Rani Kumari

Purnea, Bihar

Joined August 2019

Copy link to share

रंगमंच

विश्व रंगमंच दिवस (27 मार्च ) पर सभी रंगकर्मियों को हार्दिक बधाई 💐 रंगमंच जहाँ बिखरते हैं लोकजीवन के रंग अनन्त कलाप... Read more

मुद्दतों बाद

मुद्दतों बाद निहाल हुई हैं माएं अपने बेटे को सुकुन से निवाला मुंह में लेते हुए देखकर। कर रही हैं बातें भरपेट ऑफिस के काम और घर... Read more

कोरोना हार मानेगा

मंत्री हूँ मैं संतरी हूँ सांसद हूँ विधायक हूँ बाहुबली हूँ, महाबली हूँ अधिकारी हूँ, आतंकी हूँ अरबपति हूँ मैं करोड़पति हूँ मैं ने... Read more

चिड़िया मैं चिड़िया

चिड़िया मैं चिड़िया घूमूँ सारी दुनियाँ जैसे पंखों वाली परियाँ। गाँव देखूँ, शहर देखूँ देखूँ फूलों वाली बगिया जहाँ खिलखिलाती कल... Read more

बिंदी

1. हमारी हिन्दी शोभित माँ भारती मस्तक बिंदी। 2. करें संकल्प कनक बिंदी सम हिंदी चमके। 3. मस्तक बीच सुहाग की निशानी सिं... Read more

हिन्दी सबको जोड़ने वाली

तेरी तोतली जुबान से, तुतलायी हूँ। तेरी किलकारी में भी, मैं किलकी हूँ। लोरियों संग झूम -झूम तुम्हें, मीठी नींद सुलायी हूँ। ... Read more

मुक्तक

जब राजा सत्ता-सिरमौर था, तब राजशाही का दौर था। आज सत्ता पर वही आसीन है, कल जिसका ना कोई ठौर था।। भीड़तंत्र का बोलबाला है, न... Read more