रवि ठाकुर

Sohagpur, Betul M. P. Cont. 9109854650

Joined October 2018

💖Feel The Words…. 💖

Copy link to share

"मेरा चहेता यार "

उस शख्स की शख्सियत क्या बताऊ तुम्हें...... मेरी दोस्ती का अनमोल नगीना है वो, उसके लिए चेहरा पल में निखर जाता हैl यादों में हरपल... Read more

👣 माँ तो आखिर माँ होती है ...... 👣

माँ....... हर लम्हे की आह में बच्चों की परवरिश होती है, माँ तो आखिर माँ होती है, वो कहाँ किसी की सुनती है !!1!! माँ की ख़ामो... Read more

💖इजहार 💖

ये आवारगी, दादागिरी, मजनू गिरी , हमसे कभी होंगी नहीं, तुमसे सिंपल लड़की भी, ख़्वाबों में मिल सकती नहीं, क्या करें तुम ही बताओ, ... Read more

आहट दिल मे होती है... !!

तेरी चाहत मे डूब के यारा, तुझे ढूंढ रहे शहरो -शहर, तेरी ही आहट होती है , क्यों जाने जा पहरो -पहर ! हर सुबह तेरी चाहत को महसूस क... Read more

ऐ सनम...

तुम ही कह दो अब सनम........ क्यों तुम्हे देख चेहरे पे मुस्कान सी झलकती है, जैसे एक शम्मा की लॉ परवाने को तरसती है! तेरी आँखों ... Read more

कोई कह दे इन हवाओ को.... !

"कोई कह दे इन हवाओ को, कि मेरा चाँद बहुत ही शर्मीला हैं, इतनी कोशिश ना करो......... उसकी चुनरी को उडाने की....... ! ... Read more

वो एक बिजली सी..... !!

वो मेरे दिल के बादल मे, छुपी एक बिजली हैं, उसकी चमक पाते ही ये, दिल- ऐ -बादल जोरों से धड़कता है! वो बिजली -सी ही हैं, जो मेरे ... Read more

दादी की आह... !

नारी ना जाने कितने ही रूपों का संगम है, पुत्री से पत्नी और पत्नी से माँ और माँ से दादी और भी na जाने कितने ही रिश्ते जुड़े होते है l ... Read more

"कुछ रिश्ते होते है "

**कुछ रिश्ते होते है, जिन्हे जरुरत नहीं होती, दुनिया की रिवायतों से सीचने की....... !! Milna - julna, हाथ मिलाना, उठना - बै... Read more

"जाने कैसे ये गुल खिले है...... !"

*****इन दिनों दिलो के उपवन मे, दो फूल मोहब्बत के झूम उठे है, है चाँद नीला, झुकी सी पलके, और ये ग़ुमsum से सिलसिले है, हमें पता ... Read more