कविताऎं लिखना सिर्फ मेरा शौक ही नहीं मेरा जुनून है…

Copy link to share

भारत की नारी

अब मत सह ओ भारत की नारी क्यूँ सहती चुपचाप तू तकलीफें सारी है आखिर किस वेद, ग्रंथ में लिखा कि पुरुष हैं तुझपर हाथ उठाने के अधिक... Read more

एक बेटी की अपनी माँ से अपेक्षा

मेरी एक अपेक्षा मेरी माँ से कि माँ क्यूँ तू मुझे अपना बेटा नहीं समझती, क्योंकि देखा है तेरी आँखों में मैंने एक बड़े बेटे की ... Read more