कविता मेरी अभिव्यक्ति है… लेकिन मैं कवि नहीं…!!!

Copy link to share

हुनर

गुणवत्ता के इस युग में स्वयं को कुसमायोजित होता देख उसने चरण-वन्दना के अति-प्राचीन कौशल का प्रयोग कर सारे फिज़ूल कार्य करने क... Read more

जद्दोजहद

तलाश खत्म हो गयी स्थान की रिक्तता ने स्थान से गठबंधन कर नई परिपाटी बना आक्रमण कर दिया है हशिये पर 'हाशिये का आस्तित्व अ... Read more

मेरी मां

आज हम आ गए हैं कितना दूर हर पल तुम्हारी याद आती है तुम्हारी याद के सहारे मैं यहां हूं तुम्हारी कसम ने रोक रखे हैं मेरे पांव नहीं... Read more