मैं रचनाकार हूँ ,मुझे कई काव्य पुस्तकें प्रकाशित करने का सौभाग्य मिला है ,मुझे किसी आयोजन से जुड़ना अच्छा लगता है .

Copy link to share

जिनके दिलों में प्यार वतन का

नये सिरे से नये दौर में ,पहुँचो आज विचार में जिनके दिलों में प्यार वतन का ,हम हैं उसी कतार में . बुनियादी परिवर्तन की हम बात य... Read more

मैं सावन का मेघ बनूँगा

मौसम से रूठे बादल को फिर से नहीं बुलाऊंगा , मैं सावन का मेघ बनूंगा और तुझे नहलाऊँगा . साँसों में पुरवाई बहती आहों ... Read more

फिर भी सूरज निकलता है

हल्का सा धुंध धरती की छाती पर सवार सूरज को रोकने की पूरी तैयारी फिर भी सूरज निकलता है , गोल ,लाल ,सुंदर ,दिव्य धुंध को चिरत... Read more

बड़ा होने में

आदमी जितना बड़ा होता है उतना बड़ा सहता है नुकशान भी उतनी बड़ी उससे होती हैं गलतियाँ भी सहता है उतनी बड़ी तल्खियां भी , विश... Read more