Aashukavi neeraj awasthi

खमरिया पण्डित 262722

Joined August 2016

विद्युत अभियंत्रण विभाग गो.धु.मि.लिमिटेड ऐरा स्टेट खीरी लखीमपुर उत्तर प्रदेश
Elect eng

Copy link to share

दोहे

हर चुनाव में सुन रहा पुल पुलिया निर्माण। बाढ़ समस्या मिटेगी राज नीति के वाण।। सड़के सब गड्ढा बनी ऐसा हुआ विकास।फरी फरी सब चर गये पूर... Read more

कविता

क्षेत्र का खूबै करब विकास जीति जइबै ना अइबै पास करै नेता नकटा दिन राति। बकावै वोटरन का हरि भांति।। बड़ा कमजोर बना असहाय। गाय गोर... Read more

दोहे

नगर नगर में हैं खुली शिक्षा की दूकान। डिग्री ऐसे विक रही जैसे बीड़ी पान। जिन्दा मुर्दा हो कोई सबको मिले प्रवेश। भारीभरकम फीस है ... Read more

कविता

नामनेशन इलेक्शन शुरू होय गवा। वोटरन ते कनेक्शन शुरू होय गवा। नातेदारी पुरानी सबै चलि गयी। गाड़ी ठाढी कबाड़ी सबै चलि गयी। वोट हम दी... Read more

चोपाई

जगह जगह होती है चर्चा । कौन भरी अबकी ते पर्चा।। केहिका मिली टिकटु मोरे भाई।कीते कीकी फंसी लड़ाई। बरसी तेरही जो सुनि पावै।धाय दुआर... Read more

कविता

हम न जीतब तौ उनका हराय दीबै। ई इलेक्शन मा तिगड़ी लगाय दीबै। साल भर ते किहा दौरा हम क्षेत्र मा, अपनि ओकाति सबका देखाय दीबै। चाहे द... Read more

कुण्डलियाँ

गल्ली गल्ली होर्डिंग फोटोम जोड़े हाथ। पच्चिस गाड़ी मोटरे चलती उनके साथ। चलती उनके साथ रायफल वाले चिमचा। मौज रहे है काटि काल्हि बेच... Read more

दोहे

वंश वाद की फल रही राजनीति में बेल। दल बदले सत्ता मिले वही पुराना खेल। पिता पुत्र चाचा सगे महासमर में आज। कुरुक्षेत्र सूबा बना क... Read more

कुण्डलियाँ

दो हजार सत्रह की सर्दी हुयी सियासत गर्म। कल तक अकड़े थे खड़े आज हो गए नर्म। आज हो गए नर्म गांव गलियों में घूमे। गिरगिट से भगवान पां... Read more

दोहे

नये वर्ष पर चढ़ गया ,मित्र चुनावी रंग। नेता चिल्लाने लगे ,जैसे पी हो भंग। दलों की है लाचारी,बन्द है नोट हजारी।। बिगुल चुनावी बज गय... Read more

रंगोली

*अंतिम तिथि 15 फरवरी 2017* आत्मीय साहित्यप्रेमियों सादर नमन आप लोंगो की साहित्यिक रचनाये काव्य रंगोली साहित्यिक पत्रिका के अप्रै... Read more

कन्या भ्रूण हत्या

पापा पापा पापा पापा सुन हमारि बतिया पापा हमका न मारो हम तोहारि बिटिया हम तो अजन्मो कन्या देखी नही दुनियाँ दुनियां म आवै देव उठा... Read more