Nitin Sharma

इटावा, कोटा , राजस्थान

Joined November 2016

नितिन शर्मा , इटावा कोटा ( राजस्थान ) – ग़ज़ल /मुक्तक लेखन
मोबाइल – 9784824274

Books:
विभिन्न पत्रपत्रिकाओं , में एवं सांझ संकलनों में कई गजलें प्रकाशित

Copy link to share

●● एक_कागज़_का_टुकड़ा ●●

#एक_कागज़_का_टुकड़ा ********************* क्या कहूँ कैसे कहूँ माँ पिताजी से शायद मेरी ख़ुशी के लिए मान जायें हाँ .......... आज... Read more

बेटियाँ खुश रहे ये दुआ दीजिये

सर सभी का यहाँ अब झुका दीजिये नातुआ हम नहीं ये दिखा दीजिए प्यार सब के दिलो में बढ़ा दीजिये नफरतें आज सारी घटा दीजिये ? बेटिया... Read more

[[★ मिला जो भी मुझको गँवाना पड़ा हैं ★]]

मिला जो भी मुझको गँवाना पड़ा हैं यही बात सब को सुनाना पड़ा हैं गमे ज़िन्दगी का भुलाने के खातिर हमे आज फिर मुस्कुराना पड़ा है... Read more

[[ ★ ज़िन्दगी बिखरी हुई है ये कभी सोचा नही ★ ]]

ज़िन्दगी बिखरी हुई है ये कभी सोचा नही सोच लेता में अगर तो फिर कभी सोता नही ख़्वाब में आके सनम जब यूँ रुलाकर चल दिए इक दफा द... Read more

[[★ ग़ज़ल प्यार की इक बियाबान लिख दूँ ★]]

☘ ग़ज़ल प्यार की इक बियाबान लिख दूँ अगर तुम कहो तो मे'री जान लिख दूँ ☘ लिखू शेर तुझ पर लिखू में कहानी मुहब्बत दिलों की ये'व... Read more

[[ तुम्ही हो जिंदगी मेरी तुम्ही हो आसमाँ मेरा ]]

✍ तुम्ही हो जिंदगी मेरी तुम्ही हो आसमाँ मेरा तुम्ही हो हमसफ़र मेरी तुम्ही हो राजदां मेरा नही अब हम अकेले है तुम्हारा साथ है ह... Read more

( चंद शेर )

1. उनकी'यादों ने हँसाया देर तक बेबसी ने फिर रूलाया देर तक 2. नही आसान ये उल्फ़त नितिन अब ग़मो ने तुझ को भी मारा बहुत हैं 3... Read more

( तुम्हे भी चाहने वाला वो कोमल हो भी सकता है )

⚛ तुम्हे भी चाहने वाला वो कोमल हो भी सकता है तुम्हारी आँख की रौनक़ में काजल हो भी सकता है तुम्हारे होंठ की लाली तुम्ह... Read more

■ तुम्ही हो जिंदगी मेरी ■

#मुक्तक ■ तुम्ही हो जिंदगी मेरी तुम्ही हो आसमाँ मेरा तुम्ही हो हमसफ़र मेरी तुम्ही हो राजदां मेरा नही अब हम अकेले है ... Read more

[[ डूबती कश्ती को मेरी फिर किनारा मिल गया ]]

? ज़िन्दगी में इक सहारा जब तुम्हारा मिल गया डूबती कश्ती को मेरी फिर किनारा मिल गया झूमता ही नाचता गाता ... Read more

[[ ज़िन्दगी में इक सहारा जब तुम्हारा मिल गया ]]

⚛? मुक्तक ज़िन्दगी में इक सहारा जब तुम्हारा मिल गया डूबती कश्ती को मेरी फिर किनारा मिल गया हम ख़ुशी से... Read more

【 आख़री ख़त 】

तुम्हारा ख़त मिला खून में नहाया हुआ अल्फाज रोते हुऐ मिले मानो रिहाई की दुहाई दे रहें हों.. ख़त देखकर उतना ही स्तब्ध हूँ जित... Read more

[[ ★ ज़िन्दगी ने मुझे भी दिया कुछ नही ★ ]]

ग़ज़ल ? ज़िन्दगी ने मुझे भी दिया कुछ नही ! मुफ़लिसी के सिवा फिर रहा कुछ नही !! १ माँगते ही रहे हम दुआएँ मगर... Read more

■ तुम जिंदगी हो मेरी ■

■ मुक्तक ■ तुम जिंदगी। हो' मेरी तुम ही मे'रे खुदा हो माँगी है ये दुआएँ उनका ही आसरा हो अब यार क... Read more

◆◆ हमेशा प्यार करेंगे ◆◆

■ मुक्तक ■ है प्यार मेरे यार ना इनकार करेंगे करते हैं तुझे प्यार सदा प्यार करेंगे १ अब खोल दो यह... Read more

[[ इश्क़ में जब दूरियाँ तुमको कभी लगने लगे ]]

? ग़ज़ल इश्क़ में जब दूरियाँ तुमको कभी लगने लगे आँसुओ की धार जब तुमको नदी लगने लगे [[[[[[[[[[[[[[[[[}::::::::::::::::::... Read more

[[ वफ़ा दो वफ़ा लो मुहब्बत मिलेगी ]]

⚛ वफ़ा दो वफ़ा लो मुहब्बत मिलेगी ,! बता दूरियाँ जान कब तक सहेगी ,!! १ ■???????????■ जला दो चिराग़े वफ़ा के जरा तुम ,! हमारी कहानी... Read more

■ हक़ीक़त हूँ यारों कहानी नही हूँ ■

■ हक़ीक़त हूँ यारों कहानी नही हूँ वही आग हूँ यार पानी नही हूँ ■ *** ■ दुखों से भरी जिंदगानी थी मेरी मैं ऐसी थकी जिंदगानी नहीं ... Read more

सुनेगा कोई कहानी मेरी

क्या कहानी थी मेरी किसको सुनाऊ दास्ताँ गर सुने कोई उसे वो बावरा हो जायेगा Read more

[[ मुहब्ब्त में मुझको बिखरने दो यारों ]]

? मुहब्ब्त में मुझको बिखरने दो यारों ,! हदों से मुझे भी गुज़रने दो यारो ,!! १ मुहब्ब्त की कलियाँ यहाँ खिल गई हैं ,! मुहब्ब... Read more

[[ वतन के लिए सर कटाने चले हैं ]]

वतन के लिए सर कटाने चले हैं ,! सभी फ़र्ज अपना निभाने चले हैं ,!! १ वतन है हमारा ... Read more

[[ भुला दी कब की अपने प्यार की जो भी कहानी है ]]

भुला दी कब की अपने प्यार की जो भी कहानी है ये मेरा दर्द ही मेरी वफ़ा की बस निशानी है ।। ?????? सुनाये हम यहाँ किसको मुहब्बत की... Read more

[[ मुहब्बत खिलौना बना तो न दोगे ]]

मुहब्बत खिलौना बना तो न दोगे ,! हक़ीक़त बता दो सजा तो न दोगे ,!! १ ?✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒? वफ़ा कुछ नहीं दोस्ती कुछ नहीं है ,! फलक से कही... Read more

[[ दिल्लगी उनकी कहानी संगदिल भाती नही ]]

? दिल्लगी उनकी कहानी संगदिल भाती नही ,! बात आखिर क्या हुई क्यों मुझको बतलाती नही ,!! १ ?✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒✒? ? क्या हुई गलत... Read more

[[ सताये रात जब तुमको मुहब्बत में सनम जब भी ]]

सताये रात जब तुमको मुहब्बत में सनम जब भी ,! 'अरूण' से रोशनी लेकर, शबे 'पूनम' सजा देना ! ? नितिन शर्मा ? Read more

[[ निहारूँ तुम को जी भरकर अगर अधिकार हो जाये ]]

निहारूँ तुम को जी भरकर अगर अधिकार हो जाये कसम से देख ले जो भी वही दिलदार हो जाये कँवल से होंठ नाज़ुक हैं कली हो तुम बहा... Read more

[[ खो गई नीद आँखों से माँ बाप की ]]

खो गई नीद आँखों से माँ बाप की घर में जब से हुई है जवां बेटियाँ #नितिन_शर्मा Read more

[[ जो डूबा इश्क़ के दरिया में वो दिलबर नही लौटा ]]

जो डूबा इश्क़ के दरिया में वो दिलबर नही लौटा गया जो डूब इसमें यार , वो अक़्सर नही लौटा बिताये साथ जो लम्हें मुहब्बत... Read more

[[ नदी चुप है किनारे बोलते है ]]

नदी चुप है किनारे बोलते है दबे जो राज भी ये खोलते है जमाना आ गया कैसा यहाँ अब बड़े चुप हो तो छोटे बोलते है Nitin sharma Read more

[[ माना कि आज गर्दिश में हैं मेरे सितारे ]]

माना कि आज गर्दिश में हैं मेरे सितारे जाओ न छोड़कर यूँ अब भी हैं हम तुम्हारे ये इश्क़ है अजब शय कोई समझ न पाया कोई हार के ... Read more

[[ नफरते अब मिटा मान सम्मान कर ]]

नफरते अब मिटा मान सम्मान कर अब किसी का यहाँ तूँ न अपमान कर प्यार होता नही है किसी शर्त पर अपनी शर्तों को कुछ और आसान क... Read more

[[ सदा रहती यहाँ माँ बाप की बेटी दुलारी है ]]

सदा रहती यहाँ माँ बाप की बेटी दुलारी है बड़ी चिंता सताती है यहाँ बेटी कुँआरी है सजाकर ख्वाब को दिल में यहाँ म... Read more

[[ प्रेम की अब कहानी सुनाने चली ]]

प्रेम की अब कहानी सुनाने चली ,! प्रेम होता अमर ये बताने चली ,!! रूठ कर श्याम कब से हैं बैठे यहाँ ,! राधिका कृष्ण को अ... Read more

[[ प्रेम की अब बाँसुरी लेकर चले कान्हा ]]

प्रेम की अब बाँसुरी लेकर चले कान्हा ,! प्रेम की इस तान पर हम मर मिटे कान्हा ,!! प्रेम का रिश्ता बनाया,सँग तुम्हारे दिल से ,! ... Read more

[[ मुहब्बत में सबकुछ ही सहना ग़ज़ल है ]]

मुहब्बत में सबकुछ ही सहना ग़ज़ल है ,! गमे दिल को लफ्ज़ो में कहना गजल है ,!! कलम लिख रही है मुहब्बत दिलो की ,! गमे दर... Read more

[ मुहब्ब्त में बग़ावत और क्या है ]]

मुहब्ब्त में बग़ावत और क्या है ,! बयाँ होती मुसीबत और क्या है ,!! मुहब्ब्त को दे'खा है हमने तड़पते ,! बताती ये हक़ीक़त और क्या है... Read more

[[ हमनशीं पास हो तो मुहब्ब्त भी हो ]]

हमनशीं पास हो तो मुहब्ब्त भी हो ,! साथ मिलता रहे यह इनायत भी हो ,!! १ हो न जाना जुदा हम से तुम भी सनम ,! इश्क़ तो हो गया ... Read more

[[ कहानी राजदा सुनता नही है ]]

कहानी राजदा सुनता नही है ,! सफ़र में साथ भी चलता नहीं है ,!! मुहब्बत में वफ़ा मिलती कहा अब ! गुलाबी फूल अब खिलता नहीं है ,!! ... Read more

[[ खूबसूरत सज रहा बाज़ार हैं ]]

खूबसूरत सज रहा बाज़ार हैं ,! रोज लगता है यहां त्यौहार है ,!! १ सज रहे बाज़ार खुशियों के यहाँ ,! ईद का मक़सद बढ़ाना प्यार है ,!! ... Read more

[[ मुहब्बत जता कर हदे लांघते है ]]

मुहब्बत जता कर हदे लांघते है ,! हक़ीक़त वफ़ा की नही जानते है ,!! निगाहे मिलाकर न देखा कभी भी ,! रुलाकर हँसाना नही जानते है ,!! Read more

[[ प्यार होतो गया हमसफ़र ]]

प्यार होतो गया हमसफ़र ,! साथ देना यहाँ उम्रभर ,!! १ चाँदनी रात कटती नही ,! नींद आती नही रात भर ,!! २ साथ हो तुम यहाँ ह... Read more

[[ है प्यार मेरे यार ना इनकार करेंगे ]]

? है प्यार मेरे यार ना इनकार करेंगे करते हैं तुझे प्यार सदा प्यार करेंगे १ #हुस्ने_मत्ला हम प्... Read more

[[ जुबाँ अपनी मुहब्बत में कभी बोले नही होंगे ]]

? जुबाँ अपनी मुहब्बत में कभी बोले नही होंगे दबे है राज जो दिल में , कभी खोले नही होंगे १ लगे है लाख जो पहरे , मुहब्बत... Read more

[[ लिखी है खून से हमने मुहब्बत की इबादत है ]]

? लिखी है खून से हमने मुहब्बत की इबादत है जमाना कर रहा देखों मुहब्बत पे बगावत है १ खुदा ने खुद बनाई ह... Read more

[[ प्यार करते हैं सनम तुम को सितारों की तरह ]]

? प्यार करते हैं सनम तुम को सितारों की तरह हमने चाहा है तुम्हे चाहने वालों की तरह हुस्ने मत्ला नाम आता है ते'रा ... Read more

[[ इस जहाँ के अँधेरे मिटायेंगे हम ! एक सूरज नया फिर उगायेंगे हम !! ]]

? मत्ला *** 1 *** इस जहाँ के अँधेरे मिटायेंगे हम एक सूरज नया फिर उगायेंगे हम *** हुस्ने मत्ला 2 *** एक मत्ला तुम्हे अब सुन... Read more

इस जहाँ के अँधेरे मिटायेंगे हम ! एक सूरज नया फिर उगायेंगे हम !!

? मत्ला *** 1 *** इस जहाँ के अँधेरे मिटायेंगे हम एक सूरज नया फिर उगायेंगे हम *** हुस्ने मत्ला 2 *** एक मत्ला तुम्हे अब सुन... Read more

[[ मुहब्बत में सनम आँखे बही मालूम होती हैं ]]

? मुहब्बत में सनम आँखे बही मालूम होती हैं ! अँधेरी रात है और चाँदनी मालूम होती हैं !! मुहब्बत को जमाने से मिटाने... Read more

[[ मुहब्बत में सनम आँखे बही मालूम होती हैं ]]

? मुहब्बत में सनम आँखे बही मालूम होती हैं अँधेरी रात है और चाँदनी मालूम होती हैं मुहब्बत को जमाने से मिटाने फिर च... Read more

[[ मुहब्बत में सनम बातेँ फ़क़त दो चार हो जाये ]]

#मुक्तक मुहब्बत में सनम बातेँ फ़क़त दो चार हो जाये निहारु तुझ को जी भर अगर अधिकार हो जाये कमल से होंठ नाज़ुक है कली हो त... Read more