A Software Engineer who love to writes poetry in Hindi – Urdu.
Composer of love, motivational social, sad poetry.
The lyrics of poems have words that express my state of mind, my perceptions, or my feelings.

Copy link to share

जब याद आएगी ख़ुशी मर जाएगी

ज़िंदगी यूँ अश्कों से भर जाएगी, जब याद आएगी ख़ुशी मर जाएगी ।। आज नहीं तो कल फ़ना होना है, तमाम उम्र ऐसे ही गुज़र जाएगी ।।... Read more

मिरे अश्क

जिस को चाहा उसी ने आँख भराई है, मिरे अश्कों की यही तो रुसवाई है ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

ख़्वाब देखो और सच करो

तुम को ख़्वाबों का अभी एहसास नहीं है, लगता ऐसा, जैसे ख़ुद पर विश्वास नहीं है ।। कोशिश तो करो ज़रा सच करने की तुम, ऐसा नहीं कि मंज़िल ... Read more

देश का युवा बेरोज़गार है

हर और एक ही समाचार है, देश का युवा बेरोज़गार है ।। एक एग्ज़ाम करा नहीं पाते, ये पूरा सिस्टम ही बेकार है ।। मज़लूम को सताया जा र... Read more

ये हिंदुस्तान है इसे हिंदुस्तान रहने दो

🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳 हम सब यहाँ इंसान हैं, इंसान रहने दो, नफ़रतों से अंजान हैं, अंजान रहने दो ।। मज़हब के नाम पे इसे न बांट... Read more

मोहब्बत का इतना फ़साना

मोहब्बत का बस इतना सा फ़साना है, कि टूटना है और टूट कर बिखर जाना है ।। मरना है जीना है तड़पना है बिखरना है, फिर भी तमाम उम्र बस ... Read more

दिल का दर्द

साथ मिरे हर रोज़ इक तमाशा होता है, दिल का दर्द एक-पल में ताज़ा होता है ।। #हनीफ_शिकोहाबादी Read more

ख़्वाबों के पंछी

ख़्वाबों के पंछी जो उड़ जाएँगे, फिर दूर दूर नज़र नहीं आएँगे ।। अभी तुम को उन की क़द्र नहीं, फिर क्या होगा जब मुड़ जाएँगे ।। #हनी... Read more

आँखों का

आँखों का अश्क बहाना समझ किसे आया है, मेरा, उस का हो जाना समझ किसे आया है ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

प्यासा हूँ

प्यासा हूँ मिरे रब एक बूँद ही सही पर पानी दे, कोई तो उस को मेरी मोहब्बत की निशानी दे ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️i Read more

वफ़ा

ज़िंदगी में फिर वफ़ा ढूँढ रहा हूँ, दर्द और एक दफ़ा ढूँढ रहा हूँ ।। ~#हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

कुछ लम्हे

इस ज़िंदगी के सफ़र में कुछ लम्हे ऐसे गुज़र गये, कभी कोई मिला 'हनीफ़' कभी किसी से बिछड़ गये ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

जब दिल दुखता है तो रोना पड़ता है

मुझे बड़े अफ़्सोस से कहना पड़ता है, जब दिल दुखता है तो रोना पड़ता है ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

आप जा कर अपना काम कीजिए

मैं डूब रहा हूँ मुझ को बचालेगा, जिस ने दिया है दर्द वही सँभालेगा ।। आप जा कर अपना काम कीजिए, हर इक मुश्किल से ख़ुदा निकालेगा ... Read more

कैसा इश्क़ करती हो तुम

तुम याद तो कर लो ज़रा, मुझ को दिल में रख लो ज़रा ।। दिल है मेरा चुराया तुमने, अपना मुझ को बनाया तुमने ।। अब सितम ढा रहे हो तुम ... Read more

नहीं जानता

नहीं जानता कि कितने वरक़ में उस को लिखा, और उसी को नहीं मालूम कि किस को लिखा ।। अयाँ कर देती है 'हनीफ़' क़लम मिरे जज़्बात,... Read more

रोटी, कपड़ा, मकान

🇮🇳#स्वतंत्रतादिवस🇮🇳 अगर मुल्क में सब समान हैं, तो इनको भी कोई सम्मान दो ।। ये भी हैं इस देश का हिस्सा, इन्हें भी रोट... Read more

तड़पता रहा उम्र भर

मैं तड़पता रहा उम्र भर, हाथ मलता रहा उम्र भर ।। इक जीने की चाह में, मैं मरता रहा उम्र भर ।। हँसने की ख़्वाहिश थी, बिलखता र... Read more

ना ठहर तू(हाइकु)

इक तूफ़ान है ज़िंदगी हैरान बढ़ते चलो ना ठहर तू ज़रा हौसला रख आसानी होगी ख़ुदा ना भूल सब मिल जाएगा जैसा चाहेगा रब तुझको वा... Read more

क़लम सब हिसाब लिखती है

ख़्वाहिश बे-हिसाब लिखती है, मेरे ख़तों के जवाब लिखती है ।। वो नहीं लिखते तो क्या हुआ, ख़्वाहिश लाजवाब लिखती है ।। गुल-फ़िशाँ से ... Read more

ज़िंदगी किस की समझ आती है

बस यूँ ही गुज़रती जाती है, ज़िंदगी किस की समझ आती है ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी✍️ Read more

दिल बहल जाएगा

थोड़ी सी फ़ुर्सत निकाल लोगे, दिल बहल जाएगा, ज़रा सा हम को संभाल लोगे, दिल बहल जाएगा ।। कट जाएगी हँसते-मुस्कुराते हुए ज़िंदगी हमारी ... Read more

लगता बहुत दूर है

लगता बहुत दूर है मालूम नहीं, शायद मजबूर है, मालूम नहीं ।। वैसे तेरा मकान है मेरे दिल में, ये इश्क़ भरपूर है, मालूम नहीं ।। ... Read more

जो लिखा उस ने

हर क़रीने से रिश्ता निभाया मैंने, यही वजह कि धोखा खाया मैंने ।। मात भी मैं शिद्दत से खाता रहा, किसी को अपना था बनाया मैंने ।। ... Read more

घर से निकलें दुनिया बदलने के लिए

आप यहाँ कुछ नया सीखने के लिए, घर से निकलें दुनिया बदलने के लिए ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी✍️ Read more

यूँ पोस्ट छोड़कर तौहीन न करें

अगर अच्छा है तो हौसला दीजिए, अगर पसंद नहीं तो बता दीजिए ।। यूँ पोस्ट छोड़ कर तौहीन न करें, आप फॉलोइंग से ही हटा दीजिए ।। ... Read more

ज़िंदगी में बहना(रक्षा बंधन)

‏ज़िंदगी में तुझे 'बहना', मिले वो मक़ाम, तू सोचती रहती हो जिसे सुबह-ओ-शाम ।। ‎#हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

मैं तो हूँ(Friendship Day)

मैं तो हूँ दुश्मनों का भी दोस्त यहाँ, भूल जाऊँ दोस्तों को मैं वो यार नहीं ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी✍️ Read more

ग़रीबी की शाम(ईदमुबारक)

काश हमारी ग़रीबी की शाम भी क़रीब हो जाए, कपड़े, मकाँ न मिलें पर रोटी तो नसीब हो जाए ।। कि मोहब्बत से जो देखने लगे हर इंसाँ, ... Read more

रफ़ी साहब(Death Anniversary)

हर शख़्स का सफल यहाँ किरदार नहीं होता, हर एक शख़्स यहाँ, सुपर स्टार नहीं होता ।। कुछ ही को मिलती है, ये शोहरत 'हनीफ़', हर... Read more

कल भी रहेगा

कि जो आज है कल भी रहेगा, तेरा इंतिज़ार है कल भी रहेगा ।। यक़ीन है, तू आएगा लौटकर, और बेशुमार है कल भी रहेगा ।। जब ख़्याल आए तेर... Read more

सितम(पत्थर दिल)

तू ने जो किए हैं सितम उन्हें कम न कर, तू पत्थर दिल है बिल्कुल रहम न कर ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

बड़ी हैरत से

बड़ी हैरत से तकते हैं निगाह में उन्हीं को ढूँढते हैं जो निगाह में बसते हैं #हनीफ़_शिकोहाबादी✍️ Read more

कोई तो आस-पास रहता है

कोई तो आस-पास रहता है, ये जहाँ जिस की बात करता है । शायद वो मुक़द्दर में नहीं मिरे ? दिल उसी की तलाश करता है ।। #ह... Read more

मज़लूमों से मोहब्बत

हमें है वफ़ा से प्यार हमको मोहब्बत प्यारी है हमें है दुआ से प्यार हमको इबादत प्यारी है फ़रेब, झूठ न दग़ा हमें है सच्चाई से प... Read more

फ़साना बनता है

हर तरफ ज़माने में एक फ़साना बनता है, जब भी कोई प्यार में दीवाना बनता है ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

फुटपाथ पे भूके नंगे

आज करता भेद-भाव इंसाँ ही इंसाँ में ख़ुदा की बनी इस हसीं दुनिया में कुछ रह रहे संगमरमर के महलों में कुछ फ़... Read more

कोई कल तो कोई आज

कोई कल तो कोई आज निकले, हर शख़्स यहाँ धोकेबाज़ निकले ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

दुनिया की फ़ितरत

अब ये दुनिया की फ़ितरत बन चुकी है, कि इंसाँ रोज़ इक नए साँचे में ढलता है ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी✍️ Read more

सीने से लगा ले मुझको

सीने से लगा ले मुझ को रूह में बस जाऊँ, तू मुझ में खो जाना, मैं तुझ में खो जाऊँ मैं ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी✍️ Read more

आज भी सँभाल रक्खा है(रूमाल, इश्क़)

छुआ था उसने इक बार रुमाल आज भी सँभाल रक्खा है इश्क़ होता है ब-ख़ुदा कमाल आज भी सँभाल रक्खा है... Read more

वो देख के

वो देख के, मुझ से मुँह फेर लेती है, बस इसी बात पे दुनिया घेर लेती है ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

आख़िरी मुलाक़ात

हो सकता है ये आख़िरी मुलाक़ात हो, कल हम किसी के तू किसी के साथ हो ।। जैसा भी और जो भी हो सब सहना है, ज़िंदगी की मंजूर हम को हर बिस... Read more

इश्क़ एक जुनून

इश्क़ एक फ़ितूर है, इश्क़ एक जुनून है, किसी के लिए दर्द किसी के लिए सुकून है ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

प्यार जिनको करते हैं

मोहब्बत में छोड़ कर जाया नहीं करते, प्यार जिनको करते हैं भुलाया नहीं करते ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

मैं किसी से भी

मैं किसी से भी लड़कर नहीं आया, इस हाथ में कभी कंकर नहीं आया ।। जिसने भी अपनाया उसी का हो गया, ख़ुद किसी से बिछड़ कर नहीं आया ।। ... Read more

ख़ास नहीं

‏🌷🌷🌷🌷 मर भी जाऊँगा तो भी क्या ग़म है उनको, मैं किसी के लिए भी इतना ख़ास नहीं होता ।। ‎#हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

जिसे तुम दुनिया कहते हो

‏🌷🌷🌷🌷 जिसे तुम दुनिया कहते हो "ख़ूबसूरत" है, पर कुछ लोग हैं इस पे दाग़ लगाने वाले ।। ‎#हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

दिल जिसका तलबगार

🌷🌷शुभरात्रि🌷🌷 ये दिल जिस का तलबगार उसका ग़द्दार नहीं हुआ, कल था, उसी से है किसी और से प्यार नही हुआ ।। #हनीफ़_शिकोहाबादी ✍️ Read more

ए'तिबार रहा

मुझ को तो इंसानों से प्यार रहा, सब को दौलत का इंतिज़ार रहा ।। मैंने क्या सोचा और क्या चाहा, इस पे किस का ए'तिबार रहा ।। #ह... Read more