Copy link to share

इश्क़ करना नहीं

इश्क पर तुम किताबें लिखे जा रहे हो । मशवरा है मेरा इश्क करना नहीं । दर्द कागज पे अपने लिखे जा रहे हो । मशवरा है मेरा दर्द कहना नह... Read more

मधुशाला

मंदिर - मस्जिद बन्द रहेंगे , खुली रहेगी मधुशाला ।। है उसने फरमान सुनाया , उसने है फरमान सुनाया , जो अमृत का रखवाला । मंदिर - मस्ज... Read more

बचकानी बातें

तेरी ये बचकानी बातें , तेरी वो बचकानी बातें ।। हर रोज जगाया करती मुझको वो शैतानी बातें । तेरी ये बचकानी बातें ......... हंसना औ... Read more

संगम का छात्र जीवन

हे मृत्युंजय हे दुःखभंजन , कष्ट निवारो आय । ये तो मोदी की सरकार हमसे बनवाएगी चाय । छोटे से कमरे में जीवन डिब्बा समझ बिताते । सब... Read more

मेरे पापा

मेरे सपनों के खरीदार , खड़े हैं पापा बीच बाजार । अपनी खुशियां रख उधार, खड़े हैं पापा बीच बाजार । ले कंधे पर पूरा परिवार , खड़े ... Read more

सृंगार रस

उसकी यादों के तिनके से दरिया पार हो जाऊं , वो मंद मंद मुस्काये जब मैं कश्ती संग बह जाऊं । लाल कपोलों पे उसके वो तिल है काली काली... Read more

तू बाज की उड़ान है

रुके नहीं कदम तेरे , विपत्तियों का राज है । तू खून से तिलक लगा , ये शत्रु की आवाज है । तू तिलमिलाए दुश्मनों की , कोशिशें नाक... Read more

पप्पू मेरा पास हुआ

कांग्रेस मुख्यालय गूंजा , श्री राम के नारों से । अब बोलेंगी देखो मैडम,सुबह सुबह अख़बारों से । बड़े दिनों से जुगनू हमने ... Read more

सर्जिकल स्ट्राइक

रौद्र रूप देख थर्रायी है,धरती पाकिस्तान की । कफ़न बाँध कर रण में उतरी,मिट्टी हिन्दुस्तान की । छेड़ रहे थे सिंहों को,थी चर्चा स्व... Read more

राफ़ेल की परिचर्चा

राफ़ेल की परिचर्चा में वो चर्चा हमने भुला दिया । डाँट ग़रीबी को हमने भी भूखे तन ही सुला दिया । पेट के भीतर जलती रहती अंगारें ... Read more

शहीदों का परिहास

गांधी नेहरु वाली तड़पन दिखने लगी किताबों में । राजगुरु आज़ाद की बातें होती केवल ख़्वाबों में । भगत सिंह औ शेखर का परिहास बनाया जा... Read more

राणा का शौर्य

अकबर हुआ दुलारों में । हैं राणा खड़े क़तारों में । हम पढ़ते हैं बाज़ारों में । कुछ बिके हुए अख़बारों में । ये ज... Read more