Dr.Hem Lata

Joined March 2017

Copy link to share

दिल

हमारा दिल धड़कने का__ बहाना ढूँढ लेता है। ये' पतझड़ में बहारों का__ठिकाना ढूँढ लेता है। मिलेगी प्यार को मंजिल, बहारें खिलखिलायेंग... Read more

नारी शक्ति तू महान

ग़ज़ल- रूप रँग.में__मन बसी हैं नारियाँ । चाँद तक भी जा चुकीं हैं नारियाँ । चाँद से ऊँचा जहाँ ये पा चुकी आस्माँ तक बढ़ चुकी हैं ... Read more

ज़िन्दगी है ग़ज़ल

तू कभी घर मेरे आना_ज़िन्दगी। साथ मेरे गुनगुनाना___ज़िन्दगी। रूठ जाऊँ मैं कभी तुझ से तो' फिर, तू मुझे हँस के मनाना___ज़िन्दगी। क... Read more