Copy link to share

गीत- माँ की सूरत

ये मत पूछो मत पूछो माँ की कैसी सूरत होती है। त्याग प्रेम औऱ ममता की वो मूरत होती है। 1 हमें सुलाकर सूखे में खुद सीलन है सहती,... Read more

गीत- माँ की सूरत

ये मत पूछो माँ की कैसी सूरत होती है। त्याग, प्रेम और ममता की वो मूरत होती है। 1. हमे सुलाकर सूखे में खुद सीलन है सहती, हमे खिलाक... Read more

मुक्तक

बेरुखी की नजर से सिहर जाएंगे। टूट कर कांच सा हम बिखर जाएंगे। यूँ न जाओ सनम दिल मेरा तोड़कर बिन तुम्हारे कसम हम तो मर जाएंगे। पव... Read more