मुझे लेखन में रुचि है।लेख लघुकथा मुक्तक कविताएँ नज्म ग़ज़ल लिखती हूँ।आप मेरा फेसबुक पटल पढ़ सकते हैं।

Books:
अनेक साझा काव्य
एकल काव्य “अनकहे जज्बात”

Awards:
साहित्य संगम और आगमन संस्था द्वारा सम्मानित।आगमन संस्था दिल्ली प्रदेश सचिव।

Copy link to share

कालू मामा

मोटी मोटी तोंद को पकड़े कालू मामा कितने तगड़े ताव मुछों को देते रहते बिन बात पर कैसे बिगड़े मामी पर गुर्राते रहते मामी भागी आतीं ... Read more