है । कुछ भी नही है तुझसे । फिर भी न ज... Read more

तुमको क्या कहूं

तुम्हे चांद कहूं या आफताब कहूं । या फिर कोई शवाब कहूं । जो भी है तेरी नजरो को देखकर । हम तो तुम्हे लाजवाब कहूं । नाकनटी सी लगती ... Read more

सब है आपके लिए

और भी तुमको क्या चाहिए । हमसे तो कह दो न । ताज भी मांगो तो भी दे दूं । बस हमसे शरारत कर लो न । मन है तो प्यासा देती दिलासा । क्... Read more

कृष्ण हठ

मै गैया चराने नही जाऊंगा । दाऊ ने बहुत खिझायो । साल दो साल नही जाऊंगा । दाउ ने बहुत खिझायो । पहला संदेशा गोपियो का आया -2। अच्छ... Read more

बेतहाशा, बेतहाशा तुझको ही चाहूं मै

मै तुम्हें चाहूं या न चाहूं। पर तेरा दीदार किए । रह न पाउं मै । बेतहाशा, बेतहाशा तुझको ही चाहूं मै । तुमको पाने के लिए । क्... Read more

इस समय आप जो भी कुछ है अपनी सोच और पूर्व कर्मो के परिणाम से है । हौसले से सब कुछ होते है ।

वे भी कुछ कहना चाहते है जिनके आवाज नही होते । उनकी भी तकदीर होती है जिनके हाथ नही होते । जब इन्हे देखता हूँ तो हौसला जग जाता है । ... Read more

मच्छर

कीट है बङा खूंखार । खून है जिसका आहार । सफेदा -नीम की पत्ती सुलगाकर । कर दो इसका समूल नाश । मच्छरदानी मे देखो ये न घूंस पाए । ग... Read more

मां का गुणानुनाद

मां के वीणा से ये कैसी निकल रही तान है । इसी से चमन मे अमन, राग का विहान है । हे! मां तुझसे ही चल रहा ये जहान है । हाथो मे देख शं... Read more

शंका ही भूत

इस पाठ मे एक ऐसे गांव का वर्णन है कि इस गांव के वासी भूतो मे विश्वास रखते थे ।विश्वास करे या न करे दिन -प्रतिदिन घटनाए जो होती । ... Read more

तांडव मंत्र कोरोना

रूप है बङा प्रचण्ड । फैला ये खण्ड -खण्ड। चीत्कार से इसके सभी । धरा है पूरा झण्ड -झण्ड। शोक, रोग से पूरा हुआ । मटियामेट सब यहां ... Read more

ईश्वर का अस्तित्व

एक बार महर्षि रमण के पास एक युवक आया और बोला, स्वामी जी क्या आप मेरे शंकाओ का निवारण करेंगे । महर्षि ने उत्तर दिया, अवश्य । उस युवक... Read more

बालक मजदूर

देखा पथ पर । मजदूरो का जत्था । चिलचिलाती धूप मे । करते रहे थे काम । सोच रहे थे । काम करे की आराम करे । इस तपती दोपहरिया मे । ... Read more

अविराम

आसमाँ छूने की आशा मे हम चलते जाएंगे । पांव भले ही थक जाए हम आगे बढते जाएंगे । मंजिल पाकर ही वापस लौट के आएंगे । चाहे विजय हो या प... Read more

हिंदी भारतीयो की पहचान

हिंदी जो मर जाएगी तो । क्या यहाँ रह जाएगा । आत्मा निकल जाएगी केवल शरीर रह जाएगा । हिंदी भारतीयो की है प्रथम पहचान है । अरे ! जि... Read more

हम भी कवि है

ये कैसी गुमशुम सी बनी तुम्हारी छवि है । बात है क्या तुम बोलो मची ये कैसी खलबली है । दूर सब होगी समस्याए तू चलने वाला राही है । हम... Read more

नजर

नजर तू देख रही किधर है । बुराइयो का जिधर कोई बवंडर है । हे! तू अच्छा क्यो नही देखती है । लगता हैं तू डूबी हुई मदहोश मे । ये कैसा... Read more

सुने है लॉकडाउन है ।

वो पहन कर आखिर क्यो घूम रहा गाउन है । घर से बाहर कोई न निकले सुने है सब लॉकडाउन है । अमेरिका, चीन, इटली और फ्रांस । के दिख रहे है... Read more

कोरोना का सन्नाटा

सब घर क्यो बना कैदखाना है । इंसान सच्चाई से क्यो बेगाना है । यही आज हमने सच्चाई जाना है । सङक है खाली, सन्नाटा है क्यों पसरा । ल... Read more

फिर लिखेंगे

वक्त जब आएगा अपना तो । फिर वह व्यूह रचेंगे । अभी कुछ भी कहो आगे । जरूर इतिहास रखेंगे । जितना भी दुःख, दर्द सिरो पर। पर उसको सहत... Read more

वही तङप का जुनून है ।

बढ चले हम आगे डाक नदी और पहाङ को । एक बार चल पड़े फिर हम दहाङ को । सूर्य न निकलता कभी शाम को । स्वाद है इसका कैसा पीना है इस जाम क... Read more

छुई -मुई का पेङ है ।

छज्जे पर चढती हुई । है पूरी ओ हरी -हरी । हाथ से छूने पर मुर्झाती । जैसे लगे वो शर्माती । जैसे दूर मै जाता हूँ । जैसे वो खिल जा... Read more

प्रकृति से सीखो

किसी से न सीखो । तुम सिर्फ प्रकृति से सीखो । पर्वत सा अडिग रहना । सागर सा लहराते रहना । फूलो से हँसते रहना । दीपक सा जलते रहना ... Read more

मेरे लिए अफलातून है तू ।

वो कहती थी । मेरा चांद है तू । हमारे लिए एक अफलातून है तू । कहने दो लोगो को जो भी कहे । मेरे लिए कोहिनूर है तू। है न भरोसा मुझे... Read more

रात लगा ऐसा ख्वाबो मे

रात ऐसा लगा ख्वाबो मे । जैसे हो तुम मेरी निगाहो मे । रात ऐसा लगा ख्वाबो मे । देखता मै रह गया तेरे रूप को । उन लहराते हुए जुल्फो ... Read more

कैसा लिखता हूँ मै

लिखता हूँ इतना कुछ । कुछ हमे भी कहो न । कमर टूट जाती है । लिखकर -लिखकर । तुम पढती हो न । टिप्पणी करके कुछ कहो । लाइक के बटन क... Read more

नजरे मिला बैठा

आप के देख सुर्ख सूरत पर । मै तो लुभा गया । कुछ आपकी छटा ही ऐसी है । कि मै आपसे नजरे मिला बैठा । Rj Anand Prajapati Read more

कही मुझे कोरोना तो नही

अफनाहट सी हो रही है । घर मे बैठे हुए । मिलना चाहता हूँ अपने सखा से । फैल न जाए कही कोरोना हमको डर है । फैल जाए भले कोरोना । पर ... Read more

आस्था का पर्व नवरात्र

आस्था है बनी हुई । मां तुम हरो मेरे आर्त । सारा जंहा भक्तिमय हो गया । मां आते ही तेरा ये नवरात्र । नव ही दिनो मे लगता है जैसे । ... Read more

जिनको जल्दी थी वे चले गए ।

रफ्ता रफ्ता घूम रही । यह दुनिया है सारी । आप हो कि कर रहे । दौड़ने की तैयारी । यातायात का न कर पालन । वो किधर भी सैर किए । जिनक... Read more

जिनको जल्दी थी वे चले गए ।

रफ्ता रफ्ता घूम रही । दुनिया सारी । आप हो कि कर रहे । दौड़ने की तैयारी । यातायात का न कर पालन । वो किधर भी सैर किए । जिनको जाने... Read more

शहीद -ए- आजम ( भगत सिंह )

क्रांति का दूसरा नाम भगत सिंह । धङके जो सीने मे आग धङक सिंह । याद करो उन हीरो को जिसने हीरा दिलाया आंधी -तूफानी से न डरकर आजादी ... Read more

सिगरेट

पहले इंसान सिगरेट को पीकर धुंआ उङाता है । अंततः सिगरेट ही मनुष्य को श्मशान घाट पर धुंए की भांति उङा देता है । शोक संवेदना :- भ... Read more

आपको ही देखकर दिन और रात होती है

आप जब हँसते है तो मोतियो की बरसात होती है । आप को ही देखकर हमारी दिन और रात होती है । हर दिन खुशियो की बरसात होती है । आप जब हम... Read more

असंभव को संभव बना दूंगा

समुद्र को भी संगम बना दूंगा । अगर चाहा तो असंभव को भी संभव बना दूंगा । ये पत्थर को पिलाकर पानी बना दूंगा । तारो को तोड़कर घर मे सज... Read more