AVINASH MEHRA

छिंदवाड़ा

Joined May 2017

छिन्दवाड़ा जिले के डेनियलसन डिग्री कॉलेज से बी.सी.ए की डिग्री प्राप्त उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग मध्य प्रदेश भोपाल में पिछले 11 सालों से कार्यरत व छिन्दवाडा जिले के कार्यालय उप संचालक उद्यान मे तकनीकी सहायक के पद पर कार्यरत ग्रामीण उद्यान विस्तार अधिकारी………..

Copy link to share

मन

कभी-कभी यूं लगता है जैसे, कुछ अधूरा सा हूं मैं। इस गुलिस्तां-ए जहां में, पंछियों की तरह उड़ता फिर रहा।। कभी इस डगर, तो कभी उ... Read more

//राहें जिंदगी//

ज़िंदगी भी बड़ी अजीब है। पल पल लेती ये नए इम्तिहान है।। कभी फूलों सी सुसज्जित, तो कभी कांटो से चुभती सी। राह में कभी मखमल सी मु... Read more

//ख्वाहिश//

ये जो रंजुमन की ख्वाहिश है, जरूरी नहीं की हर बार पूरी ही हो।। कभी कभी इसके पूरे ना होने में भी, एक सुखद का एहसास छिपा होता है। Read more

// एक तेरा होना//

मेरा तुझसे मिलना, मिलकर इतना यूं करीब आ जाना। यूं कोई संयोग तो नही हो सकता।। कोई तो बात है तुझमें, जो यूं खींचा चला आता हॅू ... Read more

//एहसास//

सिर्फ एहसास की पास हो तुम बस, सिर्फ एहसास की नजदीक हो तुम।। अनगिनत लोगो में घबराई हुई।।।। तन पर लगती है चिपकती आंखे, बर्फ से ठंड... Read more

हमसफ़र

रास्ते भले ही हो जुदा जुदा से, मंजिल तो एक है।। कभी हस्ते हुए, तो कभी मुर्झाए से चेहरे लिए, तय करना है ये हमें, जो यह सफर है। कभ... Read more

वो दिन

हमेशा मुस्कुराती हुई, मुस्कुराहट में अपने सारे गम छुपाती हुई, जो है बच्चों सी खिलखिला कर हसने वाली।।।। किसी की एक झलक से कभी खुशनु... Read more

पुरुष का श्रृंगार प्रकृति ने करके भेजा है,उसे श्रृंगार की आवश्यकता नहीं...

*पुरुष का श्रृंगार तो स्वयं प्रकृति ने किया है..* स्त्रियाँ काँच का टुकड़ा हैं..जो मेकअप की रौशनी पड़ने पर ही चमकती हैं.. किन्तु... Read more

स्वतंत्रता दिवस

आज फिर १५ अगस्त है हर कोई आज़ादी के जश्न में मस्त है पुलिस वाले कुछ दिन पहले से ही परेड में व्यस्त है नौकरशाहों और नेताओं का जल... Read more

*एक सैनिक की जुबानी*

.हम दोनों ने 18 की उम्र में घर छोड़ा, तुमने JEE पास की मेने Army के लिए Test पास की तुम्हे IIT मिली, मुझे Army तुमने डिग्र... Read more

सुहाना सा मौसम

वो अचानक से चलती तेज़ हवाऐं। वो तेज़ बिजलियों का चमकना।। मद्धम मद्धम से बारिश का बरसना। वो बारिश के पानी का मिट्ठी को चूमना।। वो आ... Read more

मायके की याद

मायके जाती हूँ तो मेरा ही बैग मुझे चिढ़ाता है, मेहमान हूँ अब ,ये पल पल मुझे बताता है ... माँ कहती है, सामान बैग में डाल लो, हर ... Read more

सुहानी सी एक शाम

वो छुप छुप कर यूँ हमारा मिलना। और वो हमारा संग संग चलना।। कभी हँसना तो कभी मुस्कुराना। यूँ हाथों में एक दुजे हाथ लिए।। कभी डर तो... Read more

लौट रहा है मेरा बचपन

तेरे आने की ये सुगबुगाहट। तेरा यू होने का एक एहसास।। तेरी वो प्यारी सी मासूम अदाएं। तेरी वो हल्की हल्की सी हलचल।। तेरी वो इस जहा... Read more

तेरा शहर ।।

हाथ खाली है तेरे शहर से जाते जाते। जान होती तो मेरी जान लौटाते जाते।। अब तो हर हाथ का पत्थर हमें पहचानता है। उमर गुजरी है मेरी त... Read more

तुम्हारी पहचान ।।

तुम्हारे चेहरे की यह चमक और उसपर तुम्हारी मुस्कान तुम्हारा चंचल मन और अंदर छुपा मासूम सा उज्वन तुम्हारी बेबाक बातें और उनमे छुपा त... Read more

तेरा मेरा नूर

जब से तुम मिले हो तुम ही तुम हर जगह हो मेरे आस पास मेरे चारो ओर हर तरफ बस तुम हो तेरे चेहरे की लालिमा और तेरे चेहरे का ये नूर ते... Read more

तेरे आने से

तुम जबसे मेरे जीवन मे आयी हो जीवन मेरा एक अनजाने से रस से भर गया है तुम जो आयी हो तो एक कमी सी पूरी हुई है आने से तुम्हारे एक दोस... Read more

माँ तुम हो तो ही मैं हुँ।।

माँ तेरे होने से ही मैं हूँ।। जो तू है तो मैं हूँ।। मुझे रोते से वो तेरा हँसाना।। मेरे रूठना और वो तुम्हारा मनाना।। बहुत याद आता... Read more