Anuj yadav

Joined March 2017

I am a student in class 11th writing is my hobby. I live pukhrayan in Up

Copy link to share

चल कही दूर चलते है

चल कही दूर चलते हैं सारे गमों को भूल चलते हैं पीपल की छांव मे नील गगन की बाहों में प्रकृति की गोद में ईश्वर की खोज मे सागर की लहरों... Read more

आ मैं तुझे प्यार करूं

आ मैं तुझे प्यार करूं जी भर के तेरा इकरार करूं लिबास बन कर तुझसे लिपट जाऊं आंचल में तेरे सिमट जाऊं धड़कन बनकर तेरे दिल में धड़क जाऊं... Read more

शायरी

Anuj yadav शेर Apr 10, 2017
वक्त पर ना फिसले तो फिसलना बेकार है जवानी निकल गई फिर घर से निकलना बेकार है Anuj yadav mob. 7398621625 Read more

तेरी नजरों का तीर

तेरी नज़रों के तीर ने मेरे दिल पर ऐसा किया पृहार है जब भी आंख मिचता हूं बस तेरी सूरत नजर आती बार-बार है ऐसा हुआ मुझे पहली बार ... Read more

तेरे खातिर इस दुनिया में आना है

तेरे ख्वाबों मुझे अपना आशियाना बनाना है तेरे खातिर ही मुझे दुनिया में आना है तेरी बातों को सारा दिन गुनगुनाना है तेरी आंखो में मु... Read more

तेरी यादें

जब से देखा तुमको मेरा दिल मचल सा गया है तेरे चेहरे का नूर मेरी आंखों में उतर सा गया है तेरी जुदाई मुझे हर पल तड़पाती है जब भी आंख... Read more

जब से देखा तुमको

जब से देखा तुमको मेरा दिल मचल सा गया है तेरे चेहरे का नूर मेरी आंखों में उतर सा गया है तेरे चेहरे की मासूमी मेरे दिल को सताती हैं ... Read more

पढ़े चलो पढ़े चलो

पढ़े चलो पढ़े चलो आगे तुम बढ़े चलो अंधकार की छाया से उजियारे की ओर चलो पढ़ना है अति आवश्यक े इसके बिना नहीं कुछ आवत हिंसा का रास्ता... Read more

21वीं सदी की नारी

21वीं सदी की नारी तू भूल गई है संस्कृति भारत देश कि हमारी अर्ध वस्त्र पहन पहन कर फिरती है गलियारी सीता अनुसुईया और अहिल्या ,जैसी जिस... Read more

मैं अपने शब्दों से तेरी खूबसूरती कैसे बयां करूं

मैं अपने शब्दों से तेरी खूबसूरती कैसे बयां करूं, आईने की तरह तुझे अपने आगे शजा लिया क्या करूं, या फिर देवी की तरह तेरी पूजा किया कर... Read more

एैसा पहली बार हुआ है

एैसा पहली बार हुआ है हमको तुमसे प्यार हुआ है ठंडी हवा के झोका जैसा सागर में तैरती नौका जैसा सावन में बरसती बरखा जैसा तेरा जो यह साथ... Read more

तेरी यादो का सहारा है

अब तो बस तेरी यादो का सहारा है यह दिल तेरे बिन बेसहारा ही बेसहारा है तेरी जुदाई मुझे हर पल तडपाती है जब भी ऑख मिचता हूँ बस तेरी सूरत... Read more

मन में जागी अभिलाषा है

मन में जागी सागर से भी गहरी अभिलाषा है जिसे पूर्ण करने के लिए उत्पन्न हुई एक आशा है मेहनत कर जी तोड़कर यही सफल होने की परिभाषा है इत... Read more

मन को तू मार कर

मन को तो मार कर तन पर प्रहार कर जीवन जीने के लिए कर्तव्य कार्य कर जो तुम पा ना सके उस पर ना वक्त बर्बाद कर मेहनत कर जी तोड़कर उज्जव... Read more