Nitika Maheshwari

भीलवाड़ा

Joined November 2018

सेवा ही धर्म मेरा सेवा ही कर्म है कुछ भवनाओ को कभी कभी शब्दों में लिखने की कोसिस करती हु …में जीतू या नहीं बस सब के दिल में बसने आयी हु समाज मे सेवा ही करती हु कोई गरीब बच्चा अगर हो तो प्लीज बताये उसको पड़ने की कोसिस की जाएगी !

Copy link to share

कान्हा

कान्हा तेरा जवाब नहीं तूने जो दिया उसका हिसाब नहीं कान्हा मेरा ख्वाब नहीं राधा के साथ तेरा जवाब नहीं कान्हा तुम दुनिया से... Read more

माँ

🙏 "" माँ "" 🙏 दुनिया की सर्वश्रेष्ठ कृर्ति है माँ जब जब लगी ठण्ड... Read more