Lecturer at college . Ph. D., NET, M. Phil. M. A. (Sanskrit , Hindi lit.) अंतर्मन के उद्गारों को काव्य रूप में साझा करना ।

Copy link to share

शिव

================ शिवरात्रि पर विशेष ÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷ ! ! ॐ नमः शिवाय ! ! बम बम भोलेनाथ का अवतरण-महापर्व आया वासंती हर्ष लि... Read more

बेटी....

कन्या को जन्म दूँगी .... ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ हाँ मैं कन्या को जन्म दूँगी एक जीवन को खिलने दूँगी .... कौन होते हो तुम निर्दयी जो ... Read more

ऐसे में क्या लहू का रंग बदल जाता है ...

यह तेरा है यह मेरा है मंदिर मस्ज़िद गुरुद्वारा है किसने इनमें किया बँटवारा है तू हिंदू है तू मुसलमान है तू ईसाई और तू सिक्ख ह... Read more

सुबह ...

ओस घूँघट पट किये सुरमई सुबह होठ सिये कोई भेद न खुल जाये मिलन की निशानियों का कंपकंपाती-ठिठुरती-सी अलसाई-लजाई नव वधू-सी च... Read more

ये कोई तरीका है ....

ये कोई तरीका है ... ◆◆◆◆◆◆◆◆◆ हर बार यही कहते हो... "ये कोई तरीक़ा है प्यार करने का" हर बार यही समझाते हो .... "ये कोई तरीका ह... Read more

आज़ादी

सभी दोस्तों को स्वतन्त्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं ....वन्देमातरम !!! ************************************************* आओ आज़... Read more

प्रेम हाला....

** प्रेम - हाला ** ---------------------------- पी ली मैंने पी की प्रेम-हाला मन आनंद मदमस्त मधुशाला बन पिय की हृदय रानी गु... Read more

अनुभूति प्यारी सी ...

अनुभूति प्यारी सी ! ---------------------- मीठी-सी प्यारी -सी कितनी न्यारी-सी ... प्रेम-प्यार की अनुभूति जगा देती तन-मन मे... Read more

सावन

मुक्तक ◆◆◆◆◆◆ झूले पड़े मन के बागों में सुर बरसे सुरीली रागों में आया सावन सखी झूम-झूम खुशियाँ भरी हृदय-तड़ागों में !... Read more

मन से अंतर मन का प्रयाण ....

मन से अंतर मन का प्रयाण..... ---------------------------------------- मन से अंतर मन का प्रयाण है नर की ह्रदयहीनता का प्रमाण ह... Read more

किताब / पुस्तक

वर्ण पिरामिड शीर्षक - किताब / पुस्तक ----------------- ये ज्ञान सागर अनमोल अपरम्पार पुस्तक संसार जाने वो ही समझे !... Read more

बन्धन

लघुकथा ◆◆◆◆◆ बंधन ===== "आज फिर आप देर से आये हो " उसका यह पूछना था कि सुमित सलोनी पर टूट पड़ा "तुम्हें क्या पता पैसा कमाने के ... Read more

तन्हां तन्हां ...

****** मैं हूँ तन्हाँ - तन्हाँ टूटा - टूटा - सा पत्ता शाख का यहाँ ए काश ! कि मैं तेरे साथ होता वहाँ मेरी गमे जुदाई तू क... Read more

कन्या को जन्म दूँगी ....

कन्या को जन्म दूँगी .... ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ हाँ मैं कन्या को जन्म दूँगी एक जीवन को खिलने दूँगी .... कौन होते हो तुम निर्दयी जो ... Read more

समझे कैसे ....

समझें कैसे.... ◆◆◆◆◆◆ भीतर कुछ बाहर कुछ दोगले हो चुके व्यवहारों को समझें कैसे ? जो नहीं है वही बढ़ा-चढ़ा कर द... Read more