Raj Vig

Joined January 2017

Copy link to share

काफिले बहारों के

बीत रहे हैं दिन नाकाम सिलसिलो के थका हुआ मै सब्र सहलाता हूं । टूट रहे हैं इम्तिहान रोज कोशिशों के हारा हुआ मै मुकद्दर... Read more

सायोनारा

आंसुओं को आंखों मे छुपा उन बस्तियों को आज वो किनारा कर गया । लोटेगा नही फिर कभी बहुत दूर से आज वो इशारा कर गया । ब... Read more

दामन मे आग

खोया सपनो की दुनिया मे रातों की नींद गंवा बैठा कल आज की चिन्ता मे उम्र अपनी बीता बैठा । अंधकार के गहरे सायों मे उजाले का द... Read more

उसकी आंखें

उभर आती है जब भी तस्वीर प्यार की खिलखिला जाती है मुस्करा जाती हैं आंखें उसकी । ख्याल दिल के जब भी मचल जाते हैं बहक जाती ह... Read more

सारथी

गोरा है तन काला है मन यहां कौन बनेगा कब किसका साथी । झूठी हैं बातें भ्रमित हैं नाते मोह मे बंधा हर जीव स्वार्थी । लाल... Read more

कुंडली का सांप

छिड़ी है जंग अब हाथ की रेखाओं से मजबूत हैं इरादे अब डर लगता नही हार जाने से । गुजर जाना है अब कांटो भरे रास्तों से हंसत... Read more

आवाज दिल की

कल धीरे थी आज तेज हो गयी रफ्तार जिन्दगी की मालगाड़ी से हवाई जहाज हो गयी । कल जमी पे थी आज हवा मे हो गयी ख्वाहिश चंचल मन... Read more

तेरे बाद

शामे उदास रहने लगी तेरे चले जाने के बाद आंखों मे आंसू रहने लगे मुद्दतों गुजर जाने के बाद । दिन गुजरने लगे तेरी यादों मे म... Read more

कृपा का खजाना

खुद ही आवाज देकर आज बुलाया है उसने बदलेंगी दिशायें जिन्दगी की जीने की राह को बताया है उसने । उम्मीदों को विश्वास का नाम दे... Read more

बीज

बड़े अरमानो के साथ बोया था जो बीज आज लम्बे इन्तजार के बाद अंकुरित हुआ है वो । मिट न जाये वजूद उसका हर मौसम की मार से बचना... Read more

सादगी

सादगी का तेरी यहां कोई सम्मान करे ऐसा समाज मे आजकल कोई नजर आता नही । अपनी चालाकियों से कोई तेरी शराफत का फायदा न उठाये ऐ... Read more

खोफ

सजा से तेरी यहां अब कोई डरता नही माथे को तेरे द्वार पे टिकाने के बाद गुनाह करने से कोई झिझकता नही । कौन है तू कैसा है तू व... Read more

कालेज का प्यार

कालेज के दिनो का प्यार आज पहलू मे आ बैठा था दिल मे बरसो से छुपे अरमान आज फिर जुबान पर आ बैठे थे । पहले से ज्यादा निखरा था र... Read more

लकीरें

खिंची हैं मेरे हाथों मे कुछ टेढ़ी मेढ़ी सी लकीरें कंयू मिटती नहीं है लिखी गयी हैं जो तकदीरें । आंखों से नज़दीक दिखते हैं जो ... Read more

सांसें

आंखों से आंसू टप टप गिर रहे थे सीने से गमो के तूफान उठ रहे थे बोटी बोटी इन्सानियत का कत्ल हुआ था एक जंगली भेड़िये से इन्सान डर... Read more

उम्मीदों के पुल

देर से ही सही आ गया हूं उन राहों मे जहां मिलने लगा है सकून जिन्दगी के चलते सफर मे । मौसम के बिना ही फूल खिलने लगे हैं शाख... Read more

सीख

जंत्र मंत्र तंत्र सब करके देख लिया पंडित ज्ञानी ध्यानी सब पूछ के देख लिया । उनका कहना करना सब करके देख लिया लोगों के मन... Read more

दिल के करीब

मुद्दतों के बाद फिर कोई दिल के करीब आया है नया चेहरा लेकर जज्बात वो पुराने लाया है । आंखों मे प्यार बसा कर कोई वीरान जिन्... Read more

पहली बार

वादा किया है जिन्दगी से मैने पहली बार करना नही पड़ेगा अब उसे और इन्तजार ले जाऊंगा उसे मै सपनो के द्वार महकेगी जब जिन्दगी पतझड़ भ... Read more

गुजरे लम्हे

गुजर गये हैं जो लम्हे जिन्दगी के लौट कर नही आयेंगे वो मुकाम बीते सफर के । गुजर गये हैं जो तूफान गमो के साथ उड़ा ले गये ... Read more

कृपा दृष्टि की आस

कृपा दृष्टि की आस लिये ढूंढ रहा है, वो तुझे मुरारी वृन्दावन की उन गलियों मे जहां गूंजी थी, तेरी किलकारी । मोह माया से, त्या... Read more

शान

जंगल मे जानवर बहुत हैं भालू, चीता, हाथी सबकी अपनी आन है लेकिन जब निकलता शेर अपनी मांद से है उसकी अलग अपनी शान है । बाजार मे ... Read more

किसी की खातिर

रास्ते तो बहुत मिले थे मंजिलो को पाने के किसी की आंखों की नमी देख कदम मैने उठाया ही नही । मौके तो बहुत दिये थे जिन्दगी ने ... Read more

चिन्तन

चिन्तन करने लगा हूं मै उस जहान का लौटा नही जहां से कोई मै उस आसमान का । चिन्तन करने लगा हूं मै हवा के उस झोंके का दिखता... Read more

अन्तर्मन की चेतना

वो पिटता लुटता रहा वो लहुलुहान होता रहा वो चिल्लाता पुकारता रहा मै वीडियो बनाता रहा । उसके पास जाने से मै कतराता रहा आवाज... Read more

ये कैसी अखबार

ये कैसी अखबार मै पढ़ने लगा हूं दिन दहाड़े सबके सामने झपट मारी रोज बेआबरू होती अबला नारी छोटी छोटी बातों मे मारा मारी । ये कै... Read more

प्यार के दो अल्फाज

इशारे वो इस कदर दिन मे आजकल करने लगे हैं नींद कम और सपने ज्यादा अब रात आने लगे हैं । जुंबा से चुप हैं मगर आंखों से सब बतान... Read more

सूखा पत्ता

वो भी कभी बहारों का हुआ करता था हिस्सा गिरा पड़ा था सड़क पर जो सूखा निर्जीव पत्ता । प्रकृति ने साथ दिया नही जडों ने पोषण ... Read more

जो किये थे कसूर

अपमान किया है उसने किसी का बेआबरू कर दिखाया है गरूर दी है सजा उसने किसी को जो था बिल्कुल बेकसूर । मिलेगा उसे इसका दण्ड रो... Read more

कल्पना से परे

कल्पना से परे जो जहान है मिले तुझे ये मेरा अरमान है फूलों से भरी जो राहें हैं मिले उन्हें जो तेरे पांव हैं ।। चमकता जो रात म... Read more

कितना वो गरीब हुआ करता था

गुजरा जब मै उस बस्ती से जहां वो रहा करता था रोंगटे मेरे खड़े हो गये कैसे वो जिया करता था । धुंए से भरी झोंपड़ी मे गिनती क... Read more

पन्ने

मिटा दिये हैं मैने रूलाते थे बहुत जब याद आते थे अतीत के मायूस पन्ने । कोशिशें की हैं मैने भुलाने की नफरतें उभर न आये निश... Read more

नमन करूं द्वार तेरे मै पावन

निर्मल हुआ है तन मन उज्ज्वल हुआ है जीवन चरणों मे जब मिली शरण मेरे जगत प्रभु रघुनंदन । सुखमय हुआ है अन्तर्मन हर सांस हुई ह... Read more

नरक का दंड

कर्मो का समय जब मेरा पूरा हुआ प्रभु के आदेश से यमराज दूतों के साथ प्रकट हुए मुझे मेरे शरीर से अलग किया गया और प्रभु के समक... Read more

क्यूं प्यार को तरसा रही है

दिल से ये आवाज बार बार आ रही है जितना मै तुझे चाह रहा हूं उससे ज्यादा तू मुझे चाह रही है । मेरी आंखें तेरी आंखों से बार बा... Read more

खिल उठा है कमल

खत्म हुआ है सिलसिला अब बातों का आ गया है वक्त कछ कर जाने का । गुजर गया है दौर तूफानो का आया है मौसम लौट के फिर से मुस... Read more

जिन्दगी

माया के चक्र मे भ्रमित है हर इक जिन्दगी अधूरी इच्छाओं से ग्रसित है हर इक जिन्दगी । चिन्ताओं के भंवर मे कल्पित है हर इक जि... Read more

मुकद्दर से हारा है तू

दामन को आंसुओं से कयूं भिगोता है तू कर्मो से नही मुकद्दर से हारा है तू । मुश्किलों के तूफानो से कयूं डरता है तू अपने मु... Read more

दोस्त

बदला है रूप जिन्दगी ने दोस्तों ने चेहरे बदल लिये चलते थे जो रोज साथ साथ उन्होंने आज रस्ते बदल लिये । आंखों से पहचानते हैं ... Read more

रूप गज़ब है

ख्वाब लिये मै आंखों मे पहुंचा हूं उन गलियों मे जहां नाम तेरे की चर्चा है गलियारों और मयखानों मे । रूप गज़ब है यौवन मे निक... Read more

सड़क किनारे

सिसकता सुबकता वो सारी रात रहा दो रोटी की जुगाड़ मे भटकता वो सारा दिन रहा । गरीब कमजोर होने की सजा वो बर्दाश्त करता रहा आ... Read more

21वीं सदी का इन्सान

गली मे आज फिर लगी है भीड़ कत्ल हुआ है इन्सानियत का देखती रह गयी है भीड़ खोफ की पहचान बन गया है हैवान लूट कर ले गया है किसी क... Read more

गमो का बोझ

गमो का बोझ जब दिल से उठाया न गया आंखों से अश्कों का राज़ भी छुपाया न गया । दर्दे दिल चाह कर भी किसी को बताया न गया जख्म... Read more

एक बार

करता रहा मै जिन पलों का इंतजार जिंदगी मे लौट कर नही आए, एक बार । देखा करता था जिन्हे सपनो मे कई बार हकीकत मे वो पल भी ... Read more

यादों के झोकें

यादों के तेरे जब झोकें चले आते हैं सांसों मे तेरी महकों के गुलाब चले आते हैं । ख्वाबों मे गुजरे हुए हसीन वो पल चले आते हैं ... Read more

उम्र होगी जब आपकी

उम्र होगी जब आपकी लिखने की ख्वाहिश होगी आपकी एक हाथ मे कापी आपकी दूसरे हाथ मे होगी कलम आपकी दिल की तमाम बाते आपकी लोगों मे ... Read more

आंखें

मोटी मोटी बड़ी बड़ी वो खूबसूरत आंखें सुन्दर चेहरे पे लगती वो प्यारी आंखें छलकती हुई वो आसमानी आंखें झुकती पलको मे अदा लगती कज़रार... Read more

मेहनत के फल

गलती करते करते पहुंचेगा वो उस रस्ते जहां मिल जायेंगे उसे कामयाबी के गुलदस्ते । डरेगा नही वो हालात कितने भी हो खस्ते चढ... Read more

खूशियों के पल

जी भर के आज वो मुस्कराया है बाद मुद्दत के खूशियों का पल झोली मे उसकी आया है । खूशियों का पैमाना आंखों से छलक आया है पाने... Read more

जीवन की बाजी

पल दो पल के जीवन मे क्या खोया, पाया मैंने इन सब बातों को मै भूल चुका हूं । कुछ वादों को, कुछ नातों को मै तोड़ चुका हूं ज... Read more