ओम नीरव

लखनऊ, उत्तर प्रदेश।

Joined February 2018

लेखक, समीक्षक, कवि, छांदसकाव्य-संवर्धक, गीतिका-विधा-प्रवर्तक।

Books:
खण्डकाव्य ‘तुलसीप्रिया’, लक्षण ग्रंथ ‘गीतिका दर्पण’, संपादित – ‘प्रज्ञालोक’, ‘कवितालोक’, ‘गीतिकालोक’, ‘कुंडलिनी लोक’।

Awards:
उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान द्वारा खण्ड काव्य ‘तुलसी प्रिया’ पर अनुशंसा पुरस्कार एवं अन्य।

Copy link to share

गीतिका विधा

गीतिका का तानाबाना गीतिका एक लोकप्रिय काव्य विधा है । इसकी परिभाषा और मुख्य लक्षण यहाँ पर स्पष्ट किये जाते हैं। गीतिका की परिभाष... Read more