नाम याद आता है।।

हर बार वही नाम याद आता है। तन्हाई में मुझे क्यों रुलाता है।। बिछड़ जाता हूँ जब भी रास्तो से, तू ही क्यों मुझे रास्ता दिखता है।। ल... Read more

समन्दर प्यार का अंदर

मेरे इन गीत गजलो में, तेरा ही चेहरा दीखता है समन्दर प्यार का अंदर, बड़ा ही गहरा दीखता है।। तेरा यू छोड़कर जाना,अकेला कर गया मुझको, ... Read more