पूरा नाम – श्रीमती अलका जैन
एक ग्रहणी …. शादी के बाद जिसका लेखन बंद हो गया था पर बेटी के लेखन को देख दुबारा कलम उठायी है !
पति का नाम – डॉ प्रमोद कुमार जैन
पुत्री – जयति जैन ( नूतन/शानू )
पुत्र – पारस जैन (सनी )
पता – बस स्टैंड रानीपुर , जिला -झांसी उ.प्र .

Copy link to share

ज्यों गगन में चान्द चमके...बेटी चमके आंगना में

ज्यों गगन में चान्द चमके बेटी चमके आंगना में बेटिया साडी का आंचल बेटिया आंखों का काजल बेटिया चूडी की खन-खन बेटिया मां का है ... Read more

दर्द-ए-ग़म

दर्द-ए-ग़म = लेखिका- श्रीमति अलका जैन, रानीपुर झांसी 1, गर रोने से दर्दो ग़म का मिटना मुमकिन होता! तो दुखियों के अश्कों में जमा... Read more