Brandavan Bairagi

Koudiya(gadarwara)

Joined July 2019

Osho Sanyasi ,photographer , poet narmda sanrakshan activist and reva sahitya manch sanyojak
नाम -बृन्दावन बैरागी”कृष्णा”
जन्मतिथि-25-06-1973
शिक्षा -एम ए (इतिहास)
काव्य विधा -आध्यात्मिक काव्य विधा समसामयिक लेखन शेर शायरी कविता इत्यादि।
सम्मान-साहित्यक संस्थाओ से सम्मान पत्र प्राप्त।
साहित्य योगदान-रेवा साहित्य मंच के माध्यम से हिंदी के प्रचार प्रसार में प्रयासरत समय समय पर अखवारों पत्रिकाओं में रचनाएं प्रकाशित ।
पता-बृन्दावन बैरागी”कृष्णा’
पो -कौड़िया
तह-गाडरवारा
जिला-नरसिंहपुर
पिन-487555 मध्यप्रदेश
मो-9893342060

Copy link to share

दिल की कही बात

1.अधजगा सा खोया खोया रहता हूं उनकी यादों में। वो कब आयेगें मुझसे प्यार जताने अपना वादा निभाने। या मै यूँही बिखर जाऊँगा उन्हें याद ... Read more

।।मोक्षदायिनी हो।।

।।मोक्षदायिनी हो।। माता मेरी सिंहवाहिनी, तुम ही जग की कल्याणी हो। देव ऋषि दानव मानव करते पूजा, तुम ही मात भवानी हो। सिंहासन पर ... Read more

मुक्तक

उम्र मेरी अब ढलती जा रही है। तृष्णा मेरी और पलती जा रही है। गुज़र रही जिंदगी यूँ ही मेरी। वक्त की कमी खलती जा रही हैं। Read more

तकदीर बदल जाये।

देखा है मैंने लोगों की तकदीर बदलते हुये किसी को पता भी नहीं कब कहा कैसे किसकी तकदीर बदल जाये। बृन्दावन"कृष्णा" मो.989334... Read more

एक कारवाँ बनायेंगे

।।एक कारवाँ बनायेंगे।। हम बढ़े तुम भी बढ़ो एक कारवाँ बनायेंगे जो है खोये हुये लगते है रोये हुये उनको भी साथ लायेंगे ... Read more

देना हमको ये वरदान

देना हमको ये वरदान माता मेरी सरस्वती देना हमको ये वरदान सत्य पथ चलता रहूँ मैं ये ही मेरा रहे स्वाभिमान। कविता गीत बनाऊ ऐसे ... Read more

कलम का पुजारी हूँ मै

।।कलम का पुजारी हूँ मै।। कलम का पुजारी हूँ में माँ शारदे का अनुरागी हूँ मै इसलिये दोस्तों बैरागी हूँ मै। चला हूँ सभी को साथ चलते... Read more

एक मुक्तक

माँ सरस्वती की कृपा हमपर बरसती रहे। लेखनी यूँ ही मेरी हरपल चलती रहे। मै लिखूं गीत प्रेम और सत्य के। इस साहित्य से सत्य की राह मिल... Read more

मुक्तक

कौन कहता है कि भगवान मिलते नही है। सच्ची आस्था से तुमने कभी पुकारा नहीं है। अरे पत्थर में भी भगवान मिलते है। तुमने अभी तक प्रेम क... Read more

कैसे कहू मे

1- भूल तो सभी करते है तारीफ है जब तुम्हे उस भूल का अहसास हो जाये। 2-गलतियों को फिर ना दोहराया जाये आओ वक्त और हालात से ये सबक सीखा ... Read more

आज कल इश्क के चर्चे होते नही।

आजकल इश्क के चर्चे होते नहीं मोहब्बत की बातें कोई करते नहीं फुर्सत ही नही है दिल लगाने की अब पैसों में हर चीज मिलती है यहाँ तन ... Read more

भारत मेरा प्यारा है।

भारत मेरा प्यारा है सब देशो से न्यारा है। हिन्दू मुस्लिम सिक्ख ईसाई सब में भाईचारा है। यहाँ पर बहती गंगा यमुना की निर्मल धारा है। ... Read more

हमसे ही सीखे थे।

1. हमे सिखाने आये है हमसे ही सीखे थे ये बात और कि हम जहां के तहां वो हमसे आगे निकल गये। 2.इस जहाँ में हर कोई हैरान है सुखी ... Read more

दुनिया के बाजार मे।

दुनिया के बाजार में दिल वालो की कीमत नही होती लोग ऊपरी दौलत शौहरत को ही सलाम करते है। कहते है पैसे वालो को बादशा दिल वालो को ग... Read more

दो शेर

मूर्ति खुद ही बनी थी पत्थर में मैंने तो सिर्फ उसे तराशा है। बृन्दावन" कृष्णा" जब याद सताये करवट बदलकर रो लेना कुछ पल के लिए... Read more

क्षणिका

1 काले काले बादलों की गड़गड़ाहट से किसान मुस्कुरा उठता है आज विधाता ने मेरी पुकार सुनली। 2 फसलो की हरियाली देख किसान मन्त्र मुग्... Read more

इश्क है ।

1 उस मालिक के सिवा इस दुनिया में कोई नही तेरा करना है तो इश्क उसी से करले प्यारे। 2 मुझे तो लोगो की मुस्कुराहट फूलो की खुशबु में ... Read more

बुंदेली

जब सें भैया फोन लओ है हमतो पगला रये है लाइक शेयर कर कर के अपनी नीदं गवा रये है जब से........ इंस्ट्राग्राम फेसबु... Read more

अर्ज किया है।

1 ख्वाब हैं अगर आसमाँ छूने के अक्ल और मेहनत की सीढ़ी लगानी होगी। 2 मोहब्बत की बातें तुमसे कहता में कैसे मेरे कहने के पहले त... Read more

गुरु

1 गुरु वो नूर है बन्दे खुद को उस खुदा को भी दिखा देता है। 2 गुरु में मुझे मेरा अक्स नजर आने लगा है ये मेहरबानी उन्ही की है द... Read more

तलाश

तलाश भूखे को रोटी की तलाश निर्धन को धन की। अपनों को जीवन की। तलाश कृष्णा को फिर से बचपन की Read more