I am a freelance writer…

Copy link to share

मुसीबत

सामान बाँध लिया है ए खुदा, बस अब वो जगह तो बता दे कहाँ रहते हैँ वो लोग जो कहीँ के नही रहते... Read more

तुम

मरने की कोई ख्वाहिश नही मेरी, लेकिन बेबस हैँ ए जिन्दगी, कि "तेरे बिन" जी भी तो नही सकते। Read more

तुम्हारी अहमियत

मत पूछा करो हमसे. कि तुम मेरे लिए क्या हो..? दिल के लिए धड़कन जरूरी है, और मेरे लिए तुम। Read more

व्यथा

सूखे पत्तोँ की तरह बिखरा हुआ था मैँ, किसी ने समेटा भी तो केवल जलाने के लिए। Read more

हकीकत

किस्मत के हाथो वही मजबूर होते है हकीकत से जो दूर होते है सजा आज उन्हे मिलती है जो बेकसूर होते है। Read more

झूठ

न जाने कितनी अनकही बाते कितनी हसरते साथ ले जाएँगे लोग झूठ कहते है कि खाली हाथ आए थे खाली हाथ जाएँगे Read more