Dr.P.S.Shakya

Village and post kachhela sherpur kasganj u.p

Joined November 2018

I have written 22 books and seven books have been published.e education post graduate in Human Rights .

Copy link to share

डगर

चला चल मुसाफिर डगर धीरे धीरे। कटेगा दुखों का सफ़र धीरे धीरे।। जो घेरें अंधेरे तो डरना नही है। असत रोके राहें तो रुकना नही है।। ... Read more

ज़िन्दगी एक सफर

ज़िन्दगी एक ऐसा सफ़र है जो मानव जीवन की पराकाष्ठा को प्रमाणित करता है।इस सफर में गर्भावस्था से लेकर अंतिम यात्रा तक सम्बंन्धो और अनुबन... Read more

माँ

माँ है वरदान दृष्टि,नेह ममता बयारि, माँ है गुरुश्रेष्ठ ,पाठ गर्भ से पढ़ाया है । सबला है माँ तो सारे प्राणियों की पूजनीय, जन्म देव ... Read more

मेरा देश

अहिंसा प्रेम का जिसने दिया, संदेश प्यारा है। त्याग बलिदान से जिसने लिखा,इतिहास न्यारा है ।। जहां में है नहीं दूजा कि जैसा देश है,... Read more