हरवंश श्रीवास्तव

बाँदा , उ0प्र0

Joined September 2017

अध्यापक/कवि

Copy link to share

मैं जी न सका ज़िन्दगी ....

घिर गया हूँ मायूबी में इस क़दर से मैं गिर गया हूँ खुद अपनी ही नज़र से लानत वाली बात नहीं तो और क्या है ये गैरों ने निकाला ... Read more

तन्हां नहीं हूँ मैं ...!!

दर्द.. चुभन.. तड़प.. घाव.. मुझे आबाद रखने में इन सबका हाथ है, हाँ ... तन्हां नहीं हूँ मैं , तनहाई साथ है ...!! Read more

नमन है सारी माताओं को

सृष्टि की भाग्य विधाताओं को जीवनदात्री ..... दाताओं को प्रेम पुंज, करुणा की मूरत नमन है सारी माताओं को ... हरव... Read more

*मजदूर* ...... (मजदूर दिवस पर विशेष)

हर शख्स नजर आता है मजदूर .... कोई गमों को ढ़ोता हुआ कोई तनहाई और अकेलेपन को कोई ढ़ो रहा है धन को कोई अपने ही तन को ............... Read more

कितना जटिल सरल होना

सहज कितना इच्छाओं का सुधा सोम से गरल होना मनोवृत्ति और चरित्र का शनैः शनैः तरल होना स्वार्थपरक इस कलिकाल में भौतिकता का आलम... Read more

तू भी है ..!

रंगीनियाँ हैं मेरे आस पास, तो माहताब तू भी है है खुश्बू मेरे सोख बदन में तो महकता गुलाब तू भी है कभी कम नहीं आंका है तुझको मैं... Read more

माँ

गिरते ही धरा पर, झट उठाती है माँ छिपा आँचल में सीने से लगाती है माँ बाहों के झूले में झुलाती है माँ थाम उंगली पग-पग चलात... Read more

अभी बाकी है ...

गुजर गई है रात पर खुमार अभी बाकी है मिट गए निशान-ए-ज़ख्म, दर्द यार अभी बाकी है मत सोच लेना अब जंग में खामोश बैठूंगा... Read more

आदमी

आदमी को आदमी से हैं खतरे बहुत आदमी की हर चाल पे सम्भल जाता है - आदमी फुरसत नहीं किसी को किसी से बात करने की बहुत कम नज़र आजकल आत... Read more

नहीं सीखा

मानव तन पाकर भी गर पर उपकार नहीं सीखा स्वयं सृजित स्वप्नों को यदि करना साकार नहीं सीखा व्यर्थ तेरा वैभव सुन ले , धिक्कार तेरा पौरु... Read more

मैं

मैदान ए शायरी का एक प्यादा हूँ मैं, . इस महदूद सल्तनत का वजीर नहीं हूँ ग़ज़ल के नाम पे बस हाल ए दिल बयां करूँ, . ... Read more

मानव को जीना होगा

सुधा बीज बोने से पहले कालकूट पीना होगा पहिन मौत का मुकुट विश्वहित मानव को जीना होगा है रंगमंच यह विश्व धरा, अपना अभिनय करते हैं ... Read more

साहिल

मिलन का गीत है साहिल, प्रेम का साज है साहिल दिलों के तार जो छेड़े, वही आवाज है साहिल जुदाई और तनहाई तो अंजाम-ए-मोहब्बत हैं मचा दे... Read more