कवयित्री हूँ या नहीं, नहीं जानती पर लिखती हूँ जो मन में आता है !!
Anjneetnijjar222@gmail.com

Copy link to share

सकारात्मक सोच

किसी गाँव में दो साधू रहते थे. वे दिन भर भीख मांगते और मंदिर में पूजा करते थे। एक दिन गाँव में आंधी आ गयी और बहुत जोरों की बारिश होन... Read more

फ़िक्र

ससुर जी के अचानक आ धमकने से बहु रमा तमतमा उठी-लगता है, बूढ़े को पैसों की ज़रूरत आ पड़ी है, वरना यहाँ कौन आने वाला था... अपने पेट का ... Read more

संबंध

"ओह छ:बज गए और माँ ने भी नहीं उठाया।" "इतनी देर तक कैसे सोती रह गई मैं?माँ कहाँ है।"बड़बड़ाती हुई श्रद्धा कमरें से बाहर भागी।रोज की... Read more

जीत

पुरानी साड़ियों के बदले बर्तनों के लिए मोल भाव करती शारदा ने अंततः दो साड़ियों के बदले एक टब पसंद किया। "नही दीदी, बदले में तीन साड... Read more

औरत की जाति

एक आदमी ने महिला से पूछा- तेरी जाति क्या है? महिला ने पूछा : एक मां की या एक महिला की ..? उसने कहा - चल दोनों की बता और मुस्कान ब... Read more

सच्चा प्यार

अरे यार... ये बुढऊ भी 65 साल में सठिया गया है ये देख पेन ड्राइव के जमाने मे VCR मांग रहा है.... अब कहां से लाऊं अभी के अभी... कहता ... Read more

दीवाली

"असली दीवाली " अब आ रही है महारानी.... मैंने तुझसे कहा था ना दीवाली है सफाई करवाउगी .. किचन बेडरूम और ये सभी दीवारों की .... अलग... Read more