Dr. Pradeep Kumar Sharma

मूल रायगढ़ वर्तमान रायपुर

Joined March 2017

परिचय
नाम :- डॉ. प्रदीप कुमार शर्मा
पिता :- श्री लोकनाथ शर्मा
शिक्षा :- एम. ए. (हिन्दी साहित्य, राजनीति विज्ञान, शिक्षाशास्त्र), बी. एड., एम. लिब. आई.एस-सी., पी-एच. डी., CG TET, UGC NET
लेखन विधा :- कविता, हाइकु, कहानी, व्यंग्य, लघुकथा, आलेख, समीक्षा
प्रकाशन :- 13 पुस्तकें प्रकाशित, तीन दर्जन से अधिक पुस्तकों का संपादन, 400+ कविता, कहानी, लघुकथा, हायकु एवं 32 शोध-पत्र प्रकाशित।
प्रसारण :- आकाशवाणी रायगढ़ से 300 से अधिक कार्यक्रम।

Copy link to share

पुनर्वास

पुनर्वास --///- हार्ट अटैक का पहला झटका झेलने के दूसरे ही दिन रमाकांत जी की अपनी निजी पुस्तकालय की सभी पुस्तकें जिला ग्रंथालय को द... Read more

मम्मास बेबी

मम्मास बेबी जोरू का गुलाम बहन, भाभी का चमचा कहलाने के डर से ही मैं अपने जूठे बर्तन सिंक पर रखना अपने कपड़े धोना आटा गूँथना, स... Read more

डर के आगे जीत है

डर के आगे जीत है "हाये... हाये... क्या हुस्न पाई है यार।" "लगता है बनाने वाले ने बड़े ही फुरसत से बनाया है इसे।" "एक बार... बस एक ... Read more

ऐसे भी मंत्री

ऐसे भी मंत्री नवतपा शुरू होने में अभी समय था, परंतु सूर्य देवता अपना प्रचंड रूप दिखाने लगे थे। तापमान 45 डिग्री सेंटीग्रेड पार कर च... Read more

इंसानियत

इंसानियत "बेटी, तुम शहर के सबसे बड़े इंडस्ट्रियलिस्ट ठा. गजेंद्र सिंह की इकलौती बेटी हो। अरबों रुपये की प्रापर्टी का एकमात्र वारीस। ... Read more

सच्चा धर्म

सच्चा धर्म "जच्चा और बच्चा दोनों की स्थिति बहुत ही नाजुक है। यदि तुरंत ए.बी. निगेटिव ब्लड ग्रुप की 300 एम.एल. ब्लड की व्यवस्था नहीं... Read more

बहू-बेटी

बहू-बेटी "मम्मी जी, मैंने आपसे पहले भी कई बार कहा है और अब फिर से कह रही हूँ कि मैं दुबारा शादी नहीं कर सकती।" रमा अपनी जिद पर अड़ी ... Read more

मक्खन बाजी

हास्य व्यंग्य मक्खनबाजी "कहाँ जाने की तैयारी है ?" पतिदेव को तैयार होते देख श्रीमती जी ने पूछा। "आफिस और कहाँ जानेमन, मियां की दौ... Read more

वर्ल्ड रिकॉर्ड

वर्ल्ड रिकॉर्ड राज्य सरकार ने निश्चय किया था कि माननीय मुख्यमंत्री जी की अगुवाई में 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर एक ... Read more

बोझ

बोझ "''''''''' "कितनी मशक्कत के बाद पूरे एक लाख रुपए नगद देकर तुम्हारे लिए दिव्यांग सर्टिफिकेट का जुगाड़ किया था और तुम साक्षात्कार... Read more

मातृत्व

मातृत्व "देखो मालती, मैं तुम्हारी गरीबों की मदद करने की प्रवृति का विरोधी नहीं हूँ। उन्हें खाने-पीने, पहनने-ओढ़ने की चीजें देने, आर्... Read more

हवस

हवस पाँच टूटपुंजिए नेता जी फुटपाथ पर फल वितरण के लिए आए। दो केला बाँटते हुए चार नेताओं की फोटो पाँचवे नेता ने खींची। भिखारी ने पू... Read more

पौधरोपण

पौधा रोपण "क्या बात है दद्दू, आप कुछ उदास लग रहे हैं ? कहीं जलन तो नहीं हो रही है न आपको ?" लगभग दो घंटे पहले रोपे गये नन्हे पौधे न... Read more

हॉस्पिटल मैनेजमेंट

हॉस्पिटल मैनेजमेंट "सर, जब आप क्लास में हमें पढ़ाया करते थे, तब आपका एक दूसरा ही रूप देखा करता था, यहाँ हॉस्पिटल में आप एकदम दूसरे व... Read more

संकल्प

संकल्प "ठीक है वर्माजी, आपकी ज्वाईनिंग की सारी औपचारिकताएँ पूरी हो गई हैं। मैं इसे डी.ई.ओ. को फारवर्ड कर दूँगा। आप चाहें, तो आज ही ... Read more

एक पंथ दो काज

एक पंथ दो काज अक्सर इतवार की शाम शर्मा जी अपने बीबी-बच्चों के साथ लाँग ड्राइव पर शहर से दूर गाँव की ओर निकल पड़ते थे। इस बार भी अभी ... Read more

क्या यह महज संयोग था या कुछ और.... (4)

4. क्या यह महज संयोग था या कुछ और...? हमारे रोजमर्रा के जीवन में कभी-कभी कुछ ऐसी घटनाएँ घटती हैं, जो अजीबोगरीब और अविश्वसनीय लगती... Read more

क्या यह महज संयोग था या कुछ और.... (3)

3. क्या यह महज संयोग था या कुछ और...? हमारे रोजमर्रा के जीवन में कभी-कभी कुछ ऐसी घटनाएँ घटती हैं, जो अजीबोगरीब और अविश्वसनीय लगती... Read more

क्या यह महज संयोग था या कुछ और.... (2)

2. क्या यह महज संयोग था या कुछ और...? हमारे रोजमर्रा के जीवन में कभी-कभी कुछ ऐसी घटनाएँ घटती हैं, जो अजीबोगरीब और अविश्वसनीय लगती... Read more

क्या यह महज संयोग था या कुछ और.... (1)

1.क्या यह महज संयोग था या कुछ और...? हमारे रोजमर्रा के जीवन में कभी-कभी कुछ ऐसी घटनाएँ घटती हैं, जो अजीबोगरीब और अविश्वसनीय लगती ... Read more

प्यार का इम्तेहान

कहानी प्यार का इम्तेहान हमारी कॉलोनी का गणपति महोत्सव पूरे शहर में मशहूर है। लगातार दस दिनों तक यहाँ मेले की तरह धूम रहती है। बच्च... Read more

माँ

मेरा दु:ख, माँ का दु:ख मेरी खुशी, माँ की खुशी चोट मुझे लगती है मेरी माँ रो पड़ती हैं। खाना मैं खाता हूँ माँ तृप्त हो जाती हैं। ... Read more

मन की बात

मन की बात ------------- हिन्दी दिवस पर विधानसभा में व्याख्यान हेतु डॉ. राघवेंद्र जी को आमंत्रित किया गया था। वे दुनियाभर के विश्व... Read more

मुफ्तखोरी

मुफ्तखोरी ---------- जिस कार्यालय में मैं नौकरी करता हूँ, वहाँ एक प्रकार की परिपाटी-सी बनी हुई है कि कनिष्ठ कर्मचारी ही अपने पैसों... Read more

मेनका की ‘मी टू’

मेनका की ‘मी टू’ ----------------- “राजेश जी आप चांदनी चौक तरफ ही रहते हैं न ?” ऑफिस से निकलते ही डायरेक्टर साहब की स्टेनो मेनका ... Read more

उर्वशी की ‘मी टू’

उर्वशी की ‘मी टू’ ---------------- “राजेश जी आप चांदनी चौक तरफ ही रहते हैं न ?” ऑफिस से निकलते ही डायरेक्टर साहब की स्टेनो उर्वशी... Read more

रम्भा की ‘मी टू’

रम्भा की ‘मी टू’ ----------------- "हेलो, मुख्यमंत्री साहेब नमस्कार ! मैं रम्भा बोल रहा हूँ, खतरा जनपद पंचायत अध्यक्ष. पहचाना साहे... Read more

गणेश जी का हैप्पी बर्थ डे

गणेश जी का हैप्पी बर्थ डे ------------------------ “गणेश बप्पा ! ये अच्छी बात नहीं है. आपका हैप्पी बर्थ डे आने वाला है और आप यूँ द... Read more

मोबाइल महात्म्य (व्यंग्य कहानी)

मोबाइल महात्म्य “अजी सुनते हैं।” कहती हुईं हमारी श्रीमती जी मोबाइल हाथ में पकड़े मेरे सामने आकर खड़ी हो गईं। “अजी सुनाइए तो...” हमने... Read more

त्रिया-चरित्र (व्यंग्य कहानी)

त्रिया-चरित्र भारतीय सभ्यता और संस्कृति की बात ही निराली है। यहाँ मानव जीवन का ऐसा कोई भी क्षेत्र नहीं है जिसमेँ धर्म और अध्यात्म क... Read more

पेट्रोल लोन के साथ मुफ्त कार का ऑफर (व्यंग्य कहानी)

पेट्रोल लोन के साथ मुफ्त कार का ऑफर वैसे जानने वाले तो मानते ही हैं लेकिन अब यह बात तो आपको भी मान ही लेनी चाहिए कि मैं बचपन से ही ... Read more

‘मी टू’ (व्यंग्य कहानी)

व्यंग्य कहानी ------------ -: ‘मी टू’ :- आजकल ‘मी टू’ का कहर किसी सुनामी से कम नहीं, जिसने हमारे जैसे किसी भी बेहद ही शरीफ और सं... Read more

चुनिंदा बाल कहानियाँ (पुस्तक, बाल कहानी संग्रह)

चुनिंदा बाल कहानियाँ ******************* आज का श्रवण कुमार रामपुर में रतन अपनी दादी के साथ रहता था। पाँच बरस पहले जब वह सिर्फ स... Read more

चुनिंदा बाल कविताएँ (बाल कविता संग्रह)

चुनिंदा बाल कविताएँ ***************** 1. हम जब तक मैं मैं रहूंगा और तुम तुम रहोगे देश बंटता जाएगा। जब मैं मैं न रहूंगा ... Read more

हाइकु शतक (हाइकु संग्रह)

हाइकु शतक ********** 1. चुप रहना कुछ मत कहना कर दिखाना। ----------- 2. अकेला तू ही बदलेगा दुनिया शुरु तो कर। ----------- ... Read more

चंद हाईकु

चंद हाईकु ///////// मिलना ही है आज नहीं तो कल पाप का फल। ************ मन के सच्चे भगवान के जैसे होते हैं बच्चे। *********... Read more

चुनाव

लघुकथा ---------- चुनाव -------- कहाँ तो उन्हें पहले भरपेट खाने को नहीं मिलता था और अगर मिलता भी, तो तब, जब वे भूख से अधमरे हो ... Read more

बच्चा सिर्फ बच्चा होता है

लघुकथा -------- बच्चा सिर्फ बच्चा होता है ---------------- मालती आज अपने आठ वर्षीय पोते को लेकर मालिक के घर झाड़ू-पोंछा करने आई... Read more

लड़की

लघुकथा लड़की """""""""" "माँ, सोनू की मम्मी बहुत बुरी हैं। उन्होंने रामू, श्यामू, चंदर, शुभम, रूपम और मुहल्ले के कई बच्चों को संत... Read more

कफन

लघुकथा कफन ""'''''''''' पिछले दो दिन से पत्नी की तबीयत ठीक नहीं थी। घर में खाने के लाले पड़े थे। ऐसी मुफलिसी में दवा-दारू कैसे करे... Read more

चुनिंदा लघुकथाएँ

चुनिंदा लघुकथाएँ ************** अनुक्रमणिका 1. तलाकशुदा 2. बड़े बाबू 3. संतुलन 4. अपना पराया 5. नेताजी का रक्तदान 6. गुरुदक... Read more

छत्तीसगढ़ रत्न (जीवनी पुस्तक)

छत्तीसगढ़ रत्न ----------------------------------- डॉ. प्रदीप कुमार शर्मा एम.ए. (हिन्दी साहित्य, राजनीति विज्ञान, शिक्षाशास्त्र), ... Read more