Dr Archana Gupta

मुरादाबाद

Joined May 2016

Founder, Sahityapedia

शिक्षा– एम. एस. सी.(भौतिक विज्ञान) , एम. एड.(गोल्ड मेडलिस्ट), पी.एच डी.
निवास -मुरादाबाद(उ .प्र)
जन्म- 15 जून
संप्रति —
-अध्यापन
-गीत ,ग़ज़ल मुक्तक , छंद, मुक्त काव्य , गद्य , कहानी लेख आदि सभी विधाओं में लेखन
-www.sahityapedia. com की संस्थापक और प्रेजिडेंट
–ब्लॉगर itsarchana. com
-भौतिक विज्ञान में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शोध पत्र प्रकाशित
-अनेक रचनाएँ राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पत्र पत्रिकाओं में निरंतर प्रकाशित
-टी वी और रेडियो पर कार्यक्रम प्रसारित
—ग़ज़ल संग्रह प्रकाशित ( *ये अश्क होते मोती* )
—-संपादक( प्यारी बेटियां )
—अनेकों रचनाएँ साझा काव्य संकलनों में प्रकाशित
-राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय मंचों पर काव्य पाठ

— साहित्य गौरव सम्मान, मुक्तक रत्न सम्मान, गोपाल दास नीरज गीतिकाकार सम्मान, पर्यावरण मित्र सम्मान आदि सम्मान

Books:
ग़ज़ल संग्रह (ये अश्क होते मोती)

Copy link to share

करवाचौथ

मैं तुम्हारी चाँदनी हूँ तुम हो मेरे चंद्रमा मैं तुम्हारी हूँ सजनिया तुम हो मेरे बालमा चाँद से हम मांग लेंगे प्यार की लंबी उमर... Read more

सच के तो कभी पास बहाना नहीं होता

सच के तो कभी पास बहाना नहीं होता जो छीन के मिलता है वो पाना नहीं होता रहने लगी है ज़िन्दगी कमरों में यहाँ बन्द मिल जुल के अब ... Read more

कर दो ना

एकाकीपन को तुम दुल्हन कर दो ना प्रेम भाव से झंकृत ये मन कर दो ना तुम ही बंजर मन में फूल खिला सकते नाम हमारे अपना जीवन कर दो ना ... Read more

शरद पूर्णिमा

चाँदनी में नहाती हुई रात है । चाँद में आज कुछ खास ही बात है । चाँद है आज सोलह कलायें लिये , लग रहा जल उठे हो हज़ारों दिये। रूप ... Read more

दोहे साहित्य विज्ञान

1(साहित्य) जैसे इस संसार को, चमकाता आदित्य। वैसे दिशा समाज को ,दिखलाता साहित्य।। 2(दहेज) पहले कभी दहेज था,कन्याधन का नाम।... Read more

अग्रसेन महाराज।

द्वापर युग में ही हुये, अग्रसेन अवतार हमको अग्र समाज का ,दिया नया संसार दिया नया संसार, अठारह गोत्र बनाये इक रुपया इक ईंट, निय... Read more

दोहे

कविता ******* कविताओं के रंग में,जब रँगते अहसास। साधारण सी बात भी, लगने लगती खास।। रंग **** श्वेत रंग में ज्यूँ छिपा ,रंग... Read more

तुम्हे देखने को भी क्या आइना दूँ

तुम्हें देखने को भी क्या आइना दूँ तुम्हें असलियत भी तुम्हारी बता दूँ तुम्हें शौक जज्बात से खेलने का तो क्या खुद को ही मैं खि... Read more

फख्र है उन्हें अपनी आजकल वकालत पर

फख्र हैं उन्हें अपनी आजकल वकालत पर रौब वो दिखाते हैं झूठ की सियासत पर नोंक-झोंक आपस की प्यार ही बढ़ाती है इसलिये उतर आता दि... Read more

गाँधी बापू

सत्य अहिंसा पर चलना बापू जी ने सिखलाया था। मानवता का सच्चा मतलब भी हमको समझाया था। सादा जीवन उच्च विचार नियम था उनके जीवन का। ... Read more

अम्बे भवानी

कभी धरे कन्या रूप, कभी माता का स्वरूप, बाँटती भवानी मात, सबको ही प्यार है। लाल लाल है चुनर, बिन्दी टीका भाल पर, अस्त्र शस्त्र हा... Read more

हिंदी हिंदुस्तान है

हिंदी भाषा है सरल , पानी जैसी है तरल,और व्याकरण भी तो , इसका आसान है हिंदी ही सजाती मन,हिंदी से ही ये वतन,हिंदी से ही तो हमारी ... Read more

दशहरा

1 अब कलयुग की जीत है , रामराज्य की हार । राम नहीं मिलते यहाँ, रावण की भरमार ।। रावण की भरमार, लोभ ही रहता मन में। हो अधर्म की जी... Read more

सरदार भगत सिंह

जन जन में जिसने भरा , देश भक्ति का राग । वही भगत ही बुझ गया, दिल में जला चराग।। दिल में जला चराग, सही पथ दिखलाया था इंकलाब का राग... Read more

सरदार भगतसिंह

1 हँसते हँसते चढ़ गये, फाँसी पर वो वीर। अंग्रेजो की जुल्म की,दर्द भरी तस्वीर ।। 2 भगत सिंह का है अमर,सारे जग में नाम। छोटी सी ही... Read more

रो रहा आकाश धरती अश्क पीती जा रही है।

रो रहा आकाश धरती अश्क पीती जा रही है। पीर की बदरी घनी दोनों दिलों पर छा रही है। डूब सूरज चाँद तारे भी गये देखो गगन में। है ब... Read more

ज्ञान-विज्ञान

प्राप्त किया जब हमने ज्ञान, हमें कहाँ लाया विज्ञान। रोज रात को छत पर अपनी, देखा करते तारामंडल। ध्रुवतारा ये चाँद सलोना , ... Read more

बेटी

प्यारी प्यारी बेटियाँ, हम सबका हैं गर्व इनसे ही संसार हैं, इनसे ही सब पर्व इनसे ही सब पर्व, लगें रंगोली जैसी घर रहता गुंजार,च... Read more

गांधी-शास्त्री

1 गाँधी-शास्त्री *********** मोहन गाँधी शास्त्री, दोनों नाम महान उच्च सोच सँग सादगी , इनकी थी पहचान इनकी थी पहचान, सत्य के अन... Read more

मोदी जी

1 दुश्मन भी डर कर रहें, ऊँची भरें दहाड़ कहीं शांत बहती नदी, मोदी कहीं पहाड़ मोदी कहीं पहाड़, नहीं टस से मस होते रहता इन्हें खया... Read more

मोदी जी

आज देश का गर्व है, मोदी नाम महान। भारत माँ के लाडले,अपने देश प्रधान।।1 बातों में भी जीतना , उनसे कब आसान। मोदी जी वक्ता बड़े, ... Read more

हड़ताल

आती है हड़ताल से , बस मुश्किल में जान। तोड़ फोड़ से मत करो, अपना ही नुकसान। अपना ही नुकसान, समझदारी दिखलाओ। रखकर अपना पक्ष , बात ... Read more

ई-उपवास

ई-उपवास ******** आज अहाना कुछ अलग दिख रही थी। सुबह उसने डाइनिंग टेबल पर सबके साथ नाश्ता किया। कोई हड़बड़ी नहीं मचाई । अपने पापा... Read more

जिम

लौकी ने जिम खोला अपना बरसों का था उसका सपना तन्वंगी सी भिंडी रानी बैठीं टीचर सी महारानी सबको उसने पाठ पढ़ाया मोटेपन स... Read more

बनो हिंदी के क्रेज़ी

अंग्रेजी से ही करें,क्यों हम सब परहेज़ हिंदी नंबर वन रहे,दौड़ें इतना तेज़ दौड़ें इतना तेज़, खूब इसको अपनायें अपने सारे काम, बोल हिंदी... Read more

सभी का एक है नारा कि हिंदुस्तान है हिंदी

बसी है धड़कनों में ये, हमारी जान है हिंदी । हमें है गर्व हिंदी पर, हमारी शान है हिंदी । सरल गंगा नदी सी यदि अडिग भी है हिमालय सी... Read more

हिंदी दिवस पर दोहे

1 अपने भारतवर्ष की, हिंदी है पहचान । मातृभाषा को दीजिये, माँ जैसा सम्मान ।। 2 हिंदी मेरा भाव है, हिंदी ही आवाज़ बिन हिंदी मैं शू... Read more

नन्हीं चींटी

मैं नन्ही नन्ही सी चींटी काम बड़े कितने करती हूँ चलती ही बस रहती हरदम लेकिन कभी नहीं थकती हूँ होते हैं कितने विशाल ये अपने प... Read more

किस्मत का फूल ज़िन्दगी में खिल नहीं रहा

किस्मत का फूल ज़िन्दगी में खिल नहीं रहा मेहनत का हमको इसलिये हासिल नहीं रहा कहते हैं लोग प्यार में कुछ सोचते नहीं पर दिल हमारा... Read more

दिल के बड़े धनी पर, धन से गरीब हैं हम

दिल के बड़े धनी पर, धन से गरीब हैं हम हँसते रहें ग़मों में , कुछ तो अजीब हैं हम हमको सदा मिली है , दीवार बीच धन की है झूठ बात जब... Read more

जीने का पर हुनर भी बड़ा बेमिसाल है

माना कि हाथों वक़्त के बचना मुहाल है जीने का पर हुनर भी बड़ा बेमिसाल है ये वक़्त तो बदलता रहे अपनी करवटें लेकिन हमारे पास भी कर्... Read more

शिक्षक दिवस पर दोहे

1 गुरु बाँटते हैं हमें, अपना सारा ज्ञान। कोई भी इससे बड़ा, नहीं यहाँ पर दान।। 2 सद्गुरु का ले आसरा,हो भवसागर पार। समझाते हैं ... Read more

पता था न ये दिल लगाने से पहले

पता था न ये दिल लगाने से पहले गले गम लगेंगे मिलाने से पहले तुम्हें खो ही देंगे यूँ पाने से पहले ये सोचा न था आजमाने से पहले ... Read more

गणेश चतुर्थी वंदना

करते हैं संसार के, पूरे सारे काज विघ्न हरण मंगल करन,गजानन महाराज गजानन महाराज, शरण जो इनकी जाता विद्या वैभव ज्ञान, बिना माँगे ... Read more

चलती वादों की आँधियाँ देखी

चलती यादों की आँधियाँ देखीं गिरती इस दिल पे बिजलियाँ देखीं इस मुहब्बत में हमने तो कितनी खिलती वादों की बाजियाँ देखीं सिस... Read more

कान्हा तुम वापस आ जाओ

उद्धव हमको मत समझाओ, नहीं ज्ञान का पाठ पढ़ाओ । बस तुम ये संदेश हमारा , जाकर कान्हा तक पहुँचाओ। कान्हा तुम वापस आ जाओ। कान्हा त... Read more

मुक्तक (संग्रह)

1 खूबसूरत हूँ मगर किरदार से मैं जुड़ी रहती सदा आधार से है न नफरत के लिये दिल में जगह जीतना दिल चाहती हूँ प्यार से 2 जरा स... Read more

हमारा आज ही देखो हमारा कल सजाता है

हमारा आज ही देखो हमारा कल सजाता है न वापस लौट कर बीता हुआ ये वक़्त आता है हमेशा वक़्त ने हमसे हमारे छीने अपने हैं इसी ने आज त... Read more

जाओ न तुम

रूठ कर इस तरह हमसे जाओ न तुम ये कदम बेरुखी का उठाओ न तुम है तुम्ही से हमारी सनम ज़िन्दगी मर ही जायेंगे हम छोड़ जाओ न तुम फे... Read more

जय श्रीकृष्ण

गोदी में ले रहे हैं किशन अंगड़ाइयाँ सब दे रहे हैं मात यशोदा बधाइयाँ ये ग्वाल बाल गोपियाँ सब काम छोड़कर पलना झुला रहे हैं सुना कर... Read more

श्याम की बाँसुरी

जब अधर पर सजी श्याम की बाँसुरी छीन दिल ले गई श्याम की बाँसुरी हो गई प्यार में राधिका बावरी रँग में साँवरे के हुई साँवरी हर... Read more

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर दोहे

1 भादों की थी अष्टमी,धुँआधार बरसात जन्म लिया श्रीकृष्ण ने, बड़ी अनोखी रात 2 द्वारपाल सब सो गये,खाली कारागार हथकड़ियाँ भी खुल... Read more

ट्रैफिक जाम

रात्रि अपने आखिरी पहर में थी। रूपा की आंखों में नींद का कहीं नामोनिशान नहीं था। दिमाग में विचारों का आवागमन बराबर लगा हुआ था । जितना... Read more

लब पे थे अल्फ़ाज़ यूँ तो दोस्ती के

लब पे थे अल्फ़ाज़ यूँ तो दोस्ती के थे मगर अंदाज़ उनके दुश्मनी के अब हमारे दिल में ही वो बस गये हैं हम तो दीवाने हैं उनकी सादग... Read more

रक्षाबंधन

1 रोली चंदन राखी रक्षाबंधन अक्षत वंदन 2 उड़ी पतंग रंगीन आसमान मन मलंग 3 राखी त्यौहार मिलता उपहार भाई का प्यार ... Read more

स्वतंत्रता दिवस की बधाई

💝💝💝💝💝💝💝💝💝💝💝💝💝💝 सजा हुआ दुल्हन के जैसा, प्यारा हिंदुस्तान हमारा गूँज रहा है जल थल नभ में, भारत माँ की जय का नारा आज़ादी पाई थी हम... Read more

तिरंगा

तिरंगे में लिखी केवल न गीता की कहानी है, लिखी इसमें कुरान आयतें गुरुग्रन्थ वाणी है। तिरंगा अपना कौमी एकता की भी निशानी है । ... Read more

लक्ष्य पर अपनी नज़र को साधना

लक्ष्य पर अपनी नज़र को साधना होगी पूरी भी तभी तो कामना नाम हैं इंसानियत के दूसरे त्याग, संयम,प्रेम और' सद्भावना प्यार ही ... Read more

शिव पर दोहे

बम बम भोले नाथ की,महिमा अपरंपार सच्चे मन से सब करो, उनकी जयजयकार सर पर साजे चंद्रमा, जटा गंग की धार जय त्रिनेत्रधारी शिवा, म... Read more

बस मुझे तुझसे मुहब्बत है तो है

बस मुझे तुझसे मुहब्बत है तो है की जमाने से अदावत है तो है जीना मरना इश्क में ही है मुझे इश्क जो मेरी इबादत है तो है भूलन... Read more