I am kamni gupta from jammu . writing is my hobby.
Sanjha sangreh….
Sahodri sopan-2
Deepshikha
Satyam prabhat
Mehkte lafz.

Copy link to share

भुजंगी छन्द

करें वायदा तो निभाएं वहीं भले साथ कोई चले या नहीं खुशी ही मिलेगी ज़रूरी कहां दुखों को मिटादे उसी का यहां।।। कामनी गुप्ता *** जम... Read more

हसरतें

हसरतें दिल में लिए न खामोश रहो तुम कह भी दो अधरों से न रहो खुद में गुम मौसम तो यूंही पल-पल बदलते रहेंगे मगर न फिर आएंगे बीते पल ब... Read more

देश के वीरों को सलाम

है सलाम देश के वीरो तुम्हें शत शत नमन तुम्हीं से कायम आन खिला है यह चमन देश की हिफाज़त बस तुम्हारा ही काम न हो विश्व के भाल की शो... Read more

ज़िन्दगी

है खूबसूरत ज़िन्दगी, सब जानते यह बात फिर क्यों गँवाते हैं इसे, प्रभु से मिली सौगात जो जान लेता भेद यह, पा जाए फिर वो पार खुशियां ... Read more

मुक्तक

मन में छुपे हुए कुछ राज़ अभी गहरे हैं पँख पसारते परिंदों की उड़ानों पर पहरे हैं ना मालुम सी बंदिशें हैं शब्दों पर जाने क्यों अधरो... Read more