Rashmi Saxena

Shahjahanpur (UP)

Joined February 2018

Teacher

Copy link to share

गज़ल

परदा दरीचों से हमने ही हटाया नहीं था ऐसा नहीं कि सूरज ने जगाया नहीं था चाँद की तलाश रही तीरगी से लड़ने को ... Read more

प्रमाण पत्र

जब भी जाता है घर से बाहर रामदास दिखाना होता है उसे अक्सर प्रमाण पत्र अपने रामदास होने का महज एक फोटो में मिलान होने से... Read more

गज़ल

घना तिमिर है रस्ते भी अन्जाने हैं हर दिन हमको दीप नये जलाने हैं पढ़ सकते हो पढ़कर देखो बूढ़ी आँखों में... Read more