NIRA Rani

Joined August 2016

साधारण सी ग्रहणी हूं ..इलाहाबाद युनिवर्सिटी से अंग्रेजी मे स्नातक हूं
.बस भावनाओ मे भीगे लभ्जो को अल्फाज देने की कोशिश करती हूं …साहित्यिक परिचय बस इतना की हिन्दी पसंद है..हिन्दी कविता एवं लेख लिखने का प्रयास करती हूं..

Copy link to share

लो काला धन बचाय

कहे कबीरा आज तक धन को रहत लुकाय पल भर मे घोषित करो सब कोई अपनी आय मोदी जी ने जो कही कर लो संतो भाई सी ए के तुम शरण पड़ो ... Read more