23.7k Members 49.9k Posts
राकेश "राज"
Joined January 2017
2 Posts · 105 Views
अश्क़ों को पलकों पे, सजाए रक्खा है। होठों से गीतों को, लगाए रक्खा है।। सबके… Read more

Posts

All मुक्तक (1)शेर (1)
Sort by: Date Views