शिक्षा- एम. ए (गोल्ड मेडलिस्ट),बी. एड| बचपन से कविता और कहानियाँ लिखने का शौक|साझा कविता संकलनों मे कई कविताएं प्रकाशित| “पिता” कविता के लिये गोल्ड मेडल|फिलहाल पी एच. डी. कर रही|

Copy link to share

शिकायत

मुझे तुम्हारा प्रेम मिला हां बहुत हुआ ना कोई तकरार ना झगड़ा-लड़ाई। एक स्नेह उमंग और एक भाव की स्मृति। सवाल-जवाब में प्रेम ... Read more

खामोश हूँ मैं कुछ वक्त के लिये

गमों को हमें छुपाना नहीं आता, मुस्कुराना और हँसाना नहीं आता खामोश हूँ मैं कुछ वक्त के लिये क्यूंकि दोस्तों को मुझे रुलान... Read more

पगली

दिल की बातों की आजमाइश नहीं होती । इसके लिये कोई फरमाईश नहीं होती आँखो ही आँखो में जाने कितनी बातें हो जाती है कह कर प्यार ... Read more

प्रेम भाव निश्छल देना

ना देना मुझको कोई उपहार ना धन दौलत मुझको देना देना हो अगर तुम्हें कुछ असीम स्नेह-भाव देना ।। ना देना मुझको कोई गहना, ना मुझको ब... Read more

!! प्रेम की दूरी !!

सुरेन्द्र चले गये हमें छोड़कर ! देह से नहीं संभवतः आत्मा से भी....देह से तो आज भी वो रहता है, करोड़ों रूपये का हवेलीनुमा मकान, सुख स... Read more

तेरी यादें

मेरे लबों पे जिक्र है तेरा, तेरी बेवफाई मेरी कहानी बन गयी । तू जो गया मुझको, तन्हा छोड़कर तेरी यादें मेरी आँसू बन गयी । दुआ... Read more